ताराबाई मोडक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ताराबाई मोडक (१९ अप्रैल १९७२-१९७३) का जन्म मुंबई में हुआ था।[1] उन्होंने १९१४ में मुंबई विश्वविद्यालय से स्नातक किया। उनकी शादी श्री मोडक से हुए जो एक वकील थे और बाद में उन्हें १९२१ में उनसे तलाक ले लिया। उन्होंने राजकोट में महिला कॉलेज के प्रिंसिपल के रूप में काम किया। पूर्वस्कूली शिक्षा में उनके काम के लिए उन्हें १९६२ में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।[2] वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य थे। उनके जीवन पर आधारित एक नाटक बनाया गया,'घर तेघांचा हावा' रत्नाकर मतकारी द्वारा निर्मित किया गया था।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Sena, Maharashtra Navnirman (2009). "Tarabai Modak: India's 'Montessori' and the country's first pre-schooling expert". मूल से 27 Sep 2010 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 October 2010.
  2. "Padma Awards" (PDF). Ministry of Home Affairs, Government of India. 2015. अभिगमन तिथि July 21, 2015.
  3. Rubin, Don (1998). The World Encyclopedia of Contemporary Theatre: Asia. Taylor & Francis. पृ॰ 197. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-415-05933-6. अभिगमन तिथि 16 October 2010.