जगन्नाथ प्रसाद ‘किंकर’

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जगन्नाथ प्रसाद ‘किंकर’ औरंगाबाद, देव के राजा थे। इनका मगही गीत संग्रह 1934 में प्रकाशित हुआ है। ‘किंकर’ साहेब ने सन् 1930 में ‘छठ मेला’ नामक 16 एमएम के चार रीलों के एक वृत्तचित्र फिल्म का निर्माण करके बिहार में फिल्म निर्माण की प्रथम नींव डाली थी, फिल्म के निर्माता, लेखक और निर्देशक की भूमिका राजा साहेब ने स्वयं की थी तथा रेखांकन और चित्रांकन गौरी शंकर सिंह रैन जी ने किया था। फिल्म का एडिटिंग लंदन से आए ब्रुनो ने की। देव के सूर्य मंदिर और छठ पूजा की महत्ता को उजागर करने वाली कुल चार रीलों वाली यह डाक्यूमेन्ट्री फिल्म लगभग 32 दिनों में बनकर तैयार हुई थी। 1930 में इसका प्रथम प्रदर्शन देव स्थित राजा के गढ़ के भीतर ही किया गया था।