जीवविज्ञान के पिता

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जीव विज्ञान का पिता ग्रीक दार्शनिक अरस्तू (३८४-३२२ ई.पू.) को कहा जाता है। जीवविज्ञान का एक क्रमबद्ध ज्ञान के रूप में विकास उन्हीं के काल में हुआ। उन्होंने सर्वप्रथम पौधों एवं जन्तुओ के जीवन के विभिन्न पक्षों के विषय में अपने विचार प्रकट किये। अरस्तु को जीवविज्ञान की शाखा जंतु विज्ञान का जनक भी कहते हैं।