तल मार्जन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
ताँबे का विद्युतलेपन

तल मार्जन (Surface finishing) उन अनेकों प्रकार की औद्योगिक प्रक्रियाओं को कहते हैं जो किसी उत्पाद के सतह को इस प्रकार से बदल देता है जिससे कोई वांछित गुण प्राप्त हो जाय। मार्जन की क्रिया निम्नलिखित गुणों की प्राप्ति के लिये की जा सकती है-

  • रूप (दर्शनीयता) बदलने के लिये
  • आसंजन ( adhesion) या आर्द्रणीयता (wettability) बढ़ाने के लिये
  • सोल्डरनीयता बढ़ाने के लिये,
  • संक्षारण प्रतिरोध (corrosion resistance) बढ़ाने ले लिये
  • बदरंग होने से रोकने के लिये (tarnish resistance)
  • रासायनिक प्रतिरोध बढ़ाने के लिये
  • घिसन प्रतिरोध (wear resistance) बढ़ाने के लिये
  • कठोरता के लिये
  • वैद्युत चालकता बढ़ने के लिये
  • बर (burrs) हटाने तथा सतह-संबन्धी अन्य त्रुटियों को दूर करने हेतु
  • घर्षण कम करने हेतु।

प्रमुख प्रक्रम[संपादित करें]

कुछ जोड़ना या बदलना[संपादित करें]

कुछ हटाना या पुनर्रूपण (Removing and reshaping)[संपादित करें]

यांत्रिक मार्जन[संपादित करें]

Mechanical finishing processes include:[1]

  • Abrasive blasting
    • Sandblasting
  • Burnishing
  • Grinding
  • Mass finishing processes
    • Tumble finishing
    • Vibratory finishing
  • Polishing
    • Buffing
    • Lapping

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. How Polishing, Buffing & Burnishing Work, अभिगमन तिथि 2009-01-15.