ज़िम्बाब्वेई सांसदों का २०१२ में ऍचआइवी-सतर्कता अभियान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एचआइवी के लिए हो रहे रक्त-परीक्षण का एक चित्र

कुछ समय पूर्व ऍच॰आइ॰वी॰/ एड्स के प्रति अपने राष्ट्र के युवकों तथा अन्य वर्गों में सतर्कता लाने के लिए ज़िम्बाब्वे की दो मुख्य पार्टियों के ६० से अधिक सांसदों ने अपना ऍच॰आइ॰वी॰ परीक्षण, जून २०१२ में करवाया।

ज़िम्बाब्वे में जन-सतर्कता के कारण ऍच॰आइ॰वी॰-प्रभावित आबादी का प्रतिशत १४ है, जो हालाँकि विश्व स्तर पर अधिक है, परन्तु राष्ट्रीय स्तर पर २००३ से काफ़ी कम हुआ है, तब वह २३ प्रतिशत था।

प्रधान मंत्री मोर्गन त्स्वन्गिर्रै की पार्टी से जुड़े सांसद ब्लेसिंग चेबुन्दो के मुताबिक़ जो ऍच॰आइ॰वी॰/ एड्स का यह अभियान अपने आप में बेमिसाल है और इसका उद्देश यह है कि ऍच॰आइ॰वी॰-पीड़ित व्यक्तियों के प्रति भेदभाव का मुक़ाबला किया जा सके।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Zimbabwe lawmakers undergo HIV tests, all set for circumcision". द इंडियन एक्सप्रेस. जून 22 2012. अभिगमन तिथि 27 जून 2012. |first1= missing |last1= in Authors list (मदद); |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)