दर्पण परीक्षण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
दर्पण में देखता एक बबून

दर्पण परीक्षण, निशान परीक्षण या दर्पण आत्म-पहचान परीक्षण 1970 में मनोवैज्ञानिक गॉर्डोन जी॰ गैल्लप जूनियर द्वारा विकसित किया गया मनोवैज्ञानिक परीक्षण है। इसका प्रयोग यह जानने के लिए किया जाता है कि क्या किसी गैर-मानव प्राणी में आत्म-पहचान की योगयता है या नहीं।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Gallup, GG Jr. (1970). "Chimpanzees: Self recognition". Science 167: 86–87. Bibcode 1970Sci...167...86G. doi:10.1126/science.167.3914.86. PMID issue=3914 4982211 issue=3914. 


इन्हें भी देखें[संपादित करें]