त्रिरत्न्

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
प्रमुख बौद्ध चिह्नः श्रीवत्स त्रिरत्न् के साथ, दोनों एक चक्र के ऊपर मण्डित हैं व चक्र एक तोरण के ऊपर बना है

बौद्ध धर्म[संपादित करें]

  • बौद्ध धर्म के त्रिरत्न हैं - बुद्ध, धम्म और संघ
    • बुद्ध - जो संम्यक संबुद्ध है, जागृत एवं महाज्ञानी है।
    • धम्म - जो बुद्ध की शिक्षाएं है
    • संघ - बौद्ध भिक्षु एवं बौद्ध उपासको का संघटन

जैन धर्म[संपादित करें]

  • जैन धर्म के अनुसार त्रिरत्न हैं- सम्यक् ज्ञान, सम्यक् दर्शन एवं सम्यक् आचरण।
  • स्यादवाद निग्रंथ पंच महाव्रत जैन धर्म से सम्बन्धित है।

स्रोत[संपादित करें]