चौरासी मंदिर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
भरमौर में चौरासी मंदिर

चौरासी मंदिर (Chaurasi Temple) हिमाचल प्रदेश के चम्बा ज़िले के भरमौर शहर के बीच स्थित एक हिन्दू धार्मिक स्थल है। यह लगभग 1400 वर्ष पुराना है। इसमें एक केन्द्र की परिमिति पर शिवलिंग पर आधारित चौरासी मंदिर बने हुए हैं जिनके कारण इसका नाम पड़ा। इनके बीच पारम्परिक उत्तर भारतीय शिखर वास्तुशैली में बना मणिमहेश मंदिर है। चौरासी मंदिर भरमौर का एक महत्वपूर्ण धार्मिक और सांस्कृतिक केन्द्र है।[1][2]

माना जाता है कि भरमौर के राजा सहिल वर्मन ने मंदिर का निर्मान 84 सिद्धकों के नाम पर करवाया था। यह योगीजन कुरुक्षेत्र से आए थे और मणिमहेश झील व मणिमहेश कैलाश पर्वत के दर्शन के लिए जा रहे थे। रास्ते में वे भरमौर में रुके और वहाँ साधना करी। उन्होंने निःसंतान राजा को दस पुत्रों और एक पुत्रि का वरदान दिया। आस्था है कि मणिमहेश झील का तीर्थ इस मंदिर के दर्शन करे बिना पूरा नहीं होता। यह मंदिर शिव और शक्ति को समर्पित है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Guide to Trekking in Himachal: Over 65 Treks and 100 Destinations," Minakshi Chaudhry, Indus Publishing, 2003, ISBN 9788173871498
  2. "The Human Landscape, Geeti Sen, Ashis Banerjee, Orient Blackswan, 2001, ISBN 9788125020455