जोशीला (1973 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
जोशीला
जोशीला.jpg
जोशीला का पोस्टर
निर्देशक यश चोपड़ा
निर्माता गुलशन राय
लेखक अख्तर मिर्ज़ा,
सी जे पावरी
पटकथा अख्तर मिर्ज़ा, सी जे पावरी
अभिनेता देव आनन्द,
हेमामालिनी,
राखी,
प्राण,
बिन्दू
संगीतकार राहुल देव बर्मन
साहिर लुधियानवी (गीत)
छायाकार फाली मिस्त्री
संपादक प्राण मेहरा
स्टूडियो चांदीवली स्टूडियो
फिल्मिस्तान स्टूडियो
राजकमल स्टूडियो
वितरक त्रिमूर्ति फिल्म्स प्रा. लि.
प्रदर्शन तिथि(याँ) 19 अक्टूबर, 1973
देश भारत
भाषा हिन्दी

जोशीला 1973 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। इसका निर्देशन यश चोपड़ा ने और निर्माण गुलशन राय ने किया। इसमें देव आनन्द, हेमामालिनी और राखी हैं।[1]

संक्षेप[संपादित करें]

जेलर (मनमोहन कृष्णा) उन दोषियों की देखरेख करते हैं जिन्हें कठोर कारावास की सजा सुनाई गई है। उनकी एक युवा और सुंदर बेटी है जिसका नाम शालिनी (हेमामालिनी) है। शालिनी कवयित्री है, एक दिन अपनी कविता सुनाते हुए, वह एक युवक से मिलती है, अमर (देव आनन्द) से मिलती है। वह भी खुद कवि होता है।

वे दोनों एक साथ खूबसूरत पल बिताते हैं और खुद को एक दूसरे के प्रति आकर्षित पाते हैं। शालिनी यह पता लगाना चाहती है कि अमर जेल में क्यों है। उसे बताया जाता है कि अमर हत्या के आरोप में जेल में है। उसने अपनी पूर्व प्रेमिका सपना (राखी) के भाई की हत्या की थी। शालिनी को यह भी पता चला कि यह सच नहीं है। वह अमर को जेल से छुड़ाने के लिए अपना पूरा प्रयास करेगी क्योंकि वह उससे प्यार करती है और उससे शादी करना चाहती है।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

दल[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत साहिर लुधियानवी द्वारा लिखित; सारा संगीत आर॰ डी॰ बर्मन द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."किसका रास्ता देखे"किशोर कुमार4:18
2."शरमा न यूँ"आशा भोंसले, देव आनन्द4:14
3."कुछ भी कर लो"किशोर कुमार, लता मंगेशकर4:10
4."काँप रही मैं"आशा भोंसले5:36
5."दिल में जो बातें हैं"किशोर कुमार, आशा भोंसले5:18
6."जो बात इशारों में कही"लता मंगेशकर4:13
7."सोना रूपा लायो रे"आशा भोंसले5:43
8."महफ़िल में छुपाने पड़े"लता मंगेशकर2:18

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "बॉलीवुड में छाया है यश चोपड़ा के 'रोमांस' का जादू". आज तक. 16 अगस्त 2012. अभिगमन तिथि 12 अप्रैल 2019.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]