सेवरही

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(तमकुही रोड से अनुप्रेषित)
सेवरही
Sewarhi
तमकुही रोड
सेवरही is located in उत्तर प्रदेश
सेवरही
सेवरही
उत्तर प्रदेश में स्थिति
निर्देशांक: 26°43′30″N 84°13′30″E / 26.725°N 84.225°E / 26.725; 84.225निर्देशांक: 26°43′30″N 84°13′30″E / 26.725°N 84.225°E / 26.725; 84.225
देश भारत
राज्यउत्तर प्रदेश
ज़िलाकुशीनगर ज़िला
जनसंख्या (2011)
 • कुल23,077
भाषाएँ
 • प्रचलितहिन्दी
समय मण्डलभारतीय मानक समय (यूटीसी+5:30)

सेवरही (Sewarhi) या तमकुही रोड (Tamkuhi Road) भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के कुशीनगर ज़िले में स्थित एक नगर है। यह सेवरही नामक प्रशासनिक ब्लॉक का मुख्यालय भी है। यहाँ तमकुही रोड रेलवे स्टेशन स्थित है।[1][2]

विवरण[संपादित करें]

यह कस्बा गोरखपुर से पड़रौना होते हुए बिहार में थावे और सीवान जाने वाले रेलमार्ग पर एक स्टेशन है। यह गंडक नदी, जिसे स्थानीय तौर पर 'नारायणी' के नाम से जाना जाता है, की सहायिका बाँसी नदी के तीर पर स्थित है।

पुराने समय में यह एक राजघराना था जिसे 'तमकुही राज' के नाम से जाना जाता था। तमकुही रोड, जिला मुख्यालय पड़रौना से लगभग १५ किलोमीटर कि दूरी पर स्थित है और यहाँ का पिनकोड 274406 है। शहर का नाम सेवरही है जबकि रेलवे स्टेशन का नाम तमकुही रोड़ है । जब रेलवे लाईन का कार्य चल रहा था तब सेवरही राजा तमकुही राज के अधीन था, लेकिन कोई ट्रैन तमकुही राज जाने के लिए ना होने के कारण स्टेशन का नाम राजघराने के कहने पर तमकुही रोड़ रख दिया गया । जिससे राजा दरबार तमकुही राज जाने वाले रेलवे यात्री यहीं उतरकर जा सके। उत्तर प्रदेश शासन द्वारा सेवरही नगर क्षेत्र को वार्ड नं 13 शास्त्री नगर के तत्कालीन सभासद रकीब आलम एडवोकेट के प्रयास से आदर्श नगर पंचायत घोषित किया गया है। पांच साल सभासद रहने के बाद रकीब आलम नगर पंचायत अध्यक्ष का चुनाव लडे लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। नगर के सबसे बडे वार्ड नं 9, आजाद नगर के वर्तमान सभासद सबसे युवा सभासद इमरान अंसारी अजमेरी हैं जिन्होने लोकप्रियता के कारण पहले प्रयास में ही सभासद चुने गये । महज 19 वर्ष की उम्र में राजनिति में कदम रखने वाले ईमरान 21 वर्ष की उम्र में सभासद चुने गये।

आदर्श नगर पंचायत सेवरही में जल की समस्या को लेकर वार्ड नं 9 के निवासी रुस्तम कुरैशी ने काफी प्रयास किए हैं। उन्होने शहर में हर चौराहे पर प्याऊ, स्वच्छ एवं अतिक्रमण मुक्त सडकों, लेबर चौराहे पर श्रमिकों के लिए टीन शेड़ व चीनी मिल के लिए दिन में गन्ना लदे वाहनों की रोक को लेकर लगातार आंदोलन किया है। आदर्श नगर पंचायत सेवरही में लगातार 10 वर्ष तक चेयरमैन रहे त्रिभुवन प्रसाद जायसवाल के समय सडक, बिजल, जल आपुर्ति, नाली व स्ट्रीट लाईट के लिए बहुत काम हुआ है।

जनसंख्या[संपादित करें]

वर्ष 2011 के जनगणना आंकड़ों के अनुसार, तमकुही रोड अथवा सेवरही की कुल जनसँख्या 23,077 थी।[3]

सुविधाएँ[संपादित करें]

यह कस्बा, जिला मुख्यालय से सडक और रेलमार्ग द्वारा जुड़ा हुआ है। यहाँ बहुत पुरानी एक चीनी मिल भी है। आर्थिक क्रियाकलापों से सम्बंधित सुविधाओं के रूप में यहाँ पंजाब नैशनल बैंक, एच एफ डी सी, बैंक ऑफ इंडिया, एस बी आई, केन्द्रीय बैंक ऑफ इंडिया की शाखाएँ हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Uttar Pradesh in Statistics," Kripa Shankar, APH Publishing, 1987, ISBN 9788170240716
  2. "Political Process in Uttar Pradesh: Identity, Economic Reforms, and Governance Archived 2017-04-23 at the वेबैक मशीन," Sudha Pai (editor), Centre for Political Studies, Jawaharlal Nehru University, Pearson Education India, 2007, ISBN 9788131707975
  3. "Sewarhi City Population Census 2011 - Uttar Pradesh". Census2011.co.in. मूल से 4 अप्रैल 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2017-04-02.