दक्षिण कोरिया में शिक्षा-व्यवस्था

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
दक्षिण कोरिया में शिक्षा
Flag of South Korea.svg
शिक्षा मंत्रालय (दक्षिण कोरिया)
National education budget (2015)
बजट 5.1% GDP[1]
सामान्य विवरण
प्राथमिक भाषा कोरियाई
साक्षरता
कुल 99.9%
पुरुष 99.9%
महिला 99.9%
प्राथमिक 33 लाख[2]
माध्यमिक 40 लाख
Post secondary 36 लाख
Attainment
Secondary diploma 98.0%[3][4][5]
उत्तर माध्यमिक डिप्लोमा 69.8%[3][6][7]

दक्षिण कोरिया में शिक्षा सार्वजनिक स्कूलों और निजी स्कूलों दोनों द्वारा प्रदान की जाती है। दोनों प्रकार के स्कूल सरकार से धनराशि प्राप्त करते हैं, हालांकि निजी स्कूलों को मिलने वाली राशि राजकीय स्कूलों की राशि से कम होती है। [8] हाल के वर्षों में, पूर्णतः अंग्रेजी शिक्षण वातावरण योजना को अपनाने के लिए इंचियोन ग्लोबल कैंपस [9] ( स्टार्ट-अप सपोर्ट के साथ) [10] स्टार्टअप शुरू हुआ है, और योनसे यूनिवर्सिटी ने एक अंतरराष्ट्रीय कॉलेज खोला है।[11]

दक्षिण कोरिया साक्षरता, गणित और विज्ञान पढ़ने में अव्वल रहने वाले ओईसीडी देशों (जिसके अधिकतर सदस्य सम्पन्न-विकसित राष्ट्र हैं) में से एक है। जहाँ कोरियाई छात्रों का औसत स्कोर 519 है, OECD देशों का औसत 493 है, और इसी के साथ दक्षिण कोरिया दुनिया में नौवें स्थान पर हैं। [12] [13] देश की श्रम-शक्ति (लेबरफ़ोर्स) सभी OECD देशों की तुलना में दुनिया में सबसे अधिक शिक्षित है। [14] [15] देश शिक्षा के प्रति अपने जुनून के लिए जाना जाता है, जिसे "शिक्षा बुखार" (education fever) कहा जाने लगा है। [16] [17] [18] देश में संसाधनों की कमी के चलते कोरियाई लोगों ने शिक्षा पर ज़ोर दिया और इसी का परिणाम है कि उनका देश विश्व में शिक्षा में शीर्ष पर पहुँच गया है।

समाज की भूमिका[संपादित करें]

उच्च शिक्षा देश के समाज में एक गंभीर मुद्दा है, जहां इसे दक्षिण कोरियाई जीवन के मूलभूत आधार के रूप में देखा जाता है। दक्षिण कोरियाई परिवारों में शिक्षा को उच्च प्राथमिकता दी जाती है, क्योंकि वहाँ सामाजिक-आर्थिकरूप से आगे बढ़ने के लिए शैक्षणिक सफलता अनिवार्य है। [19][20]शैक्षणिक सफलता अक्सर परिवारों के लिए और दक्षिण कोरियाई समाज में बड़े पैमाने पर गर्व का स्रोत है। दक्षिण कोरियाई लोग शिक्षा को अपने और अपने परिवार के लिए सामाजिक गतिशीलता के मुख्य प्रस्तावक के रूप में देखते हैं जो वहाँ निर्धन लोगों के लिए मध्य वर्ग का प्रवेश द्वार है। एक शीर्ष विश्वविद्यालय से स्नातक प्रतिष्ठा, उच्च सामाजिक आर्थिक स्थिति, शादी की बेहतर संभावनाओं का वादा, और एक सम्मानजनक कैरियर मार्ग लेकर आता है। [21]एक औसत दक्षिण कोरियाई बच्चे का जीवन पढ़ाई के इर्द-गिर्द घूमता है क्योंकि अकादमिक रूप से सफल होने का दबाव दक्षिण कोरियाई बच्चों में कम उम्र से ही गहरा होता है। जो लोग औपचारिक विश्वविद्यालय शिक्षा ग्रहण नहीं करते, समाज उन्हें कम आंकता है। [22]

प्रभाव[संपादित करें]

अर्थव्यवस्था पर[संपादित करें]

