ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
GlaxoSmithKline plc
प्रकार Public limited company
(एलएसई: GSK
NYSEGSK)
उद्योग Pharmaceutical
स्थापना 2000, by merger of Glaxo Wellcome and SmithKline Beecham
मुख्यालय London, United Kingdom
प्रमुख व्यक्ति Chris Gent, Chairman
Andrew Witty, Chief Executive
Julian Heslop, Chief Financial Officer
Dr. Moncef Slaoui, Chairman of Research and Development
उत्पाद Pharmaceuticals
राजस्व £28.36 billion(2009)[1]
प्रचालन आय £9.25 billion (2009)[1]
प्रबंधन आधीन परिसंपत्तियां £5.66 billion (2009)[1]
कर्मचारी 99,000 (2009)[2]
वेबसाइट www.gsk.com

जीएसके (GSK) के नाम से प्रसिद्ध ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन पीएलसी (GlaxoSmithKline plc) (एलएसई: GSKNYSEGSK) एक वैश्विक स्तर की औषध, जीव-विज्ञान (बायोलॉजिक्स), टीका एवं उपभोक्ता स्वास्थ्य-देखभाल कंपनी है जिसका मुख्यालय लंदन, यूनाइटेड किंगडम में स्थित है। आमदनी के आधार पर जॉन्सन एण्ड जॉन्सन एवं फाइज़र के बाद यह विश्व की तीसरी सबसे बड़ी फार्मास्यूटिकल कंपनी है।[3] इसके उत्पादों की श्रृंखला में बड़ी बीमारियों जैसे कि दमा, कैंसर, वायरस नियंत्रण, संक्रमण, मानसिक स्वास्थ्य, मधुमेह एवं पाचन संबंधी उत्पाद शामिल हैं।[4] इसका एक बहुत बड़ा उपभोक्ता स्वास्थ्य प्रभाग है जो कि मौखिक स्वास्थ्य उत्पादों, पौष्टिक पेय पदार्थों एवं आसानी से सुलभ चिकित्सा उत्पादों का उत्पादन एवं विपणन करता है, इनमें सेंसोडाइन, हॉर्लिक्स एवं गेविस्कॉन जैसे उत्पाद शामिल हैं।[4]

यह प्राथमिक रूप से लंदन स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध है एवं यह FTSE 100 सूचकांक का एक घटक है। इसके अतिरिक्त यह न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज में भी सूचीबद्ध है।

इतिहास[संपादित करें]

हैम्बर्ग, जर्मनी में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन की पूर्व इमारत

जीएसके की स्थापना सन 2000 में ग्लैक्सोवेलकम पीएलसी (जिसका गठन ग्लैक्सो पीएलसी द्वारा वेलकम पीएलसी के अधिग्रहण से हुआ था) तथा स्मिथक्लाइन बीकम पीएलसी (इसका गठन बीकम पीएलसी तथा स्मिथक्लाइन बीकम कॉरपोरेशन के विलय से हुआ था) के विलय से हुई थी।

ग्लैक्सोवेलकम[संपादित करें]

सन 1980 में अमेरिकी फार्मासिस्ट हेनरी वेलकम तथा सिलास बरोज़ ने लंदन में बरोज़ वेलकम एण्ड कंपनी की स्थापना की थी।[5] सन् 1902 में वेलकम ट्रॉपिकल रिसर्च लेबोरेटरीज प्रारंभ हुई.[5] सन् 1959 में वेलकम कंपनी ने पशु स्वास्थ्य संबंधी उत्पादों में अपनी सक्रिय भागीदारी बढ़ाने के उद्देश्य से कूपर, मैकडूगल एण्ड रॉबर्टसन इंक को खरीद लिया।[5] सन् 1970 में वेलकम कंपनी ने अपना उत्पादन केन्द्र न्यूयॉर्क से हटाकर उत्तरी कैरोलीना में स्थापित कर दिया और इसके बाद के वर्षों में वहाँ एक अन्य अनुसंधान केन्द्र भी स्थापित किया गया।

ग्लैक्सो की स्थापना सन् 1904 में बनीथोर्प, न्यूजीलैण्ड में की गई थी।[5] ग्लैक्सो मूलरूप से शिशु आहार उत्पादित करती और स्थानीय स्तर पर दूध एकत्र कर उसे प्रसंस्कृत करके ग्लैक्सो के नाम से ही शिशु आहार बनाती थी: इस उत्पाद की बिक्री सन् 1930 के दशक से प्रारंभ की गई और इसका नारा था 'ग्लैक्सो से बच्चे सुडौल बनते हैं'. बनीथोर्प की मुख्य सड़क पर एक वीरान और पुरानी डेयरी फैक्ट्री (इस फैक्ट्री में गाय के दूध को प्रसंस्कृत करके उसे पाउडर में बदला जाता था) स्थित है जिसपर ग्लैक्सो का वास्तिविक लोगो आज भी स्पष्ट रूप से दिखाई देता है, परंतु यहाँ ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे यह पता चल सके कि इस जगह से ही इतनी बड़ी बहुराष्ट्रीय कंपनी की शुरुआत हुई थी।

