दिनेश कुमार माली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ


दिनेश कुमार माली
दिनेश कुमार माली (2).JPG
जन्म9 नवम्बर 1968 (1968-11-09) (आयु 54)
सिरोही, राजस्थान,भारत
व्यवसायआलोचक,लेखक,अनुवादक,खनन अभियंता
भाषाहिन्दी,अंग्रेजी,ओड़िया,संबंलपुरी
राष्ट्रीयताभारतीय
शिक्षाBE(Hons)(Mining),MBA,PGDEE,MA(Hindi)&MA(English)
उच्च शिक्षाMBM Engineering College,Jodhpur
उल्लेखनीय सम्मानभाषा सेतु अलंकरण[1]
जीवनसाथीशीतल माली
सन्तान2 पुत्र (हिमेश साँखला एवं सोमेश साँखला)


दिनेश कुमार माली[संपादित करें]

(जन्म 9 नवंबर 1968 ) लेखक, कवि, ओडिया और अंग्रेजी से हिन्दी में अनुवादक एवं प्रख्यात  आलोचक हैं। 16.04.93 से 2002 तक भूमिगत खदानें जैसेहिंगीर रामपुर कोलियरी(ओड़िशा की सबसे पुरानी खदान), हीराखंड बुँदिया इंकलाइन में कार्यकारी अनुभव तथा 2002 से 2010 तक उच्च उत्पादकता वाली संबलेश्वरी खुली खदान की योजना-परियोजना से संबद्ध तथा साईडिंग के नोडल अधिकारी के रूप में प्रभार ग्रहण किया। मई 2011 से दिसंबर 2016 तक लिंगराज खुली खदान में वरीय प्रबंधक (खनन) के रूप में कार्यरत। दिसंबर 2016 से 2019 तक सामूहिक वृत्तिगत प्रशिक्षण संस्थान,जगन्नाथ क्षेत्र में प्रशिक्षण अधिकारी के रूप में कार्य किया।संप्रति वे भारत  के कोल इंडिया लिमिटेड की अनुषंगी कंपनी ‘महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड’ के जगन्नाथ क्षेत्र में विभागाध्यक्ष (खनन) है। दिनेश कुमार माली ने इग्नू के मानविकी विद्यापीठ की प्रोफेसर नंदिनी साहू के निर्देशन में लोकगीत और सांस्कृतिक अध्ययन के एम.ए. कोर्स में अपने अध्यायों के माध्यम से अकादमिक कार्यक्रम/पाठ्यक्रम तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई हैं। आपके अनुवादों का भारत की विभिन्न भाषाओं में अनुवाद हुआ है। हिन्दी की डॉ सुधीर सक्सेना द्वारा संपादित प्रसिद्ध पत्रिका ‘दुनिया इन दिनों’  के गांधी विशेषांक तथा डॉ राजेश श्रीवास्तव द्वारा संपादित पत्रिका उर्वशी के हलधर नाग विशेषांक के अतिथि संपादक रह चुके है।

वर्तमान पता :- क्वार्टर न॰ सी/34 ,लिंगराज टाउनशिप,पो:-हंडिधुआ,तालचेर, जिला:- अनुगुल (ओड़िशा) 759102

हिन्दी साहित्यकार दिनेश कुमार माली श्री पद्मश्रीहलधर नाग से सम्मानित होते हुए।


हिन्दी साहित्यकार दिनेश कुमार माली श्री आलोचकखगेन्द्र ठाकुर से नवम अंतरराष्ट्रीय हिन्दी सम्मेलन, बीजिंग में सम्मानित होते हुए।

आरंभिक जीवन[संपादित करें]

दिनेश कुमार माली का जन्म 9 नवंबर 1968 में राजस्थान के सिरोही जिले में हुआ। उनके पिता राजस्थान सरकार के सिरोही जिला कोषागार में वरिष्ठ लिपिक थे। दिनेश कुमार माली, उनके चार भाइयों में तीसरे स्थान पर है और उनकी दो छोटी बहनें है।

शिक्षा[संपादित करें]

• बी॰ई॰(आनर्स)(माइनिंग)(1992)(एम॰बी॰एम इंजिनीयरिंग कॉलेज,जोधपुर),

• पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन एकोलोजी एंड एनवायरनमेंट (1996) (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ एकोलोजी एंड एनवायरनमेंट, नई दिल्ली)

• एम॰बी॰ए(ऑपरेशन)(1999), (इन्दिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली)

• एम.ए.(हिंदी)(2017) ),(इन्दिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी ,नई दिल्ली)