1950 में कोरियाई युद्ध के समय, दक्षिण कोरिया का आम नागरिक लगभग एक आम भारतीय जितना ही कमा पाता था। केवल 45 साल में दक्षिण कोरियाई प्रति व्यक्ति आय भारत से आठ गुना से भी अधिक हो गई।
दक्षिण कोरिया की अर्थव्यवस्था लगभग अविरल रूप से बढ़ती रही और मात्र पचास वर्षों के दौरान शून्य से एक खरब डॉलर वाली अर्थव्यवस्था बन गई।

2016 में, देश ने अपने सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 5.4% शिक्षा के सभी स्तरों पर खर्च किया - जो ओईसीडी औसत से लगभग 0.4 प्रतिशत अंक अधिक है।[23] (तुलना के लिए: भारत ने 2018 में अपना 3.8% GDP शिक्षा पर ख़र्च किया[24]) शिक्षा में एक मजबूत निवेश, सफलता के लिए एक जुनूनी अभियान, साथ ही उत्कृष्टता के लिए जुनून के चलते इस संसाधन-निर्धन देश के लोग अपनी अर्थव्यवस्था को पिछले 60 वर्षों में युद्धग्रस्त बंजर भूमि से विश्व का एक शक्तिशाली देश बनने के लिए तेजी से बढ़ने में मदद की है। [25]

समाज पर[संपादित करें]

शिक्षा के लिए दक्षिण कोरिया का उत्साह और एक प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय में प्रवेश पाने की उसकी छात्रों की इच्छा दुनिया में सबसे अधिक है, क्योंकि शीर्ष स्तरीय उच्च शिक्षण संस्थान में प्रवेश एक प्रतिष्ठित, सुरक्षित और अच्छी तरह से भुगतान किए गए पेशेवर सफेद कॉलर नौकरी की ओर जाता है- जैसे सरकार, बैंक, या कोई प्रमुख दक्षिण कोरियाई समूह जैसे सैमसंग, हुंडई और एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स[26] हाई स्कूल के छात्रों पर देश के सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालयों में सुरक्षित स्थानों पर अविश्वसनीय दबाव के साथ, इसकी संस्थागत प्रतिष्ठा और पूर्व छात्र नेटवर्क भविष्य की कैरियर की संभावनाओं के प्रबल भविष्यवक्ता हैं। दक्षिण कोरिया के शीर्ष तीन विश्वविद्यालय, जिन्हें अक्सर "SKY" कहा जाता है, सियोल नेशनल यूनिवर्सिटी, कोरिया विश्वविद्यालय और योनसे विश्वविद्यालय हैं। [27][28] उच्चतम ग्रेड अर्जित करने के लिए गहन प्रतिस्पर्धा और दबाव कम उम्र में दक्षिण कोरियाई छात्रों के मानस में गहरा है। [28]फिर भी विश्वविद्यालयों में सीमित स्थानों पर और यहां तक कि शीर्ष स्तरीय कंपनियों में कम स्थानों के होने के चलते, कई युवा लोग निराश रहते हैं और अधिक पढ़ाई के बावजूद मनवांछित कॉलेज या नौकरी न मिल पाने के कारण अक्सर हीन-भावना का शिकार हो जाते हैं। दक्षिण कोरियाई समाज में एक प्रमुख सांस्कृतिक वर्जना है, कि जिन लोगों ने औपचारिक विश्वविद्यालय शिक्षा हासिल नहीं की है, उन्हें दूसरों से नीचा देखा जाता है, जिसके परिणामस्वरूप उन्हें रोजगार, सामाजिक आर्थिक स्थिति में सुधार और शादी के लिए संभावनाओँ के अवसर कम मिलते हैं। [29]

अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया[संपादित करें]

दक्षिण कोरियाई शिक्षा प्रणाली को मिली-जुली अंतर्राष्ट्रीय प्रतिक्रिया मिली है। तुलनात्मक रूप से उच्च परीक्षण के परिणामों और दुनिया के सबसे शिक्षित कार्यक्षेत्रों में से एक को बनाने में इसकी प्रमुख भूमिका, जिसके कारण दक्षिण कोरिया का आर्थिक विकास का चमत्कार सम्भव हो पाया- इन विभिन्न कारणों के लिए इसकी प्रशंसा की गई है। [30]

दक्षिण कोरिया के उल्लेखनीय शैक्षणिक प्रदर्शन ने ब्रिटिश शिक्षा मंत्रियों को सक्रिय रूप से अपने स्वयं के पाठ्यक्रम को फिर से तैयार किया है और कोरिया के उग्रवादी अभियान और उत्कृष्टता और उच्च शैक्षिक उपलब्धि के लिए जुनून का अनुकरण करने की कोशिश की है। [30]

