चावंड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
चावंड
एक ऐतिहासिक गाँव
चावंड की राजस्थान के मानचित्र पर अवस्थिति
चावंड
चावंड
राजस्थान का चावंड कस्बा
चावंड की भारत के मानचित्र पर अवस्थिति
चावंड
चावंड
चावंड (भारत)
निर्देशांक: 24°00′18″N 73°47′34″E / 24.005001°N 73.79264°E / 24.005001; 73.79264निर्देशांक: 24°00′18″N 73°47′34″E / 24.005001°N 73.79264°E / 24.005001; 73.79264
देशभारत
राज्यराजस्थान
जिलाउदयपुर जिला
संस्थापकमेवाड़ की तीसरी और अन्तिम राजधानी
भाषाएँ
 • आधिकारिकहिन्दी
समय मण्डलIST (यूटीसी+5:30)
आई॰एस॰ओ॰ ३१६६ कोडRJ-IN
वाहन पंजीकरणRJ-

चावंड राजस्थान का एक इतिहास-प्रसिद्ध कस्बा है जो महाराणा प्रताप द्वारा शासित मेवाड़ की अन्तिम राजधानी थी। यह उदयपुर शहर से मात्र 60 किलोमीटर दूर बसा एक छोटा सा कस्बा है जो उदयपुर जिले के सरादा तहसील में पड़ता है । मेवाड़ वंश के प्रतापी शूरवीर महाराणा प्रताप जी ने अपने जीवन के अंतिम दिनों में इस जगह को अपनी राजधानी बनाया था। यहां अभी भी एक तहस-नहस हुआ 'प्रतापी किला' खड़ा प्रताप के गौरव की गाथा सुना रहा है। इसी किले के पास महाराणा प्रताप ने माता चामुंडा देवी की शक्तिपीठ की स्थापना की।

महाराणा प्रताप ने यहीं अपने जीवन के अन्तिम दिन व्यतीत किया। एक दिन अपने सख़्त धनुष बाण की प्रत्यंचा चढ़ाते समय एक अंदरुनी चोट लगने से प्रताप का निधन हो गया । निधन के बाद बंदोली केजाद व चावंड के बीच बनी केजड़ झील के बीच में इनकी 7 खम्भो की छतरी बनाई गई। आज उनका चावंड में बना ये किला भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के संरक्षण में है।