जैन अहिंसा एवं प्राकृत शिक्षा संस्थान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

बिहार राज्य के वैशाली जिले में वैशाली के ऐतिहासिक भग्नावशेष के पास बसाढ गाँव में यह संस्थान स्थित है। जैन धर्म के २४ वें तीर्थंकर भगवान महावीर का जन्म वैशाली गणराज्य के प्रतिष्ठित ज्ञात्रिक कुल में हुआ था। उनके जन्म स्थल के निकट ही जैन अहिंसा एवं प्राकृत शिक्षा संस्थान की स्थापना १९५२ में हुई थी। यह संस्थान जैन धर्म के मौलिक सिद्धांत तथा प्राकृत साहित्य के ऊपर शोध कार्य करती है। संस्थान बिहार विश्वविद्यालय, मुजफ्फरपुर से संबद्ध है।