सन् 1935 में यह ग्लैक्सो कंपनी ग्लैक्सो लेबोरेटरीज बन गई और इसने सन् 1935 में लंदन में अपनी नई इकाईयाँ स्थापित कीं.[5] सन् 1947 एवं 1958 में ग्लैक्सो लेबोरेटरीज ने जोसफ नाथन एवं एलन एण्ड हैनबरी नामक दो कंपनियाँ खरीद लीं.[5] सन् 1978[5] में मेयेर लेबोरेटरीज खरीदने के साथ ही इसने अमेरिकी बाजार में अपनी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभानी प्रारंभ की. सन् 1983 में इसकी अमेरिकी शाखा ग्लैक्सो इंक दो अन्य स्थानों रिसर्च ट्राईएंगल पार्क (अमेरिकी मुख्यालय / अनुसंधान) एवं उत्तरी कैरोलीना के जेबूलॉन (अमेरिका उत्पादन) में स्थापित की गई। सन् 1995 में बरोज़ वेलकम एवं ग्लैक्सो के विलय से ग्लैक्सो वेलकम कंपनी बनी.[5] उसी वर्ष ग्लैक्सो वेलकम ने स्टीविनेज में अपने औषध अनुसंधान केन्द्रों की शुरुआत की.[5] तीन वर्षों के पश्चात ग्लैक्सो वेलकम ने पोलेण्ड में पोल्फा पोज़नान कंपनी को खरीद लिया।[5]

स्मिथक्लाइन बीकम[संपादित करें]

सन् 1843 में थॉमस बीकम ने इंग्लैण्ड में अपनी बीकम्स पिल्स लेक्सेटिव की शुरुआत के साथ ही बीकम समूह को स्थापित किया।[5]
दवाओं की उत्पादन दर बढ़ाने के उद्देश्य से बीकम्स ने अपनी पहली फैक्ट्री सन् 1859 में इंग्लैण्ड में लंकाशायर के सेण्ट हेलेन्स में खोली. सन् 1960 तक यह कंपनी फार्मास्यूटिकल उत्पादों में व्यापक रूप से संलग्न हो गई।

ब्रेंटफोर्ड में जीएसके का मुख्यालय

सन् 1830 में जॉन के. स्मिथ ने फिलाडेल्फिया में अपनी पहली फार्मेसी की शुरुआत की.[5] सन् 1865 में माहलोन क्लाईन उनके व्यवसाय से जुड़े जिसके परिणामस्वरूप 10 वर्षों के पश्चात स्मिथ, क्लाइन एण्ड कंपनी अस्तित्व में आई.[5] इसके पश्चात सन 1891 में फ्रेंच, रिचर्ड एण्ड कंपनी के साथ इसका विलय हो गया।[5] सन् 1929 में अनुसंधान केन्द्रित होने के कारण इसका नाम बदल कर स्मिथक्लाइन एण्ड फ्रेंच लेबोरेटरीज रख दिया गया। कुछ वर्षों के पश्चात स्मिथ क्लाईन एण्ड फ्रेंच लेबोरेटरीज ने फिलाडेल्फिया में एक नई प्रयोगशाला खोली, तत्पश्चात इसने पशु स्वास्थ्य में व्यावसायिक अनुसंधान करने वाली कंपनी नॉर्दन लेबोरेटरीज को खरीद लिया।

वैक्सीन के उत्पादन पर ध्यान केन्द्रित करने के उद्देश्य से स्मिथ क्लाईन एण्ड फ्रेंच लेबोरेटरीज ने सन् 1963 में रिचेर्चे एट इण्डस्ट्री थेराप्यूटिक्स (Recherche et Industrie Thérapeutiques) (बेल्जियम) को खरीद लिया।[5] विश्व स्तर पर कंपनियों को खरीदने की इस प्रक्रिया को जारी रखते हुए इस कंपनी ने सन् 1969 में कनाडा एवं अमरीका में सात अन्य कंपनियाँ खरीदीं. सन् 1982 में इन्होंने ऑंखों एवं त्वचा की देखभाल से संबंधित उत्पाद बनाने वाली एलर्जन कंपनी को भी खरीद लिया।[5] उसी वर्ष बाद में कंपनी का विलय बैकमैन इंक के साथ हो गया और इसका नाम बदल कर स्मिथक्लाइन बैकमैन कर दिया गया।[5]

