तरकशास्त्र (भारतीय दर्शन)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

भारतीय दर्शन के सन्दर्भ में तर्कशास्त्र ज्ञान की प्रकृति, स्रोत तथा वैधता का विश्लेषण करने वाला विज्ञान है। तर्कशास्त्र डायलेक्टिक्स, लॉजिक, रीजनिंग और शास्त्रार्थ (डिबेट) का विज्ञान है। छः शास्त्र बताये गये हैं जिनमें व्याकरणशास्त्र, मीमांसाशास्त्र, तर्कशास्त्र और वेदान्त हैं।

तर्कशास्त्र में 'पूर्वपक्ष' और 'उत्तरपक्ष' की संकल्पनाएँ हैं। तर्कसंग्रह, तर्कशास्त्र का मूलभूत ग्रन्थ है।

तर्कशास्त्री[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]