तिब्बती साहित्य

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
राजा गेसर का चित्र

तिब्बती साहित्य से तात्पर्य तिब्बती भाषा में लिखे गये साहित्य से है। तिब्बती संस्कृति से उद्भूत साहित्य को भी 'तिब्बती साहित्य' ही कहते हैं। ऐतिहासिक रूप से तिब्बती भाषा का उपयोग कई क्षेत्रों को परस्पर जोड़ने वाली भाषा के रूप में हुआ है। इसने विभिन्न कालों में तिब्बत से मंगोलिया को, रूस, आज के भूटान, नेपाल, भारत त्था पाकिस्तान को जोडने का कार्य किया है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]