सन् 1988 में स्मिथक्लाइन बेकमैन ने अपनी सबसे बड़ी प्रतिद्वंदी इण्टरनेशनल क्लीनिकल लेबोरेटरीज को खरीद लिया,[5] और सन् 1989 में इसका विलय बीकम के साथ हो गया और स्मिथक्लाइन बीकम पीएलसी का गठन हुआ।[5] इसके बाद इस कंपनी का मुख्यालय इंग्लैण्ड में स्थानांतरित कर दिया गया। अमरीका में अनुसंधान एवं विकास कार्यक्रम का विस्तार करने के उद्देश्य से स्मिथक्लाइन बीकम ने 1995 में एक नया अनुसंधान केन्द्र खरीदा. सन् 1997 में हार्लो में न्यू फ्रंटियर साईंस पार्क में एक अन्य अनुसंधान केन्द्र की शुरुआत की गई।[5]

सन् 2000 में ग्लैक्सो वेलकम एवं स्मिथक्लाइन बीकम का विलय होकर ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन कंपनी बनी.[6]

नई गतिविधियाँ[संपादित करें]

सन 2001 में इसने न्यू जर्सी आधारित ब्लॉक ड्रग को खरीदा है।[7]

16 नवम्बर 2009 को अमरीकी खाद्य एवं दवा प्रशासन (एफडीए) ने घोषणा की कि 2009 H1N1 इन्फ्ल्यूएंजा से बचाव के लिए 15 सितंबर को अनुमोदित चार वैक्सीन में जीएसके की आई.डी. बायोमेडिकल कॉर्प नामक सहायक कंपनी द्वारा उत्पादित एक वैक्सीन शामिल की जाएगी.[8]

जून 2010 में कंपनी ने 253 मिलियन डॉलर वाली लेबोरेटरीज फीनिक्स का अधिग्रहण किया; यह कंपनी मुख्य रूप से ब्राण्डेड जेनेरिक उत्पादों के विकास, विपणन एवं बिक्री के क्षेत्र में कार्यरत थी।[9]

दिसंबर 2010 में जीएसके ने खेलकूद पोषण कंपनी मैक्सीन्यूट्रिशियन के अधिग्रहण की घोषणा की.[10]

व्यापार[संपादित करें]

शुद्ध आय के आधार पर विश्व की दूसरी सबसे बड़ी फार्मास्यूटिकल कंपनी के रूप में, सन् 2007 में कंपनी की बिक्री £22.7 मिलियन और लाभ £7.8 मिलियन था।[11] जीएसके की वेबसाईट के अनुसार संपूर्ण विश्व में इसके 90,000 कर्मचारी हैं,[12] जिनमें विपणन एवं बिक्री से जुड़े हुए 40,000 कर्मचारी भी शामिल हैं। इसका वैश्विक मुख्यालय यूनाइटेड किंगडम, लंदन के ब्रेण्टफोर्ड में स्थित जीएसके हाउस है साथ ही अमेरिका में इसका मुख्यालय नॉर्थ कैरोलीना[13] के रिसर्च ट्राईएंगल पार्क (RTP) में स्थित है और इसका उपभोक्ता उत्पाद प्रभाग पेन्सिलवानिया में पिट्सबर्ग के उपनगर मूनटाउनशिप में स्थित है। अनुसंधान एवं विकास प्रभाग के प्रमुख मुख्यालय दक्षिण पूर्व इंग्लैण्ड, फिलाडेल्फिया एवं उत्तरी कैरोलीना के रिसर्च ट्राइएंगल पार्क (RTP) में हैं।

कंपनी का स्टॉक लंदन स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध है तथा इसके एडीआर एनवाइएसइ में सूचीबद्ध हैं। यद्यपि कंपनी लगभग 70 देशों में अपना व्यापार चला रही है, इसका सबसे बड़ा एकल बाजार अमरीका में है (जो कि कुल आय का लगभग 45% है).