• एम॰ए॰(अँग्रेजी) (2019) ),(इन्दिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी ,नई दिल्ली)

• फ़र्स्ट क्लास सर्टिफिकेट ऑफ कोम्पेटेंसी(2000),(खान सुरक्षा महानिदेशालय,धनबाद)

• संघ लोक सेवा आयोग द्वारा उप-निदेशक (खान सुरक्षा) के रूप में चयनित(2007)

• कहानी लेखन महाविद्यालय ( अम्बाला ) से कहानी लेखन का डिप्लोमा

साहित्यिक कैरियर[संपादित करें]

दिनेश कुमार माली ने प्रारंभिक अवस्था से लिखना शुरु कर दिया था। उनकी पहली पुस्तक “न हन्यते” थी, जो उन्होंने अपने पिताजी को श्रद्धांजलि स्वरूप लिखी थी। उनके ओडिया और अंग्रेजी से हिन्दी अनुवाद बहुचर्चित रहे। साथ ही साथ,हिन्दी आलोचना में भी उन्होंने अपना विशिष्ट स्थान बनाया है। उन्होंने हिन्दी के मूर्धन्य कवि उद्भ्रांत, डॉ विमला भण्डारी, प्रभापंत ,अंग्रेजी भाषा की प्रोफेसर नंदिनी साहू तथा पूर्व कोयला सचिव श्री प्रकाश चंद्र पारख की कृतियों पर काम किया है।

पुरुस्कार[संपादित करें]

• कोल इंडिया तथा महानदी कोलफील्ड्स द्वारा राजभाषा सम्मान ,

• भारतीय राजभाषा विकास संस्थान,देहरादून द्वारा आयोजित अखिल भारतीय राजभाषा संगोष्ठी-2011, मदुरै में ‘राजभाषा विशिष्टतासम्मान’तथा ‘विशेष राजभाषा विशिष्टता सम्मान’ द्वारा सम्मानित ।

• चतुर्थ अंतर-राष्ट्रीय हिन्दी सम्मेलन-2011 ,थाईलेंड में सृजन-सम्मान संस्थान, रायपुर द्वारा "सृजन-श्री" से सम्मानित ।

• लखनऊ में आयोजित द्वितीय अंतर-राष्ट्रीय ब्लागर सम्मलेन में वर्ष -२०११ के श्रेष्ठ लेखक (संस्मरण) के लिए तस्लीम -परिकल्पना पुरस्कार से सम्मानित ।

• भारतीय राजभाषा विकास संस्थान,देहरादून द्वारा आयोजित अखिल भारतीय राजभाषा संगोष्ठी -2012,शिमला में पुस्तक "ओड़िया भाषा की प्रतिनिधि कविताएं" पर संस्थान का सर्वोच्च पुरस्कार "भारतेन्दु साहित्य शिरोमणि सम्मान' तथा वैज्ञानिक आलेख पर ‘वैज्ञानिक राजभाषा विशिष्टता सम्मान’ तथा हिन्दी के उन्नयन के लिए ‘विशेष राजभाषा विशिष्टता सम्मान’ द्वारा सम्मानित ।

• तालचेर की साहित्यिक संस्था “आम प्रतिभा आम परिचय” द्वारा सम्मानित

• माहंगा बडचना साहित्य एवं संस्कृति परिषद बालिचन्द्रपुर,जाजपुर द्वारा “अनुसृजन प्रतिभा सम्मान -2014”

• तालचेर की पंजीकृत साहित्यिक संस्था गडजात फाउंडेशन कोयला नगरी एक्सप्रेस द्वारा “साहित्य सारथी सम्मान-2014”

• नौवें अंतर-राष्ट्रीय हिन्दी सम्मेलन-2014 ,बीजिंग,चीन में सृजन-सम्मान संस्थान ,रायपुर द्वारा "सृजनगाथा-सम्मान" से सम्मानित ।

• सलिला संस्था,सलूम्बर (राजस्थान) और राजस्थान साहित्य अकादमी ,उदयपुर द्वारा आयोजित 'राष्ट्रीय बाल साहित्यकार सम्मेलन 2014' में 'सलिला विशिष्ट साहित्यकार सम्मान' से सम्मानित

• एनटीपीसी दीपशिखा,कणिहा,अंगुल द्वारा प्रकाशित त्रैमासिक ओड़िया किशोर पत्रिका चंद्रमा के वार्षिकोत्सव में "चंद्रमा साहित्य सम्मान-2014" से सम्मानित

