छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मंडल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

छत्तीसगढ़ राज्य के मध्यप्रदेश से अलग होने के ठीक एक महीने बाद छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मंडल (सीएसईबी) अस्तित्व में आया।[1] इसके बाद विद्युत अधिनियम 2003 के तहत छग शासन ने ३१ दिसम्बर २००८ को सीएसईबी के विखडन का आदेश जारी कर विद्युत उत्पादन, पारेषण, वितरण और विद्युत व्यापार की चार स्वतंत्र कंपनियों के अलावा पांचवी कंम्पनी होल्डिंग कंपनी बनाई गई। इन कंपनियों ने १ जनवरी २००९ से कार्य करना शुरू कर दिया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. (notification No. 18 & 22/E. Dept/2000 dated 12.11.2000)