सन् 2009 में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने फाइजर कंपनी के साथ एक संयुक्त उद्यम प्रारंभ करके ViiV हेल्थकेयर का गठन किया। ViiV हेल्थकेयर को फाइजर व ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन की सभी एच.आई.वी. परिसंपत्तियाँ प्राप्त हुई थीं।[14] ViiV हेल्थकेयर में 85% भाग ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन, एवं 15% भाग फाइज़र कंपनी का है।

उत्पाद[संपादित करें]

कंपनी के उत्पादों में शामिल हैं:

  • अड्वायर
  • अल्बेन्ज़ा
  • एली
  • एमर्ग
  • अमोक्सिल
  • एक्वाफ्रेश
  • एरीक्स्ट्रा
  • एरानन
  • ऑगमेंटिन
  • एवान्डिया
  • एवोडार्ट
  • बीसी पाउडर
  • बिएनो
  • बेकोनेज़
  • बायोटेन
  • बोनिवा
  • बूस्ट
  • सेफ्टिन
  • कॉरेग
  • कॉरेग सीआर
  • डेक्सेड्रीन
  • फ्लिक्सोनस
  • गेरिटल
  • ग्ली-ऑक्साइड
  • गुडीज पाउडर
  • जीएसके (GSK) - 189, 254
  • जीएसके (GSK) - 873140
  • जीडब्ल्यू (GW) - 320, 659
  • जीडब्ल्यू (GW) 501516
  • हॉर्लिक्स
  • इमिट्रेक्स
  • केप्प्रा
  • लामिक्टाल
  • लेनोक्सिन
  • लेविट्रा
  • लोवाज़ा
  • लुकोज़ाड
  • मैकलिन्स
  • निकॉडर्म
  • निकोरेट
  • निकुइटिन
  • पान्डेम्रिक्स
  • पैनाडोल
  • पेनाडोल नाईट
  • पर्नाट
  • पेरोडॉन्टेक्स
  • पाक्सिल
  • प्रोमेक्टा
  • राल्गेक्स
  • रिलेन्ज़ा
  • रीक्विप
  • रिबेना
  • सेंसोडिन
  • सेर्लिपेट
  • सेट्लर्स
  • एसकेएफ (SKF) 38393
  • एसकेएफ (SKF) 82958
  • टेगमेट
  • ट्रेक्सिमेट
  • टुम्स
  • ट्रिज़िविर
  • टिकर्ब
  • वलट्रेक्स
  • वेंटोलिन एचएफए (HFA)
  • वेरामिस्ट
  • वेसीकेयर
  • वेलबटरिन
  • जेनटेक
  • ज़ोफ्रन
  • जोवीरैक्स

बीमारियों को समाप्त करने हेतु उठाए गए कदम[संपादित करें]

ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन अन्य विश्वस्तरीय कंपनियों के साथ लिंफैटिक फिलारियासिस बीमारी को समाप्त करने हेतु सक्रिय रही है।[15] ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के पूर्व सी.ई.ओ. जीन पियरे (जे.पी.) गार्नियर ने कहा है 'इजिप्ट से प्राप्त आंकड़े यह दर्शाते हैं कि अब हम उस बीमारी को जड़ से समाप्त करने की स्थिति में आ चुके हैं जिसने संपूर्ण विश्व को सदियों से पीड़ित किया हुआ है। अशक्त बना देने वाली इस बीमारी को समाप्त करने के लिए पर्यप्र मात्रा में आवश्यक एल्बेंडोजोल देने के लिए प्रतिबद्ध हैं, परंतु इसकी संपूर्ण सफलता के लिए पूरे विश्व में फैले साझेदारों को समग्र रूप से लंबे समय तक कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध होना पड़ेगा.

इसके अतिरिक्त ग्लैक्सो को कीनिया में मलेरिया की बीमारी समाप्त करने पर वर्ल्डअवेयर बिज़नस अवार्ड जैसे पुरस्कारों के लिए भी नामित किया गया है।[16]

ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने हाल ही में ब्रिटेन में आई बाढ़ में राहत के लिए भी दान दिया है और इस कंपनी को ब्रिटेन की कॉरपोरेट सिटीजनशिप इण्डैक्स में दानदाताओं की सूची में प्रथम स्थान दिया गया है।[17]

वैश्विक स्थान[संपादित करें]

