तुन्गुसी लोग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
सन् १९१५ में खींची गई कुछ मान्छु लोगों की तस्वीर
तुन्गुसी भाषाओँ के फैलाव का नक़्शा

तुन्गुसी लोग उत्तर-पूर्वी एशिया की उन जातियों को कहा जाता है जिनकी मातृभाषा तुन्गुसी भाषा-परिवार की सदस्य हो। यह लोग साइबेरिया, मंचूरिया, कोरिया और मंगोलिया के क्षेत्रों में पाए जाते हैं, हालांकि कुछ तुन्गुसी समुदाय इस क्षेत्र से भाहर भी मौजूद हैं। इनका नाम साइबेरिया के 'तुंगुस्का' नामक एक इलाक़े से पड़ा है।[1][2]

जातियाँ[संपादित करें]

तुन्गुसी लोगों की कुछ जातियाँ यह हैं:

  • एवेंक लोग
  • एवेन लोग
  • कोरियाई लोग
  • जुरचेन लोग (जो मान्छु लोगों का १६वीं सदी से पहले नाम हुआ करता था)
  • मान्छु लोग
  • नेगिदाल लोग
  • नानी लोग
  • ओरोच लोग
  • ओरोक लोग
  • ओरोचेन लोग
  • उदेख़े लोग (जिन्हें 'उदेगे लोग' भी कहा जाता है)
  • उल्च लोग
  • शिबे लोग, जो शिनजियांग प्रांत में बसने वाली मान्छु लोगों की एक शाखा है

इन सब में मान्छु लोगों का समुदाय सब से बड़ा है और इनकी आबादी लगभग १ करोड़ है।

कुछ चुनिंदा चित्र[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. The peoples of the USSR: an ethnographic handbook, Ronald Wixman, M.E. Sharpe, 1984, ISBN 978-0-87332-506-6, ... Tungusic Peoples Col. des. for the peoples who speak languages that belong to the Tungusic division of the Tunguso-Manchu branch of the Uralo-Altaic language family ...
  2. Lectures on the science of language: delivered at the Royal Institution of Great Britain, Friedrich Max Müller, Longmans Green, 1866, ... Tungusic Class. The Tungusic branch extends from China northward to Siberia and westward to 113°, where the river Tunguska partly marks its frontier. The Tungusic tribes in Eastern Siberia are under Russian sway ...