त्रिकोण तारामंडल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
त्रिकोण तारामंडल

त्रिकोण या ट्राऐंगुलम (अंग्रेज़ी: Triangulum) खगोलीय गोले के उत्तरी भाग में स्थित एक छोटा-सा तारामंडल है जो अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ द्वारा जारी की गई ८८ तारामंडलों की सूची में शामिल है। दूसरी शताब्दी ईसवी में टॉलमी ने जिन ४८ तारामंडलों की सूची बनाई थी यह उनमें भी शामिल था। इसका नाम इसके तीन सबसे रोशन तारों से आता है जिनको कालपनिक लकीरों से जोड़ने से एक पतला सा समद्विबाहु (आसोसिलीज़) त्रिकोण बनता है।

तारे[संपादित करें]

त्रिकोण तारामंडल में १५ तारे हैं जिन्हें बायर नाम दिए जा चुके हैं। इनमें से एक के इर्द-गिर्द ग़ैर-सौरीय ग्रह परिक्रमा करता हुआ पाया गया है। इस तारामंडल का सब से रोशन तारा बेटा ट्राऐंगुलाए (β Trianguli) नाम का एक सफ़ेद दानव तारा है जिसका एक धुंधला-सा साथी तारा भी है। इसका दूसरा सब से रोशन तारा अल्फ़ा ट्राऐंगुलाए (α Trianguli) नामक सफ़ेद-पीला महादानव तारा है और इसका भी एक नज़दीकी साथी तारा है। त्रिकोण तारामंडल का तीसरा सब से रोशन तारा ६ ट्राऐंगुलाए (6 Trianguli) है जो मध्यम-शक्ति की दूरबीन से देखने पर एक दोहरा तारा (एक पीला और एक नीला) ज्ञात होता है। वास्तव में इसके दोनों तारे स्वयं द्वितारे हैं।[1]

तारों के अलावा, त्रिकोण तारामंडल के क्षेत्र में कुछ अन्य दिलचस्प खगोलीय वस्तुएँ भी हैं, जिनमें ट्राऐन्गुलम गैलेक्सी शामिल है। यह सर्पिल (स्पाइरल) गैलेक्सी पृथ्वी से लगभग ३० लाख प्रकाश-वर्ष दूर है और आकाशगंगा (हमारी गैलेक्सी) के साथ स्थानीय समूह का हिस्सा है। इस तारामंडल में कई अन्य गैलेक्सियाँ भी दिखती हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Robert Burnham, Jr (1978). Burnham's Celestial Handbook, Dover Publications, New York. ISBN 0-486-24065-7