अलवर्स्टन में फैक्ट्री
अलवर्स्टन संयंत्र का प्रवेश द्वार
  • वैश्विक औषध संचालन का मुख्यालय रिसर्च ट्रेंगल पार्क, उत्तरी कैरोलिना में स्थापित यूएस ऑपरेशंस के साथ ब्रेंटफोर्ड, यूनाइटेड किंगडम में स्थित है।
  • उपभोक्ता उत्पाद का मुख्यालय पिट्सबर्ग के उपनगर मून टाउनशिप, पेंसिल्वेनिया में स्थित है।
  • प्रमुख आरएंडडी स्थल यूनाइटेड किंगडम के स्टॉकले पार्क, स्टेवेंज और वेयर; ज़गरेब, क्रोएशिया; फ्रांस में एव्रेक्स और लेस यूलिस; रिसर्च ट्रेंगल पार्क, उत्तरी कैरोलिना; लेवल, क्यूबेक और अपर मेरियन और कॉलेजविला, पेंसिल्वेनिया में स्थित हैं।
  • बायोफार्मास्युटिकल उत्पादों के प्रमुख केन्द्र बेल्जियम (वेवर और रिक्सेनसर्ट), जर्मनी (ड्रेसडेन), कनाडा (क्यूबेक, क्यूसी) और अमेरिका (मेरिएटा पीए और हैमिल्टन एमटी) में स्थित हैं।
  • थाणे, भारत और नाशिक, भारत में आरएंडडी के नए केन्द्र
  • शंघाई, चीन और बोस्टन, अमरीका में आरएंडडी के केन्द्र
  • चिकित्सा उत्पादों के लिए मुख्य उत्पादन स्थल यूके के इरविन, वेयर, मॉन्ट्रोस, बर्नार्ड केसल, क्रॉले, वर्थिंग और अल्वर्सटन; एवेर्यू, फ्रांस; अमेरिका में ब्रिसटल, किंग ऑफ प्रूसिया और जेबुलन; सिड्रा, प्यूर्टो रिको; ज्यूरोंग, सिंगापुर; कोर्क, आयरलैंड; पॉजनन, पौलैंड; पार्मा, इटली; ब्रासोव, रोमानिया; बोरोनिया, ऑस्ट्रलिया।
  • उपभोक्ता उत्पाद के लिए मुख्य उत्पादन स्थल मिडेनहेड, यूनाइटेड किंगडम; डुन्गार्वेन, आयरलैंड; मिसिसॉगा, ओंटारियो; एकेन, दक्षिण कैरोलिना; क्लिफटन, न्यू जर्सी; और सेंट. लुइस, मिसूरी और केन्या में स्थित हैं।
  • जीएसके (GSK) 39 देशों के 99 शहरों में मौजूद है

कॉरपोरेट शासन प्रणाली[संपादित करें]

ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के निदेशक बोर्ड के वर्तमान सदस्य हैं:

  • सर क्रिस्टोफर गेंट (गैर-कार्यकारी अध्यक्ष);
  • एंड्र्यू विटी (मुख्य कार्यकारी अधिकारी, कार्यकारी निदेशक);
  • डॉ॰ स्टीफनी बर्न्स (गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • लॉरेंस कल्प (गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • सर क्रिस्पिन डेविस (गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • जूलियन स्पेंसर हेसलोप (मुख्य वित्तीय अधिकारी, कार्यकारी निदेशक);
  • सर डेरिक मौघन (गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • सर इयान प्रोसर (वरिष्ठ स्वतंत्र गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • डॉ॰ रोनाल्डो श्मिट्ज़ (गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • मोंसेफ़ स्लावुई (अध्यक्ष, कार्यकारी निदेशक, अनुसंधान एवं विकास);
  • रॉबर्ट विल्सन (गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • डॉ॰ डैनियल पोडोलस्की (गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • टॉम डी स्वान (स्वतंत्र गैर-कार्यकारी निदेशक);
  • मार्क डूनोयर (अध्यक्ष, औषधि एशिया प्रशांत/ जापान);
  • डेविड पुलमन पीएच.डी. (अध्यक्ष - वैश्विक विनिर्माण और आपूर्ति);
  • जॉन क्लार्क (अध्यक्ष - उपभोक्ता हेल्थकेयर);
  • एम्मा वाल्म्सली (अध्यक्ष - उपभोक्ता हेल्थकेयर यूरोप);
  • एडी ग्रे (अध्यक्ष, फार्मास्यूटिकल्स यूरोप);
  • अब्बास हुसैन (अध्यक्ष - इमर्जिंग मार्केट);
  • रॉबर्टो सी. तबोअडा (फिलीपीन के प्रबंध निदेशक और अध्यक्ष);
  • डायड्री पी. कॉनेली (अध्यक्ष, उत्तर अमेरिकी फार्मास्यूटिकल्स);
  • जेम्स मर्डोक (गैर-कार्यकारी निदेशक).

8 अक्टूबर 2007 को यह घोषणा की गई कि मुख्या कार्यकारी के पद पर डॉ गार्नियर के स्थान पर श्री एंड्र्यू विटी अपना कार्यभार ग्रहण करेंगे. 44 वर्षीय श्री विटी ने मई 2008 में अपना पद ग्रहण कर लिया है। यद्यपि विगत वर्ष में कंपनी में बहुत से लोगों की नौकरी चली गई परंतु श्री विटी के वेतन में 76% की बढोत्तरी हुई.

