जोसिप बरोज़ टिटो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
जोसिप बरोज़ टिटो

जोसिप बरोज़ टिटो (सिरिलिक लिपि: Јосип Броз Тито, (७ या २५ मई १८९२ - ४ मई १९८०) एक युगोस्लाव क्रांतिकारी और राजनेता थे। वे यूगोस्लाविया कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव (बाद में राष्ट्रपति)(1939-80) थे, जिन्होंने द्वितीय विश्वयुद्घ के दौरान युगोस्लाव प्रतिरोध आंदोलन (१९४१-४५) का नेतृत्व किया। युद्ध के बाद वे समाजवादी संघीय गणराज्य युगोस्लाविया (SFRY) के प्रधानमंत्री (१९४५-६३) और बाद में राष्ट्रपति (१९५३-८०) बने। १९४३ से लेकर १९८० में मौत तक वे युगोस्लाव सेना, युगोस्लाव पीपुल्स सेना (JNA) के सर्वोच्च कमांडर के रूप में मार्शल ऑफ युगोस्लाविया के पद पर आसीन रहे।

टिटो " दूसरे यूगोस्लाविया" के रूप में द्वितीय विश्व युद्ध से लेकर १९९१ तक बरकरार एक समाजवादी महासंघ के मुख्य वास्तुकार थे। कोमिन्फोर्म के संस्थापकों में से एक होने के बावजूद वे सोवियत आधिपत्य की उपेक्षा करने वाले पहले और इकलौते कोमिन्फोर्म सदस्य थे। समाजवाद के स्वतंत्र राह के पैरोकार होने के साथ-साथ वे गुट निरपेक्ष आंदोलन के मुख्य संस्थापकों और प्रथम महासचिव थे। इस तरह से उन्होंने शीतयुद्ध के दौरान दो विरोधी ब्लॉक के बीच गुट निरपेक्ष की नीति का समर्थन किया।