• साहाण मेला प्रकाशन संस्था,भुवनेश्वर के स्वनक्षत्र उत्सव में "साहाण मेला नंदिघोष सम्मान-2014" से सम्मानित

• तालचेर पुस्तक मेला में "प्रतिभा सम्मान-2018" से सम्मानित

• जयपुर की भव्या फाउंडेशन से साहित्य,शिक्षा और मोटिवेशन के क्षेत्र में ‘इंडियन बेस्टीज अवॉर्ड-2021

• फिरोदाबाद में राष्ट्रीय प्रज्ञा संस्थान द्वारा भाषा सेतु अलंकरण सम्मान -2022

• राय बरेली में पद्मश्री हलधर नाग के अनुवादक के रूप में संवर्धना नवंबर-2022

प्रमुख कृतियाँ[संपादित करें]

ग्रन्थसूची चयनित कार्य

1 “न हन्यते (एक श्रद्धांजलि)’(1998)”,

2. “‘पक्षीवास(ओड़िया उपन्यास का अनुवाद)’(2010)(यश पब्लिकेशन,नई दिल्ली से प्रकाशित)”,

3. ‘रेप तथा अन्य कहानियाँ (ओड़िया कहानियों का अनुवाद)(2011),(राजपाल एंड संस ,नई दिल्ली से प्रकाशित)’,

4. ‘बंद-कमरा(ओड़िया उपन्यास का अनुवाद)(2011),(राजपाल एंड संस, नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित)’

5. ओड़िया भाषा की प्रतिनिधि कविताएं (2011)( यश पब्लिकेशन ,नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित)

6. सरोजिनी साहू की दलित कहानियाँ (2012)( यश पब्लिकेशन्स, नई दिल्ली )

7. जगदीश मोहंती की श्रेष्ठ कहानियाँ (2012 )(बोधि प्रकाशन ,जयपुर से प्रकाशित )

8. ओड़िया भाषा की प्रतिनिधि कहानियाँ (2014)( यश पब्लिकेशन,नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित)

9. चीन में सात दिन(यात्रा-संस्मरण)(2015)

10. बीच में छाया (ओड़िया कहानी-संग्रह का हिन्दी अनुवाद),(2015)

11. अपना-अपना कुरुक्षेत्र (ओड़िया उपन्यास का हिन्दी अनुवाद),(2015)

12. सप्तरंगी सपने(संबलपुरी कविता संग्रह का हिन्दी अनुवाद) (2016)

13. मेरा तालचेर (स्थानीय कविताओं का संग्रह) (ऑनलाइन गाथा,लखनऊ से प्रकाशित)(2016)

14. चकाडोला की ज्यामिति(बिरंचि महापात्रा की कविताएं)(2016)

15. डॉ विमला भंडारी की रचनाधर्मिता (आलोचना पुस्तक)(2016)

16. साहित्यक सफर का एक दशक (समीक्षा-साक्षात्कार-संस्मरण-अनुवाद)(2016)

17. शिखर तक संघर्ष ( पूर्व कोयला सचिव श्री प्रकाश चन्द्र पारख की अँग्रेजी पुस्तक “क्रूसेडर ऑर कोन्स्पिरेटर?” का हिन्दी अनुवाद) (2018)

18. त्रेता: एक सम्यक मूल्यांकन ( हिन्दी के शीर्षस्थ कवि उद्भ्रांत के महाकाव्य त्रेता की आलोचना )(2018)

19. सीमंतिनी (श्री ब्रहमशंकर मिश्रा के ओड़िया कविता संग्रह का हिन्दी अनुवाद)(2018)

20. स्मृतियों में हार्वर्ड (ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित ओड़िया कवि श्री सीताकान्त महापात्र का हिन्दी अनुवाद) (2018)

21. विषादेश्वरी (डॉ सरोजिनी साहू के ओड़िया उपन्यास का हिन्दी अनुवाद)(2018)

22. अमावस्या का चाँद ( बेरिस्टर गोविंद दास के ओड़िया उपन्यास का हिन्दी अनुवाद)(2019)

23. राधामाधव :एक समग्र मूल्यांकन (हिन्दी के शीर्षस्थ कवि उद्भ्रांत के महाकाव्य ‘राधामाधव’ त्रेता की आलोचना )(2019)

24. दो कवि : एक दृष्टि ( ओड़िया कवि डॉ॰ सीताकान्त महापात्र और हिन्दी कवि डॉ॰ सुधीर सक्सेना का तुलनात्मक अध्ययन) (2019)