विविधता[संपादित करें]

वर्किंग मदर पत्रिका[18] ने सन् 2007 में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन कंपनी को कामकाजी माताओं के लिए काम करने वाली सर्वश्रेष्ठ 100 कंपनियों में स्थान दिया साथ ही कंपनी को अपने प्रयासों के लिए इण्टरनेशनल चार्टर द्वारा भी प्रशंसा मिली. जीएसके को ह्यूमन राइट्स कैम्पेन के फाउण्डेशन के 2008 कॉरपोरेट इक्वलिटी इण्डैक्स में 100 प्रतिशत का संपूर्ण स्कोर प्राप्त हुआ। यह इण्डैक्स अमरीका के कॉरपोरेट क्षेत्र में कार्यरत समलैंगिक, लेस्बियन, उभयलिंगी, एवं विपरीतलिंगी (GLBT) कर्मचारियों, ग्राहकों एवं निवेशकों के साथ व्यवहार करने का वार्षिक आंकड़ा है। जीएसके, कर्मचारियों के विविध समूहों जैसे कि ECN, PTPN, GLBT, AAA, आदि को भी सहयोग देता है।

विवाद[संपादित करें]

  • पेरोक्जेटाइन (सेरोक्सेट, पेक्सिल) एक एसएसआरआइ अवसदारोधी है जिसे कंपनी ने सन् 1992 में प्रारंभ किया था। मार्च 2004 में एफडीए ने एसएसआरआइ व अन्य अवसदारोधियों पर एक ब्लैक बॉक्स चेतावनी लिखने का आदेश दिया. चेतावनी यह थी कि इस दवा से बच्चों तथा किशोरों में आत्महत्या की प्रवृति उत्पन्न हो सकती है। 1992 में एफडीए द्वारा पेरोक्जेटाइन अनुमोदित करने के बाद से लगभग 5,000 अमरीकी नागरिकों ने जीएसके के विरुद्ध मुकदमे दर्ज करवाए. 29 जनवरी 2007 को BBC ने यू॰के॰ में अपनी 'पैनोरामा' श्रृंखला के तहत सेरोक्सेट पर चौथा वृत्तचित्र प्रसारित किया।[19] यद्यपि तब तक एसएसआरआइ एवं वास्तविक आत्महत्याओं के बीच कोई संबंध सिद्ध नहीं हुआ था और ब्लैकबॉक्स चेतावनी लेबल विवादित कहे गए[20][21][22] परंतु हाल ही के बहुत से विश्लेषण इस संबंध को सिद्ध करते हैं और यहाँ तक कि पुराने मरीजों पर भी इसका प्रभाव देखा गया।[23]
  • नवंबर 2007 में यूनाइटे स्टेट कॉग्रेसनल कमेटी ने एक रिपोर्ट[24] जारी की जिसमें कंपनी की मधुमेह-रोधी दवा रोज़िग्लिटाज़ोन (एवंडिया) के ह्रदय संबंधी खतरे के बारे में डॉ॰ जॉन ब्यूस (चेपल हिल[25][26] में स्थित नॉर्थ कैरोलीना विश्वविद्यालय) द्वारा दर्शाई गई चिंता पर ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन द्वारा उन्हें दी गई धमकी का वर्णन किया गया था।[27]
  • मार्च 2006 में, कैलोफोर्निया एटॉर्नी जनरल बिल लॉकेयर ने घोषणा की कि ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन (GSK) कंपनी 14 मिलियन डॉलर अदा करेगी क्योंकि कंपनी पर आरोप थे कि राज्य सरकार के कार्यक्रम के तहत कंपनी की अवसदारोधी दवा पेक्सिल को बढ़ी हुई कीमतों पर भुगतान किया गया क्योंकि जीएसके पेटेण्ट की धोखाधड़ी, स्पर्धारोधी कानून के उल्लंघन, एवं बाजार पर अपना एकाधिकार बनाए रखने के लिए तथा दवाओं के जेनेरिक संस्करण को बाजार में आने से रोकने के लिए ओछी मुकदमेबाजी में लिप्त रही.[28]
  • 19 मई 2003 को एजीएम में जीएसके के शेयरधारकों ने कंपनी के सी.ई.ओ. जे.पी.गार्नर को £22 मिलियन का वेतन व अन्य लाभ पहुँचाने वाले प्रस्ताव को खारिज कर दिया. ऐसा पहली बार हुआ था कि किसी बड़ी ब्रिटिश कंपनी के शेयरधारकों ने इतने बड़े स्तर पर कंपनी के विरुद्ध विद्रोह किया हो परंतु इस विद्रोह को उच्चाधिकारियों की आय के नाम पर होने वाले अन्य तथाकथित 'फैट कैट' समझौतों के विरुद्ध एक संभावित निर्णायक मोड़ के रूप में जाना गया।
