जगदीश गुप्त

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जगदीश गुप्त (१९२४-२००१) शिक्षाविद तथा हिन्दी के आधुनिक कवि थे। हिन्दी कविता में उनका महत्त्वपूर्ण स्थान है। हिन्दी नयी कविता के प्रमुख कवियों-जगदीश गुप्त, रामस्वरुप चतुर्वेदी और विजयदेवनरायण साही में से एक हैं।[1]कवि-चित्रकार जगदीश गुप्त जी का कलाकर्म साहित्य व चित्रकला के बीच एक सुंदर सेतु है। डॉ. गुप्त के रेखांकन में उनका कवि रूप बोलता है इसलिए उनके चित्र सुन्दर कविता जैसे सरस, सरल और प्रिय लगते हैं और शायद इसी कारण रंगों की नई भाषा और भाव उनके चित्रों में मिलते हैं, तो कविताओं में पूरी चित्रात्मकता।[2]

जगदीश गुप्त
[[Image:
Kavi-Chitrakar Jagdish Gupt Book.jpg
|225px]]
जन्म ०३ अगस्त १९२४
शाहाबाद,हरदोई जिले,उत्तर प्रदेश
मृत्यु २६ मई २००१
राष्ट्रीयता भारतीय
शिक्षा एम.ए. तथा डी.फिल.,इलाहाबाद विश्वविद्यालय
व्यवसाय

कवि, चित्रकार

•प्राध्यापक, विभागाध्यक्ष, हिन्दी विभाग, इलाहाबाद विश्वविद्यालय
प्रसिद्धि कारण नई कविता


चेतना की चादर पर चमत्कार सुलभ चाँद तारों को चितेरना ही एक अदद वाक्य में जिनका परिचय है। चेतना के चितेरे डॉ जगदीश गुप्त का जन्म ०३ अगस्त १९२४ ई॰ को उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले के शाहाबाद में हुआ था। मगर कार्यालयी जन्मतिथि ५ जुलाई १९२६ ई. होने के कारण उनके परिचित भी उनकी वास्तविक जन्मतिथि से अनभिज्ञ हैं। उनकी माता का नाम श्रीमती रमादेवी तथा पिता का नाम शिवप्रसाद गुप्त था। अपने पिता की सात संतानों में एक मात्र जगदीश ही जीवित रहे।[3]

उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से एम.ए. तथा डी.फिल. की उपाधि प्राप्त की और १९५० में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के हिन्दी विभाग में प्राध्यापक के पद पर नियुक्त हो गए। १९८७ में डा॰ गुप्त हिन्दी विभाग के विभागाध्यक्ष पद से सेवा निवृत्त हुए। १९५४ में "नई कविता" के सम्पादन के साथ आरम्भ की गई अपनी साहित्य यात्रा में डा॰ गुप्त ने ३५ ग्रंथों की रचना की। गुप्त जी का निधन २६ मई २००१ में हुआ उनके निधन के बाद उनपर कई शोध करे गए। वह चित्रकार भी थे इसके बारे में डॉ. अर्चना द्विवेदी ने अपनी किताब "कवि-चित्रकार जगदीश गुप्त" में भी लिखा है जो कि २०१४ में प्रकाशित हुई। [4]

प्रमुख कृतियाँ[संपादित करें]

  • नाव के पाँव
  • शम्बूक
  • आदित्य एकान्त
  • हिम-विद्ध
  • शब्द-दंश
  • युग्म
  • गोपा गौतम
  • बोधिवृक्ष
  • नयी कविता
  • स्वरूप और समस्याएँ
  • प्रागैतिहासिक भारतीय चित्रकला व भारतीय कला के पद-चिह्न

कुछ रेखाचित्र[संपादित करें]

Jagdish Gupt Sketch 1.jpg
Sketch by Jagdish Gupt 2.jpg

पुरस्कार व सम्मान[संपादित करें]

डा॰ गुप्त को उत्तर प्रदेश के भारत भारती (पुरस्कार) तथा मध्य प्रदेश के मैथिलीशरण गुप्त पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. नयी कविताएँ एक साक्ष्य, रामस्वरुप चतुर्वेदी, लोकभारती प्रकाशन, १५-ए, महात्मा गांधी मार्ग, इलाहाबाद, संस्करण १९७६
  2. "कवि-चित्रकार जगदीश गुप्त", डॉ. अर्चना द्विवेदी द्वारा लिखित, प्रथम संस्करण २०१४,पृष्ठ १३
  3. डॉ. अर्चना द्विवेदी की वार्ता डॉ. जगदीश गुप्त से दिनांक ३-१-२०००
  4. भारतीय चरित कोश, सम्पादक लीलाधर शर्मा पर्वतीय, शिक्षा भारती, मदरसा रोड, कश्मीरी गेट, दिल्ली-११०००६, प्रथम संस्करण २००९, पृष्ठ-२९४

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]