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी देश की कठोर स्कूल प्रणाली की प्रशंसा की है, जहां दक्षिण कोरियाई हाई स्कूल के 80 प्रतिशत से अधिक स्नातक विश्वविद्यालय जाते हैं। [31] राष्ट्र की कठिन विश्वविद्यालय प्रवेश दर ने दक्षिण कोरिया को दुनिया के सबसे उच्च शिक्षित देशों में से एक उच्च कुशल कार्यबल बनाया है, जो अपने नागरिकों के उच्चतम स्तर पर तृतीयक शिक्षा की डिग्री प्रदान करता है। तृतीयक शिक्षा में 2017 में, देश ने 25 से 64 वर्ष के लोगों के लिए पांचवें स्थान पर रहा, जिन्होंने 47.7 प्रतिशत के साथ तृतीयक शिक्षा प्राप्त की है। २५ से ३४ वर्ष की आयु के दक्षिण कोरियाई लोगों में से ६ प्रतिशत ने तृतीयक शिक्षा का कोई न कोई रूप पूरा किया है, २५ से ६४ आयु वर्ग के दक्षिण कोरियाई लोगों ने २५ से ६४ वर्ष की आयु में स्नातक की डिग्री प्राप्त की है जो ओईसीडी देशों में सबसे अधिक है।

आलोचना[संपादित करें]

सिस्टम की कठोर और पदानुक्रमित संरचना की आलोचना रचनात्मकता और नवीनता का दम घोंटने के लिए की गई है।[32][33] देश में शिक्षा में होने वाली प्रतिस्पर्धा तीव्रता से और "क्रूरता से" परिभाषित की जाती है। [34]वहाँ की शिक्षा प्रणाली को अक्सर दक्षिण कोरिया में उच्च आत्महत्या दर के लिए दोषी ठहराया जाता है, विशेष रूप से १०-१९ आयु वर्ग के लोगों के बीच बढ़ती दर के लिए। विभिन्न मीडिया आउटलेट देश की कॉलेज प्रवेश परीक्षाओं को लेकर आसपास राष्ट्रव्यापी चिंता को देश की उच्च आत्महत्या दर का कारण बनते हैं, जो छात्रों के संपूर्ण जीवन और करियर के भविष्य का निर्धारण करते हैं। [35][36] दक्षिण कोरिया के पूर्व शिक्षक से- वूंग कू ने लिखा है कि दक्षिण कोरियाई शिक्षा प्रणाली बाल दुर्व्यवहार के समान है और बिना किसी देरी के इसका "सुधार और पुनर्गठन" किया जाना चाहिए। [37] एक अशिक्षित-किंतु-बेरोजगार श्रम-शक्ति बनाने वाले विश्वविद्यालय के स्नातकों की आवश्यकता से अधिक आपूर्ति करने के लिए प्रणाली की आलोचना की गई है- अकेले 2013 की पहली तिमाही में, लगभग 33 लाख दक्षिण कोरियाई विश्वविद्यालय के स्नातक बेरोजगार थे, जिनमें से कई लोग इसलिए नौकरी से वंचित रह गए क्योंकि वे आवश्यकता से अधिक शिक्षित थे। [38] विभिन्न कुशल ब्लू-कॉलर श्रम और वोकेशनल करियर में श्रमियों की कमी के कारण आगे की आलोचना की गई है, जहां वोकेशनल करियर से जुड़े नकारात्मक सामाजिक कलंक के कारण कई लोग काम करना नहीं चाहते हैं और विश्वविद्यालय की डिग्री नहीं होने के कारण हीन भावना की दक्षिण कोरियाई समाज में गहरी जड़ें बनी हुई हैं। [39][40][41][42][43][44][45][46]

यह सभी देखें[संपादित करें]

  • उत्तर कोरिया में शिक्षा
  • गिफ्टेड एजुकेशन # कोरिया गणराज्य
  • सियोल मेट्रोपॉलिटन ऑफ़िस एजुकेशन
  • दक्षिण कोरिया में छात्र और विश्वविद्यालय की संस्कृति

