जमात-ए-इस्लामी हिन्द

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
जमात-ए-इस्लामी हिन्द
संक्षेपाक्षर J.I.H.
पूर्वाधिकारी जमात-ए-इस्लामी
स्थापना अप्रैल 16, 1948; 74 वर्ष पहले (1948-04-16)
संस्थापक सय्यद अबुल अला मौदुदी
प्रकार इस्लामी संगठन
वैधानिक स्थिति सक्रिय
मुख्यालय D-321, Abul Fazal Enclave, जामिया नगर, Okhla, नई दिल्ली, भारत
सेवित क्षेत्र
क्षेत्र
भारत
अमीर (राष्ट्रीय अध्यक्ष)
सैयद सदातुल्लाह हुसैनी
जालस्थल जमात-ए-इस्लामी हिन्द

जमात-ए-इस्लामी हिन्द भारत में एक इस्लामी संगठन है। जिसकी स्थापना जमात-ए-इस्लामी की एक शाखा के रूप में की गयी थी। जो 1947 में भारत के विभाजन के पश्चात भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश में अलग-अलग स्वतन्त्र संगठनों में विभाजित हो गया।

जमात-ए-इस्लामी हिन्द की विचारधारा इस्लाम है। इसकी संरचना ईश्वर की एकता और सम्प्रभुता (एकेश्वरवाद), पैगम्बर-हुड की अवधारणा और मृत्यु के बाद जीवन की तीन अवधारणा पर आधारित है। विश्वास के इन बुनियादी सिद्धान्तों से सभी मानव जाति की एकता, मनुष्य के जीवन की उद्देश्यपूर्णता और पैगम्बर द्वारा सिखाये गये जीवन के तरीके की सार्वभौमिकता की अवधारणाओं का पालन करें। जमात-ए-इस्लामी हिन्द अपने मार्गदर्शक सिद्धान्त को अपने संविधान में "इकामत-ए-दीन" ( इक़ामत-ए-दीन ) ( "जीवन के सभी पहलुओं में इस्लामी तरीके की स्थापना") के रूप में निर्दिष्ट करता है।