दल्हेड़ी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
—  गांव  —
निर्देशांक: (निर्देशांक ढूँढें)
सरपंच
जनसंख्या ४८५० (२०११ के अनुसार )
क्षेत्रफल
ऊँचाई (AMSL)

• २६९ मीटर


दल्हेड़ी भारत के उत्तरप्रदेश राज्य के सहारनपुर ज़िले का एक गांव है। 2011 की जनगणना के अनुसार दल्हेड़ी की जनसंख्या ४८४० है।[कृपया उद्धरण जोड़ें] जानकारी के रूप में दल्हेड़ी गांव का पिनकोड २४७४५२ है।

इतिहास[संपादित करें]

वीरो की भूमि गांव दल्हेड़ी बाबा मोहन सिंह पुंडीर जी के द्वारा लगभग ५०० साल पहले बसाया गया था। श्री मोहन सिंह जी श्री महेश सिंह पुंडीर (गांव महेशपुर) के छोटे भाई थे। बाबा मोहन सिंह पुंडीर जी ने सभी आवश्यक सुविधाओ के साथ गांव की स्थापना की थी। उन्होंने अलग अलग जाती के लोगो को हर सुविधा के साथ गांव में बसाया। गांव चार कालोनी भोजा, फुंसिया, ख़ांडू, और चूहड़ में विभाजित है। जो चार भाई और बाबा मोहन सिंह पुंडीर जी के पुत्र थे।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

भूगोल[संपादित करें]

सहारनपुर से गांव ३३ किमी दुरी पर है। मुजफ्फरनगर से ४४ किमी और शामली से ४८ किमी दुरी पर है। हरयाणा के नजदीकी जिले करनाल और यमुनानगर क्रमस ७७ किमी और ६५ किमी दुरी पर है। देहरादून और हरिद्वार १०२ किमी और ८० किमी पर है। राजधानी दिल्ली से गांव १५६ किमी दुरी पर पड़ता है। अन्य महानगर चंडीगढ़ १६५ किमी , मुम्बई १५८६ किमी , कोलकत्ता १६१५ किमी , चेन्नई २३१७ किमी दुरी पर है। गांव दो राष्टीय राजमार्ग जिनके बिच की दुरी २.५ किमी जहां पर गांव बसा हुआ है। इसलिए यातायात की सुविधा भी अच्छी है। गांव से ननोता रेलवे स्टेसन ७ किमी पर रामपुर मनिहारान रेलवे स्टेसन १० किमी पर और देववृंद रेलवे स्टेसन १८ किमी दुरी पर है। हवाई यातायात सरसावा ४९ किमी और देहरादून से है।

जनजीवन[संपादित करें]

गांव में लगभग सभी जाती के लोग निवास करते हैं। गांव में पुंडीर राजपूत बहुताय में है जो जनसंख्या का लगभग ५०% है जिनका सभी जाती के लोगो से प्रेम भाव है। गांव के कुछ परिवार औसत से बहुत आमिर है, लेकिन ज्यादातर परिवार मध्यम वर्गीय है।

जनसंख्या (सांख्यिकी)[संपादित करें]

गांव दल्हेड़ी ७६३ परिवार का बड़ा गांव है। गांव में हिन्दू (९५%) और मुस्लिम (५%) दोनों धर्म के लोग रहते हैं। दल्हेड़ी गांव की जनसंख्या २०११ की जनगणना के अनुसार ४८५० है, जिनमें से २,५६७ पुरुष और २,२८४ महिलाएं हैं।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

0-६ साल की उम्र के बच्चों की जनसंख्या ६८३ जो गांव की कुल आबादी का १४.०८% है। गांव की औसत लिंग अनुपात ८९० है , जो उत्तर प्रदेश राज्य के औसत ९१२ से कम है, जनगणना के अनुसार दल्हेड़ी गांव का बाल लिंग अनुपात ७८३, उत्तर प्रदेश के औसत ९०२ से कम है। अनुसूचित जाति (एससी) गांव में कुल आबादी का २३.६५% है।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

भाषा[संपादित करें]

हिंदी भाषा मुख्य भाषा है। संस्कृत, पंजाबी और उर्दू भी अल्पतम में बोली जाती है।

त्यौहार[संपादित करें]

गांव के मुख्य त्यौहार होली, दीपावली, दशहरा, रक्षा बंधन, भैया दूज है। कुछ त्यौहार जैसे होइ अष्टमी, शिव रात्रि, रविदास जयंती, आदि अन्य त्यौहार हैं।

व्यवसाय[संपादित करें]

मुख्य रूप से कृषि, शिक्षण, खुद के व्यवसाय पर निर्भर है। लोग सरकारी, अर्ध सरकारी और गैर सरकारी क्षेत्र में भी बहुतायत में है। लेकिन मुख्य व्यवसाय कृषि है।

संस्क्रति[संपादित करें]

शिक्षा[संपादित करें]

दल्हेड़ी गांव की उच्च साक्षरता दर है। जो २०११ की जनगणना के अनुसार उत्तेर प्रदेश की साक्षरता दर ६७.६८% की तुलना में ७३.३९% थी। दल्हेड़ी में पुरुष साक्षरता ८१.६३% थी, जबकि महिला साक्षरता दर ६४.२६ थी।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

गांव में एक इण्टर कालेज एक जूनियर हाई स्कुल और दो गुरुकुल है।

प्रमुख स्थल[संपादित करें]

शिव मंदिर, काली माता मंदिर, भुमिया खेड़ा, गोगा जी महड़ी, बाबा बिसम्बर नाथ मंदिर, गोरा मंदिर, गुरु रविदास मंदिर, गुरुकुल आदि।

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]