चेतन शर्मा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
Chetan Sharma
व्यक्तिगत जानकारी
जन्म 3 जनवरी 1966 (1966-01-03) (आयु 54)
लुधियाना, पंजाब, भारत
कद 5 फीट 8 इंच (1.73 मी॰)
बल्लेबाजी की शैली दायां हाथ
गेंदबाजी की शैली दायें हाथ के fast-medium
भूमिका All rounder
अंतर्राष्ट्रीय जानकारी
राष्ट्रीय पक्ष
टेस्ट में पदार्पण (कैप 167)17 October 1984 बनाम पाकिस्तान
अंतिम टेस्ट3 May 1989 बनाम वेस्टइंडीज़
वनडे पदार्पण (कैप 45)7 December 1983 बनाम वेस्टइंडीज़
अंतिम एक दिवसीय11 November 1994 बनाम वेस्टइंडीज़
घरेलू टीम की जानकारी
वर्षटीम
1982/83–1992/93 हरियाणा
1993/94–1996/97 बंगाल
कैरियर के आँकड़े
प्रतियोगिता टेस्ट ODI FC LA
मैच 23 65 121 107
रन बनाये 396 456 3,714 852
औसत बल्लेबाजी 22.00 24.00 35.03 24.34
शतक/अर्धशतक 0/1 1/0 3/21 1/2
उच्च स्कोर 54 101* 114* 101*
गेंद किया 3470 2,835 19,937 4,504
विकेट 61 87 433 115
औसत गेंदबाजी 35.45 29.86 26.05 31.42
एक पारी में ५ विकेट 4 0 24 1
मैच में १० विकेट 1 0 1 0
श्रेष्ठ गेंदबाजी 6/58 4/22 7/72 5/16
कैच/स्टम्प 7/– 7/– 71/– 20/–
स्रोत : CricketArchive, 30 September 2008

चेतन शर्मा () (जन्म ३ जनवरी १९६६) एक पूर्व भारतीय क्रिकेटर और राजनेता हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए एक तेज गेंदबाज के रूप में टेस्ट क्रिकेट और एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय (वनडे क्रिकेट) खेली है।[1]

शर्मा को द्रोणाचार्य पुरस्कार से देश प्रेम आजाद द्वारा पुरस्कृत किया गया था, जो कपिल देव के गुरु भी थे।

घरेलू क्रिकेट करियर[संपादित करें]

उन्होंने १६ साल की उम्र में हरियाणा के लिए प्रथम श्रेणी में शुरुआत की और एक साल बाद वनडे इंटरनेशनल में जगह बनाने में कामयाब हुए।

अंतरराष्ट्रीय करियर[संपादित करें]

१९८४ में लाहौर में पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट में डेब्यु करते हुए, उन्होंने मोहसिन खान को अपनी पांचवीं गेंद पर बोल्ड किया और टेस्ट क्रिकेट में अपने पहले ओवर में एक विकेट लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बने। उन्होंने १९८५ में श्रीलंका में तीन टेस्ट मैचों में चौदह विकेट लिए थे।

शर्मा ने १९८६ में इंग्लैंड को २-० से हराने वाली भारतीय टीम के एक महत्वपूर्ण सदस्य थे। उन्होंने उस दौरान जो दो टेस्ट खेले थे, उनमें सोलह विकेट लिए। उन्होंने बर्मिंघम में १० विकेट लिए थे। साथ ही दूसरी पारी में उन्होंने करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए ५८ रन देकर ६ विकेट लिए थे। यह इंग्लैंड में एक भारतीय द्वारा दस विकेट लेने वाले इकलौते गेंदबाज है। इनके करियर पर चोटों का काफी असर पड़ा लेकिन जब वापस लौटे तो वह अगले तीन वर्षों के लिए कपिल देव के साथी गेंदबाज के पहली पसंद थे।

चेतन शर्मा ने अपना पहला टेस्ट मैच १७ से २२ अक्तूबर १९८४ को पाकिस्तान के खिलाफ खेला था।[2] आखिरी मैच २८ मई से ३ जून १९८९ को वेस्टइंडीज के खिलाफ किंगस्टन में खेला था।[3] पूरे करियर में २३ मुकाबलों में ६१ विकेट लिए और ५४ रनों की सर्वश्रेष्ठ पारी की मदद से ३९६ रन बनाए।

उन्होंने एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय (वनडे क्रिकेट) में पदार्पण ७ दिसंबर १९८३ को वेस्टइंडीज के खिलाफ जमशेदपुर में किया और अंतिम मैच जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में वेस्टइंडीज के खिलाफ ११ नवंबर १९९४ में खेला था।[4] इस दौरान शर्मा ने ६५ वनडे मैच खेले जिसमें ३४.८६ की औसत से ६७ विकेट लिए और सबसे अच्छा गेंदबाजी प्रदर्शन २२ रन देकर ३ विकेट है।[5]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Chetan Sharma". Cricinfo. मूल से 4 जुलाई 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 अक्टूबर 2019.
  2. "Full Scorecard of Pakistan vs India 1st Test 1984 - Score Report | ESPNcricinfo.com" (अंग्रेज़ी में). ESPNcricinfo. मूल से 3 अगस्त 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 अक्टूबर 2019.
  3. "Full Scorecard of West Indies vs India 4th Test 1989 - Score Report | ESPNcricinfo.com" (अंग्रेज़ी में). ESPNcricinfo. मूल से 21 फ़रवरी 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 अक्टूबर 2019.
  4. "Full Scorecard of India vs West Indies 4th ODI 1983 - Score Report | ESPNcricinfo.com" (अंग्रेज़ी में). ESPNcricinfo. मूल से 10 सितंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 अक्टूबर 2019.
  5. "Full Scorecard of India vs West Indies 5th ODI 1994 - Score Report | ESPNcricinfo.com" (अंग्रेज़ी में). ESPNcricinfo. मूल से 24 अगस्त 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 22 अक्टूबर 2019.