जैकब ओरम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Jacob Oram
व्यक्तिगत जानकारी
पूरा नाम Jacob David Philip Oram
उपनाम Big Jake
कद 1.98 मी (6 फ़ुट 6 इंच)
बल्लेबाजी की शैली Left-hand bat
गेंदबाजी की शैली Right-arm fast-medium
भूमिका All-rounder
अंतरराष्ट्रीय जानकारी
राष्ट्रीय
टेस्ट में पदार्पण (cap 222) 12 दिसम्बर 2002 v India
अंतिम टेस्ट 26 अगस्त 2009 v Sri Lanka
ODI पदार्पण (cap 120) 4 जनवरी 2001 v Zimbabwe
अंतिम एक दिवसीय 9 नवम्बर 2009 v Pakistan
एक दिवसीय शर्ट स॰ 24
घरेलू टीम की जानकारी
वर्ष टीम
1997–present Central Districts
2008- Chennai Super Kings
कैरियर के आँकड़े
प्रतियोगिता Test ODI FC List A
मैच 33 135 85 208
रन बनाये 1,780 2,094 3,992 3,814
औसत बल्लेबाजी 36.32 24.34 33.83 26.30
शतक/अर्धशतक 5/6 1/11 8/18 3/20
उच्च स्कोर 133 101* 155 127
गेंद किया 4,964 5,735 10,682 7,651
विकेट 60 136 155 175
औसत गेंदबाजी 33.05 30.76 26.91 31.31
एक पारी में ५ विकेट 0 2 3 2
मैच में १० विकेट 0 n/a 0 n/a
श्रेष्ठ गेंदबाजी 4/41 5/26 6/45 5/26
कैच/स्टम्प 15/– 41/– 36/– 62/–
स्रोत : CricketArchive, 14 नवम्बर 2009

जैकब डेविड फिलिप ओरम (जन्म 28 जुलाई 1978, पामर्स्टन नॉर्थ, मानावाटू, न्यूजीलैंड) न्यूजीलैंड के एक क्रिकेट खिलाड़ी हैं। वे एक बाएं हाथ के बल्लेबाज और दाएँ हाथ के मध्यम तेज गेंदबाज हैं। बल्ले और गेंद दोनों के साथ अपनी दक्षता के कारण वे न्यूजीलैंड की मौजूदा अंतर्राष्ट्रीय टीम के नियमित सदस्य हैं। आमतौर पर मध्य और निचले क्रम में बल्लेबाजी करने वाले ओरम की गेंदबाजी खेल के छोटे स्वरूपों में अधिक सफल रही है; वे आईसीसी वनडे प्लेयर रैंकिंग में 5वें स्थान तक पहुँचने में सफल रहे हैं। 1.98 मीटर (6 फीट 6 इंच) लंबे ओरम स्कूली फुटबॉल में एक गोलकीपर के रूप में खेलते थे। हॉक कप में वे मानावाटू क्रिकेट टीम की तरफ से खेले थे। इंडियन प्रीमियर लीग में वे चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से खेलते हैं।

कॅरियर विशिष्टताएं[संपादित करें]

वे न्यूजीलैंड के 1000 से अधिक रन बनाने वाले 36 टेस्ट क्रिकेट खिलाड़ियों में से एक हैं और वनडे में 1000 रन बनाने तथा 100 विकेट लेने के डबल को प्राप्त करने वाले न्यूजीलैंड के मात्र छह खिलाड़ियों में से भी वे एक हैं।

वर्ष 2003-04 में वे पाकिस्तान के खिलाफ 97 पर आउट होने के साथ अपने इकलौते टेस्ट शतक से केवल कुछ ही रनों से चूक गए थे, परन्तु अपने अगले ही टेस्ट मैच में उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 119 रनों के साथ अपना पहला टेस्ट शतक लगाया और उसके अगले टेस्ट में 90 रनों की शानदार पारी भी खेली. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिस्बेन में शेन वार्न तथा ग्लेन मैकग्रा का सामना करते हुए 126 नाबाद की पारी के साथ उन्होंने अपना दूसरा टेस्ट शतक बनाया. उनका तीसरा टेस्ट शतक दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ था जिसमे उन्होंने अपने करियर के सर्वोच्च 133 रनों की पारी खेली.

