छेदिका विधि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

संख्यात्मक विश्लेषण में छेदिका विधि (secant method) समीकरणों का मूल निकालने की एक पुनरावृत्तिमूलक विधि है।

विधि[संपादित करें]

छेदिका विधि निम्नलिखित प्रतिवर्ती सम्बन्ध से दी जा सकती है:

इस सम्बन्ध को ध्यान से देखने पर पता चलता है कि छेदिका विधि में मूल के दो आरम्भिक मान आवश्यक होंगे जिन्हें x0 and x1 से निरूपित किया गया है। ये दोनों वास्तविक मूल के जितना ही पास हों, उतना ही अच्छा है।

छेदिका विधि का बारबार प्रयोग; देख सकते हैं कि किस प्रकार मूल क्रमशः वास्तविक मूल (लाल बिन्दु) के पास पहुँचते जा रहे हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]