जादौन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
करौली स्थित तिमन गढ़ किले का दृश्य। कहा जाता है कि इसकी नींव 2 शताब्दी ईस्वी में रखी गई थी।

जादौन या जादों राजपूत जाति का वंश है।[1][2][3] बंजारा जाति के एक समुदाय को भी जादोन नाम से जाना जाता है।[4]

उत्पत्ति

कुछ इतिहाकारों के अनुसार एक समय जलेसरकरौली राज्यों पर जादौन[5] राज परिवारों का शासन रहा है। इनका निकास मथुरा के यदुवंशी शासकों से है।[6][7] करौली के राज परिवार की कुलदेवी कैला देवी (योगमाया) हैं।[8]

सन्दर्भ

  1. Ashutosh Kumar (2016). Rethinking State Politics in India: Regions Within Regions. पृ॰ 400. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9781315391441.
  2. Michael Slouber (2020). A Garland of Forgotten Goddesses: Tales of the Feminine Divine from India. पृ॰ 158. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9780520375758.
  3. Singh, David Emmanuel (2012). Islamization in Modern South Asia: Deobandi Reform and the Gujjar Response. Walter de Gruyter,. पृ॰ 200. अभिगमन तिथि 30 September 2014.सीएस1 रखरखाव: फालतू चिह्न (link)
  4. Shashishekhar Gopal Deogaonkar, Shailaja Shashishekhar Deogaonkar (1992). The Banjara. Concept Publishing Company. पपृ॰ 18, 19. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788170224334.
  5. Lucia Michelutti (2018). Sons of Krishna: The Politics of Yadav community formation in a North Indian town (PDF). London School of Economics. पृ॰ 47. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ Phd Thesis Social Anthropology |isbn= के मान की जाँच करें: invalid character (मदद). मूल से 21 मई 2015 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 18 सितंबर 2019.
  6. Cunningham, Joseph Davey; Garrett, H. L. O. A History of the Sikhs from the Origin of the Nation to the Battles of the Sutlej (अंग्रेज़ी में). Asian Educational Services. पृ॰ 7. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788120609501. अभिगमन तिथि 24 April 2016.  Karauli”ब्रिटैनिका विश्वकोष (11th) 15। (1911)। कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी प्रेस।
  7. Michelutti, Lucia (2008). The Vernacularisation of Democracy: Politics, Caste, and Religion in India. Routledge. पृ॰ 43. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 978-0-41546-732-2. मूल से 26 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 21 अगस्त 2017.
  8. Gupta, Dr. Mohan Lal. Cultural & Historical Study of Karauli District: करौली जिले का सांस्कृतिक एवं ऐतिहासिक अध्ययन. Shubhda Prakashan. पृ॰ 46. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9789386813046.