चुम्बकीय क्रोड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

चुम्बकीय क्रोड (magnetic core) उच्च पारगम्यता वाले पदार्थ होते हैं जिनका उपयोग चुम्बकीय क्षेत्र को परिरुद्ध (confine) करने एवं उसका मार्ग निर्धारित करने के लिये किया जाता है। चुम्बकीय क्रोड का उपयोग विद्युतचुम्बक, ट्रान्सफॉर्मर, विद्युत मोटर, विद्युत जनित्र, प्रेरक (इण्डक्टर), उपकरणों आदि में होता है।

क्रोड प्रायः पतली-पतली पटलों से बनायी जाती है ताकि भंवर धारा के कारण होने वाली ऊर्जा हानि को कम किया जा सके।
एकफेजी ट्रान्सफॉर्मर की क्रोड बहुत सी पटलों (लैमिनेशन्स) को मिलाकर बनती है।
]]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]