25. मेरे लिए ओड़िशा (यात्रा-संस्मरण)

26. सीता: महाकाव्य (अँग्रेजी प्रोफेसर डॉ नंदिनी साहू की अँग्रेजी दीर्घ कविता ‘सीता’ का काव्य-रूपान्तरण) (2020)

27. हलधर नाग का काव्य-संसार (संबलपुरी कवि पद्म श्री हलधर नाग की कविताओं का अनुवाद) (2020)

28. महिषासुर का मुंह ( ओड़िया कवि विभूति पटनायक की कहानियों का अनुवाद) (साहित्य अकादमी से प्रकाशित)

29. अनाद्य सूक्त ( हिन्दी कवि उद्भ्रांत की कविता ‘अनाद्य सूक्त’ पर आलोचना ) (नमन पब्लिकेशन्स,दिल्ली )

30. कालजयी ओड़िया कहानियाँ ( ब्लैक ईगल पब्लिकेशन्स, यूएसए से प्रकाशित)

31. मिथकीय सीमा से परे : रुद्रावतार ( हिन्दी कवि उद्भ्रांत की कविता ‘रुद्रावतार’ पर आलोचना ) (अमन पब्लिकेशन्स,कानपुर)

32. झड़ पक्षी के गीत ( ओड़िया कवयित्री शर्मिष्ठा साहू की कविताओं का हिन्दी अनुवाद) (इंडिया नेटबुक्स,नई दिल्ली)

33 . हलधर नाग के लोक-साहित्य पर विमर्श (पांडिचेरी यूनिवर्सिटी के सौजन्य से पांडुलिपि प्रकाशन,नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित)

34 . रामायण प्रसंगों पर आधारित हलधर के काव्य एवं युगीन विमर्श (पांडुलिपि प्रकाशन,नई दिल्ली द्वारा प्रकाशित)

35 . महाभारत प्रसंगों पर आधारित हलधर का काव्य “प्रेम-पहचान” (पांडुलिपि प्रकाशन,नई दिल्ली द्वारा प्रकाश्य)

36 फोकलोर ऑफ कुमायूं (डॉ प्रभापन्त द्वारा संपादित लोककथाओं का अंग्रेजी अनुवाद) (प्रकाशन विभाग,भारत सरकार द्वारा प्रकाश्य)

37. पिता-पुत्र के बीच (प्रोफेसर असीम पाढ़ी की अंग्रेजी कविताओं का हिन्दी अनुवाद) (प्रकाश्य)

38. छाया-प्रतिच्छाया (प्रोफेसर नंदिनी साहू की अंग्रेजी कहानियों का हिन्दी अनुवाद) (प्रलेक द्वारा प्रकाश्य)

39. गीत,आधा-आधा ((प्रोफेसर नंदिनी साहू की अंग्रेजी कविताओं का हिन्दी अनुवाद)( (प्रलेक द्वारा प्रकाश्य)

40. चिड़ियाखाने का चित्र एवं अन्यान्य कहानियाँ ( श्यामाप्रसाद चौधरी की कहानियों का हिन्दी अनुवाद) (प्रकाश्य)

41. सत्यधर्मी गांधी ( प्रोफेसर सुजीत पृसेठ के आलेखों का अनुवाद) (प्रकाश्य)

42. प्रेमार्द्ध शतक ( कुलमनी विस्वाल की कविताओं का हिन्दी अनुवाद) (प्रकाश्य)

43. अंधा कवि (भीम भोई की आत्म-कथा) (उपन्यास) (प्रकाश्य)

44. ब्लाइंड पोएट (औटोबायोग्राफी ऑफ भीमभोई )(उपन्यास) (प्रकाश्य)

45.प्रोफेसर आनंद की महाकविता पर कथोपकथन (प्रकाश्य)

अनुवाद[संपादित करें]

दिनेश कुमार माली की ओड़िया से हिन्दी में अनूदित तीन कृतियों पक्षीवास, विषादेश्वरी, रेप तथा अन्य कहानियों का कन्नड में अनुवाद हुआ है और एक कृति महिषासुर का मुँह का मणिपुरी में । उनकी मूल कृति चीन में सात दिन का प्रख्यात हिन्दी से ओड़िया भाषा की अनुवादिका कनक मंजरी साहू द्वारा ओड़िया में चीनरे सात दिन नामक शीर्षक से अनुवाद हुआ है।


बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

साँचा:Https://newsanchor.in/?p=1716
  1. साँचा:Https://newsanchor.in/?p=1716