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Korea (Republic of)". United Nations Development Programme. अभिगमन तिथि December 5, 2018.
  2. Clark, Nick; Park, Hanna (1 June 2013). "Education in South Korea". World Education News & Reviews. अभिगमन तिथि 25 June 2015.
  3. "Korea". OECD.
  4. "International Educational Attainment" (PDF). OECD. पृ॰ 4.
  5. "International Educational Attainment" (PDF). पृ॰ 4. अभिगमन तिथि 27 August 2019.
  6. "Korea" (PDF). OECD.
  7. "Educational attainment and labour-force status". OECD.
  8. "South Korea". National Center On Education and The Economy. अभिगमन तिथि December 4, 2013.
  9. "IGC Incheon Global Campus". www.igc.or.kr.
  10. "IGC Incheon Global Campus - Universities > Research Institutions > Global Startup Campus". www.igc.or.kr.
  11. "Underwood International College". Uic.yonsei.ac.kr. अभिगमन तिथि 2019-09-03.
  12. "PISA - Results in Focus" (PDF). OECD. पृ॰ 5.
  13. "Korea - Student performance (PISA 2015)". OECD.
  14. "What the world can learn from the latest PISA test results". 10 December 2016.
  15. "Education OECD Better Life". OECD. मूल से 31 May 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 29 May 2016.
  16. Ripley, Amanda (25 September 2011). "South Korea: Kids, Stop Studying So Hard!".
  17. Habibi, Nader (11 December 2015). "The overeducated generation".
  18. Cobbold, Trevor (November 14, 2013). "South Korea's Education Success Has a Dark Side".
  19. Lee, Ji-Yeon (September 26, 2014). "Vocational Education and Training in Korea: Achieving the Enhancement of National Competitiveness" (PDF). KRIVET. KRIVET. मूल (PDF) से December 20, 2016 को पुरालेखित.
  20. Strother, Jason (10 November 2012). "Drive for education drives South Korean families into the red".
  21. "South Korean education ranks high, but it's the kids who pay". March 30, 2015.
  22. Na Jeong-ju (23 May 2012). "Meister schools fight social prejudice". The Korea Times. अभिगमन तिथि 15 July 2016.
  23. "Korea" (PDF).
  24. "भारत".
  25. "High performance, high pressure in South Korea's education system". ICEF Monitor. 23 January 2014. अभिगमन तिथि 29 May 2016.
  26. "South Koreans Consider The Trades Over University Education". Public Radio International.
  27. David Santandreu Calonge (March 30, 2015). "South Korean education ranks high, but it's the kids who pay". अभिगमन तिथि 3 July 2015.
  28. WeAreTeachers Staff. "South Korea's School Success". WeAreTeachers. मूल से 5 July 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 July 2015.
  29. "Korea Awash with the Under-Skilled and Overeducated". Chosun. 8 December 2011. अभिगमन तिथि 23 October 2016.
  30. Reeta Chakrabarti (2 December 2013). "South Korea's schools: Long days, high results". BBC. अभिगमन तिथि 28 October 2016.
  31. "The Pressures of the South Korean Education System". April 20, 2013.
  32. "South Korean students wracked with stress". 8 December 2013.
  33. Ripley, Amanda (September 25, 2011). "Teacher, Leave Those Kids Alone". Time Inc. अभिगमन तिथि December 4, 2013.
  34. Thomas, Tanya (27 April 2010). "Intensely Competitive Education In South Korea Leads to Education Fever". Medindia. अभिगमन तिथि December 4, 2013.
  35. "The All-Work, No-Play Culture Of South Korean Education". April 15, 2015.
  36. Janda, Michael (October 22, 2013). "Korea's Rigorous Education System Has Delivered Growth, but It is Literally Killing the Country's Youth". ABC. अभिगमन तिथि December 4, 2013.
  37. Koo, Se-Woong (August 1, 2014). "An Assault Upon Our Children". The New York Times. अभिगमन तिथि August 19, 2015.
  38. "The Chosun Ilbo (English Edition): Daily News from Korea - Over 3 Million Highly Educated People Unemployed". chosun.com.
  39. Na Jeong-ju (23 May 2012). "Meister schools fight social prejudice". The Korea Times. अभिगमन तिथि 15 July 2016.
  40. "Lee calls for end to prejudices against non-college graduates". Yonhap. अभिगमन तिथि October 2, 2016.
  41. Na Jeong-ju (May 23, 2012). "Meister schools fight social prejudice". The Korea Times. अभिगमन तिथि July 15, 2016.
  42. "S Korea's vocational education needs to tackle its shortcomings". The Nation. January 6, 2014.
  43. Ju-min Park. "Bleak job prospects drive South Korean youth to vocational schools". Reuters. अभिगमन तिथि May 29, 2016.
  44. "Lee calls for end to prejudices against non-college graduates". Yonhap. अभिगमन तिथि 2 October 2016.
  45. Horn, Michael B. (14 March 2014). "Meister of Korean school reform: A conversation with Lee Ju-Ho". मूल से 24 September 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 29 May 2016.
  46. "South Koreans Consider The Trades Over University Education". Global Politic. 18 November 2011. अभिगमन तिथि 29 May 2016.

आगे की पढाई[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]