त्रैलोक्यनाथ मुखोपाध्याय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Troilokkonath.jpg

त्रैलोक्यनाथ मुखोपाध्याय (२२ जुलाई, १८४७ - ३ नवम्बर, १९१९) एक बांग्ला साहित्यकार थे। बांग्ला साहित्य के इतिहास में ब्यङ्ग्यकार के रूप में उनकी पहचान है।

मातृभाषा बांग्ला के अलावा वे फारसी, ओड़िया इत्यादि कई अन्य भाषाओं में भी दक्ष थे। उनके द्वारा रचित ग्रन्थों में 'कङ्काबती', 'भूत ओ मानुष', 'फोकला दिगम्बर', 'डमरु चरित इत्यादि उल्लेखयोग्य हैं। अंग्रेजी भाषा में भी उन्होने कई प्रबन्ध ग्रन्थ रचे।

ग्रन्थतालिका[संपादित करें]

  • फोकला दिगम्बर
  • पापेर परिणाम
  • डमरु-चरित
  • बाङ्गाल निधिराम
  • बीरबाला
  • लुल्लु
  • नयनचाँदेर ब्यबसा
  • कङ्काबती
  • सोना करा यादुगरेर गल्प
  • भानुमती ओ रुस्तम
  • जापानेर उपकथा
  • पूजार भूत
  • पिठे-पार्बने चीने भूत
  • बिद्याधरीर अरुची
  • मेघेर कोले झिकिमिकि सती हासे फिकिफिकि
  • एक ठेङो-छकु
  • मुक्ता-माला
  • ए डेसक्रिपटिव कैटालॉग आफ प्रोडाक्ट्स
  • ए हैन्डबुक आफ इन्डियन प्रोडाक्ट्स
  • ए लिस्ट आफ इन्डिय इकनामिक प्रोडाक्ट्स