टेलीग्राफ समीकरण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

टेलीग्राफ समीकरण ( telegrapher's equations या केवल telegraph equations) परस्पर युग्मित दो रैखिक अवकल समीकरण हैं जो किसी संचरण लाइन (ट्रान्समिशन लाइन) के वोल्टता और धारा का मान बताते हैं।

ह्रासरहित संचरण लाइन[संपादित करें]

संचार लाइन का सूक्षम-अवयव (element)

यदि संचरण लाइन में ह्रास शून्य हो (R=0, G=0) तो संचरण लाइन के किसी बिन्दु पर वोल्टता तथा धारा का मान x (एक सन्दर्भ बिन्दु से दूरी) तथा t (समय) पर निर्भर करता है।

मूल समीकरण ये हैं-

इनको मिलाने पर,

जहाँ

संचरण लाइन पर चलने वाली तरंगों का वेग है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]