थेल्स का प्रमेय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
यदि AC वृत्त का व्यास हो तो कोण ABC हमेशा 90 डिग्री होगा।

ज्यामिति में थेल्स के प्रमेय (Thales' theorem) के अनुसार किसी भी वृत्त के परिधि पर स्थित तीन बिन्दुओं A, B तथा C हो तो कोण ABC का मान ९० अंश होगा यदि AC उस वृत्त का कोई व्यास हो। यह प्रमेय 'अन्तःनिर्मित कोण प्रमेय' (inscribed angle theorem) का एक विशेष रूप है। प्रायः इस प्रमेय के खोज का श्रेय थेल्स को दिया जाता है किन्तु कभी-कभी पाइथागोरस को भी इसका आविष्कारकर्ता माना जाता है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]