सप्तम जयवर्मन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(जयवर्मन् ७ से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
महान सप्तम जयवर्मन
ख्मेर साम्राज्य का राजा
सप्तम जयवर्मन की प्रतिमा, गुमेत संग्रहालय (Guimet Museum)
सप्तम जयवर्मन की प्रतिमा, गुमेत संग्रहालय (Guimet Museum)
शासन 1181 – 1218
पूरा नाम जयवर्तन
पूर्वाधिकारी द्वितीय यशोवर्मन
उत्तराधिकारी द्वितीय इन्द्रवर्मन
जीवन संगी जयरक्षादेवी, इन्द्रादेवी
पिता द्वितीय धरणीन्द्रवर्मन
माता श्री जयराजचूडामणि
धर्म महायान बौद्ध
(पहले हिन्दू धर्म)

सप्तम जयवर्मन (ख्मेर भाषा ជ័យវរ្ម័នទី៧ ; 1125 –1218) ख्मेर साम्राज्य का एक प्रतापी राजा था जिसने सन् 1181 से 1218 तक शासन किया। उसने 'महापरमसौगत' नाम धारण किया था। वह राजा द्वितीय धरणीन्द्रवर्मन का पुत्र था। उसकी रानी का नाम जयराजदेवी था। प्रथम रानी की मृत्यु के बाद उसने उसकी बहन इन्द्रादेवी से विवाह किया।[1] ऐसा माना जाता है कि ये दोनों रानियाँ उसके लिये महान प्रेरणा की स्रोत थीं। द्वितीय जयवर्मन को इतिहासकार सबसे शक्तिशाली ख्मेर सम्राट मानते हैं।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]