28 जनवरी 2007 को पर्थ में ओरम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक वनडे में 72 गेंदों पर नाबाद 101 रनों की पारी खेली. उस समय यह न्यूजीलैंड के किसी खिलाड़ी द्वारा वनडे में लगाया गया सबसे तेज शतक होने के साथ-साथ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया गया सबसे तेज शतक भी था। ब्रेंडन मैकुलम के साथ उनकी 137 रनों की साझेदारी उस समय न्यूजीलैंड के छठे विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी थी, हालाँकि इस रिकॉर्ड को अगले ही महीने तोड़ दिया गया था।[1]

विश्व कप से पहले एक एकदिवसीय मैच में उनके बाएं हाथ की एक ऊँगली में चोट लग गयी; 28 फ़रवरी को टूर्नामेंट से कुछ ही हफ्तों पहले उन्होंने कहा कि क्रिकेट खेलने के लिए वे उसे कटवाने तक को तैयार हैं।[2] हालांकि, बाद में ओरम ने इस दावे के बारे में स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि यह तो उन्होंने मजाक में कहा था और यह वक्तव्य खेलने की उनकी तीव्र इच्छा को दर्शाता है।[3]

ओरम को 2008 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट शतक लगाने के कारण लॉर्ड्स ऑनर्स बोर्ड में स्थान दिया गया है और कई बार वे विश्व के सर्वश्रेष्ठ वनडे हरफनमौला (ऑलराउंडर) खिलाड़ी के स्थान पर काबिज भी रह चुके हैं।

2 सितम्बर 2009 को ओरम ने श्रीलंका के खिलाफ कोलम्बो में एक ट्वेंटी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में हैट ट्रिक ली थी,[4] उन्होंने लगातार तीन गेंदों पर एंजेलो मैथ्यूज, मलिंगा भंडार और नुवान कुलशेखरा को आउट किया।

13 अक्टूबर 2009 को ओरम ने टेस्ट क्रिकेट से सन्यास लेने की घोषणा की.

दक्षिण अफ्रीका में 2009 की आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान ओरम अपने टखने में चोट लगने के कारण एक भी मैच नहीं खेल पाये थे।

9 नवम्बर 2009 को ओरम ने पाकिस्तान के खिलाफ अबू धाबी में कूल&कूल कप के अत्यंत रोमांचक फाइनल मुकाबले में 3/20 का आंकड़ा हासिल किया था।

ओरम ने 14 महीने बाद 5 फ़रवरी 2010 को बांग्लादेश के खिलाफ नेपियर में अपना 12वां एकदिवसीय अर्धशतक लगाया. उन्होंने अत्यंत तेज गति से खेलते हुए 8 चौकों तथा 5 छक्कों की मदद से सिर्फ 40 गेंदों पर 83 रन बनाए थे।

3 मार्च 2010 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ फिर से घायल होने के कारण ओरम को एक अन्य श्रृंखला तथा आईपीएल 2010 से भी बाहर बैठना पड़ा.

ओरम ने 2010 के आईसीसी वर्ल्ड ट्वेंटी 20 के साथ अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर फिर से खेलना प्रारंभ किया।

निजी जीवन[संपादित करें]

मार्च 2008 में ओरम ने अपनी 8 वर्षों की साथी और पामर्स्टन की ही निवासी मारा टेट-जेमिसन के साथ शादी कर ली.[5] कुछ समय तक ऑकलैंड में रहने के बाद वे दोनों वापस आ गए और अब अपने बेटे पैट्रिक तथा प्यारे लैब्राडोर, लियो के साथ पामर्स्टन नॉर्थ में रहते हैं।

टिप्पणियां[संपादित करें]

बाह्य कड़ियां[संपादित करें]

साँचा:New Zealand Squad 2007 Cricket World Cup