तुग़लक़शाह

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ग़यासुद्दीन तुग़लक़ द्वितीय को 1389 ई. में फ़िरोज शाह तुग़लक़ की मृत्यु के बाद दिल्ली के सिंहासन पर बैठाया गया। ग़यासुद्दीन द्वितीय को तुग़लक़शाह के नाम से भी जाना जाता है। ग़यासुद्दीन तुग़लक़ द्वितीय, फ़िरोज शाह तुग़लक़ के पुत्र फ़तेह ख़ाँ का पुत्र था। इसकी विलासी प्रवृति के कारण असंतुष्ट सरदारों ने उसकी हत्या कर दी। बाद में फ़िरोज शाह तुग़लक़ के पौत्र जफ़र खाँ के पुत्र अबूबक्र को फ़रवरी, 1389 में दिल्ली सल्तनत का सुल्तान बनाया।