डेबोराह हेरोल्ड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
डेबोराह हेरोल्ड
जन्म एबरडीन, पोर्ट ब्लेयर, अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह, भारत
व्यवसाय साइकिल चालक
गृह स्थान कार निकोबार, अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह, भारत

डेबोराह हेरोल्ड एक भारतीय साइकिल चालक है, जिनका जन्म १८ फ़रवरी १९९५ में एबरडीन, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हुआ था। हेरोल्ड एक जातीय निकोबारी है वह कार निकोबार में बड़ी हुई, जहां उनके पिता वायु सेना के अधिकारी के रूप में सेवा करते थे। और वह २००४ में पोर्ट ब्लेयर में थी जब सुनामी आया और उन्होंने एक सप्ताह पेड़ के तने से निकला। उन्हें अंडमान में भारतीय खेल प्राधिकरण (एसएआई) केंद्र का समर्थन प्राप्त हुआ। २०११ के बाद से, वह नई दिल्ली में रहती है, और इंदिरा गांधी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स वेल्दोम में ट्रेनिंग देती है। २०१४ में, हेरोल्ड ने ५०० मील दूर परीक्षण में ट्रैक एशिया कप में दो स्वर्ण पदक और टीम स्प्रिंट जीता था।[1] अक्टूबर २०१५ में, उन्होंने ताइवान कप ट्रैक इंटरनेशनल क्लासिक में पांच पदक जीते, और ट्रैक इंडिया कप में तीन पदक जीते। वह एक अनुशासन की यूसीआई रैंकिंग में पहली भारतीय साइकिल चालक है जिन्होंने ५००m टाइम ट्रायल में चौथा स्थान हासिल किया था।[2] उन्होंने भविष्य(२०२०) में होने वाले टोक्यो में ओलंपिक खेलों की शुरुआत के लिए बहुत सारा काम भी किया है।[3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Alter, Jamie (December 12, 2015). "Tsunami survivor Deborah Herold is world No. 4 cyclist". The Times of India. Retrieved December 28, 2015.
  2. ^ Alter, Jamie (December 11, 2015). "Indian cyclist Deborah Herold makes history with 4th place ranking". The Times of India. Retrieved December 28, 2015.
  3. "Cyclist Deborah Herold sets sights on 2020 Tokyo Olympics". Mail Today. November 17, 2015. Retrieved December 28, 2015.