झेलम का युद्ध

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
झेलम के युद्ध के पश्चात सिकंदर और राजा पोरस

झेलम का युद्ध झेलम नदी के किनारे सिकंदर और पंजाब के राजा पोरस के बीच हुआ था। इस युद्ध में पोरस ने सिकन्दर को पराजित कर दिया, और सिकन्दर को बंदी बना कर महल ले आया और उसे जीवित छोड़ दिया तथा पोरस और सिकंदर में मित्रता बन गया। युद्ध के बाद सिकंदर थकी हुई सेना ने व्यास (विपासा) नदी से आगे बढ़ने से इंकार कर दिया। सिकंदर भारत में लगभग 19 महीने (326 ईसवी पूर्व से 325 ईसवी पूर्व तक) रहा। इसे हाईडेस्पीज (Hydaspes) का युद्ध भी कहते हैं।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Bosworth, A. B. (1993). Conquest and Empire: The Reign of Alexander the Great (अंग्रेज़ी में). Cambridge University Press. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-521-40679-6. अभिगमन तिथि 14 जुलाई 2021.