जाँनिसार अख्तर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
जान निसार अख्तर
जन्म 18 फ़रवरी 1914
ग्वालियर, ग्वालियर रियासत, ब्रिटिश भारत
(अब मध्य प्रदेश, भारत)
मृत्यु अगस्त 19, 1976(1976-08-19) (उम्र 62)
मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
व्यवसाय कवि, शायर और गीतकार
विधा गज़ल
साहित्यिक आन्दोलन प्रगतिशील लेखक आंदोलन
उल्लेखनीय कार्यs "ख़ाक-ए दिल" ("दिल की राख ") (1973)
जीवनसाथी (सफिया सिराज उल हक)
(खादीजा तलत)
सन्तान जावेद अख्तर
सलमान अख्तर
शाहिद अख्तर
उनेजा अख्तर
अल्बिना शर्मा

जाँनिसार अख्तर (उर्दू: جان نثار اختر;अंग्रेजी:Jan Nisar Akhtar, 18 फ़रवरी 1914 – 19 अगस्त 1976) भारत से 20 वीं सदी के एक महत्वपूर्ण उर्दू शायर, गीतकार और कवि थे। वे प्रगतिशील लेखक आंदोलन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा थे। उन्होंने हिंदी फिल्मों के लिए भी गाने लिखे.[1]

उनके सुपुत्र जावेद अख्तर ने भी शायरी की दुनिया में बहुत नाम कमाया।


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Jan Nisar Akhtar Encyclopaedia of Hindi cinema, by, Gulzar, Govind Nihalani, Saibal Chatterjee (Encyclopaedia Britannica, India). Popular Prakashan, 2003. ISBN 8179910660. p. 296.