  • कंपनी तथा इसके शेयरधारकों को पशु अधिकार कार्यकर्ताओं ने भी अपने निशाने पर लिया क्योंकि यह कंपनी जानवरों पर परीक्षण करने वाली एक अन्य विवादित कंपनी हंटिग्नटन लाइफ साइंसेज (एचएलएस) की ग्राहक है।[29] एचएलएस सन् 1999 से ही, स्टॉप हंटिंगडन एनीमल क्रूअलिटी (SHAC) एवं एनीमल लिब्रेशन फ्रंट (ALF) द्वारा प्रारंभ किए गए एक अंतरराष्ट्रीय अभियान के निशाने पर रही है; इसकी शुरुआत तबसे हुई थी जब पीपुल फॉर द एथिकल ट्रीटमैण्ट ऑफ एनीमल (PETA) ने छुपकर एचएलएस की एक वीडियो फुटेज बना ली. इस वीडियो फुटेज का प्रसारण ब्रिटिश टेलीविजन पर किया गया, इस फुटेज में दिखाया था कि किस तरह से कंपनी के लोग जानवरों को पीट रहे थे, लात व घूसे मार रहे थे, जानवर चीख रहे थे और जानवरों की देखभाल के लिए नियुक्त कंपनी के लोग उन जानवरों पर हँस रहे थे। 7 सितंबर 2005 को ALF ने जीएसके के अधिकारी पॉल ब्लैकबर्न के घर के दरवाजे पर दो लीटर ईंधन व चार पाउण्ड विस्फोटक सामग्री से भरा हुआ बम फेंक दिया इससे उनके घर को थोड़ा बहुत नुकसान हुआ।
  • नवंबर 2005 में, एड्स हेल्थकेयर फाउण्डेशन ने कंपनी पर यह आरोप लगाया कि कंपनी ने अपना लघु अवधि का एकाधिकार लाभ बढ़ाने के लिए एड्स रोधी दवा AZT का उत्पादन नहीं बढ़ाया जबकि इस दवा की बाजार में मांग बहुत बढ़ चुकी थी जिसके कारण बाजार में AZT की कमी हो गई और इससे अफ्रीका में एड्स के बहुत से मरीज प्रभावित हुए. जीएसके ने यह घोषणा की कि कंपनी ने एड्स के मरीजों के गंभीर हेपाटोटोक्सिटी को ध्यान में रखते हुए HIV के मरीजों के CCR5 एण्ट्री इनहिबिटर, एप्लाविरोक (GW873140) के नैदानिक परीक्षणों पर रोक लगा दी है।[30] जून 2006 में जीएसके ने कहा कि कंपनी ने दुनिया भर के गरीब देशों में इन दवाओं में से कुछ पर अपने लाभ रहित शुल्क में भी लगभग 30% की कटौती की है।[31]
  • दिसंबर 2003 में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन में आनुवंशिकी के तत्कालीन अंतर्राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने यह स्वीकार किया कि अधिकतर नुस्खा दवाईयाँ रोगियों के लिए कारगर नहीं होतीं. "90 प्रतिशत से भी अधिक दवाएँ केवल 30 से 50 प्रतिशत लोगों के लिए ही कारगर होती हैं।' डॉ॰ रोजेज ने कहा कि 'मैं यह नहीं कहता कि अधिकतर दवाएँ काम नहीं करती. बल्कि मैं यह कहूँगा कि अधिकतर दवाएँ मात्र 30 से 50 प्रतिशत रोगियों के लिए ही कारगर रहती हैं।"[32]
  • अक्टूबर 2010 में अमरीका के न्याय विभाग ने घोषणा की कि स्मिथक्लाइन आपराधिक दण्ड के रूप में 150 मिलियन डॉलर, तथा नागरिक दण्ड के रूप में 600 मिलियन डॉलर का भुगतान करेगी. ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने प्यूर्टिको के सिड्रा में स्थित अपनी सहायक कंपनी एस.बी. फार्माको प्यूर्टो रिको इंक (SB Pharmco Puerto Rico Inc) द्वारा खराब तरीके से बनाई गई तथा दूषित दवाओं के उत्पादन करने पर कंपनी के विरुद्ध आपराधिक एवं नागरिक शिकायतों की क्षतिपूर्ती के रूप में 750 मिलियन डॉलर का भुगतान करने पर अपनी सहमति दे दी.

विधिक[संपादित करें]

2003 में अधिकारियों ने पाया कि ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन ने अपने दो उत्पादों, अवसाद की दवा पेक्सिल तथा नासिका एलर्जी स्प्रे फ्लोनैस के लिए मेडीकेड से उचित से अधिक कीमत ली है। अतः एक कारपोरेट नैतिकता समझौते के अंतर्गत कंपनी को जुर्माने के रूप में 88 मिलियन डालर चुकाने पड़े. उसी साल कंपनी इन्टरनल रेवेन्यु सर्विस (आईआरएस) के विरुद्ध भी केस हार गयी तथा उसे गत वर्षों में बकाया टैक्स व ब्याज के मामले में 7. 8 बिलियन डालर का भुगतान करना पड़ा, जो आईआरएस के इतिहास का अब तक का सबसे बड़ा मामला था।

अंततः 26 अगस्त 2004 को न्यू यार्क स्टेट अटार्नी जनरल एलियट स्पिट्जर के कार्यालय ने यह घोषणा की कि ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के विरुद्ध सभी कानूनी मामले निबटा लिए गए हैं। करार के तहत कंपनी को अपने कुछ परीक्षण-पूर्व व नैदानिक शोध सार्वजनिक करने को कहा गया, जिन्हें आम तौर पर अन्य दवा कंपनियाँ अथवा यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफ.डी.ए.) गुप्त रखते थे। अटार्नी जनरल स्पिट्जर ने इस समझौते की सराहना की तथा कहा कि यह समझौता एक मूल बदलाव का कारण बनेगा क्योंकि अब डॉक्टर व मरीज इन शोधों के आधार पर उचित निर्णय ले पायेंगे . समझौते का यही भाग न्यू यार्क अटार्नी जनरल तथा रोज़ फाएरस्टीन का मुख्य ध्येय था। रोज़ अटार्नी आफिस में कार्यरत वह व्यक्ति थे जिन्होनें इस मामले के लिए अथक प्रयास किये थे। जुर्माने के रूप में दोनों पक्ष 2. 5 मिलियन डालर पर सहमत हो गए। इस समझौते से कुछ पूर्व, 3 अगस्त 2004 को आयोवा से सीनेट सदस्य चार्ल्स ग्रैसली ने ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन को लोवा से एक पत्र लिख कर चिंता व्यक्त की थी की कंपनी सभी उपलब्ध जानकारियाँ फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफ.डी.ए.) को मुहैया नहीं करवा रही हैं। उनके इस पत्र का मुख्य आधार, फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफ.डी.ए.) के एक सदस्य डॉक्टर एंड्र्यू मोशोल्डर के ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के विरुद्ध दिए गए कुछ अति आलोचनात्मक बयान थे। इन बयानों में मोशोल्डर ने ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन पर यह गंभीर आरोप लगाये थे कि कंपनी की दवा पेक्सिल का प्रयोग करने से बच्चों में आत्मघाती प्रवृत्तियां उत्पन्न होती हैं, व कंपनी इस तथ्य को सार्वजनिक नहीं कर रही है। ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने यह बात कभी स्वीकार नहीं की कि उनके द्वारा न्यू यार्क स्टेट अटार्नी के साथ समझौते के लिए राज़ी होने के पीछे सीनेटर ग्रैसली का पत्र ही था।[33]

12 सितम्बर 2006 को ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन ने इतिहास के सबसे बड़े टैक्स भुगतान में टैक्स अधिकारियों को 3. 1 बिलियन डालर चुकाने की सहमती दी. इस विवाद के मूल में 1989 और 2005 के बीच बेचे गए कंपनी के कुछ पुराने उत्पाद थे जिनमें जैन्टेक (Zantak)) प्रमुख था। बड़ी बहुप्रभागीय कंपनियों में टैक्स का मूल्यांकन हरेक प्रभाग के स्थानीय राज्य के टैक्स नियमों के अनुसार किया जाता था। इस मामले में मुख्य मुद्दा यह रहा कि ग्लैक्सो स्मिथक्लाइन किस तरह लाभांश अपने विभिन्न प्रभागों में बाँट रहा है। कंपनी के भीतर ही उत्पादों के हस्तांतरण की प्रक्रिया, कीमत निर्धारण तथा इन्टरनल रेवेन्यु सर्विस को देय टैक्सों को लेकर हुए विवाद ने इतना बड़ा स्वरुप ले लिया।[34]

फरवरी 2007 में यूके के सीरियस फ्रॉड ऑफिस ने ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के विरुद्ध ईराक में 'आयल फार फूड ' विवाद में शामिल होने के आरोपों की जांच शुरू की. कंपनी पर सद्दाम हुसैन को रिश्वत देने का आरोप था।[35]

पैरोक्ज़ेटीन[संपादित करें]

अवसाद की दवा पैरोक्ज़ेटीन की पहले दस साल की क्रय अवधि में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन यह दावा करती रही थी यह मरीज को "लत नहीं लगाती" है।[36] परन्तु 2001 में बी. बी. सी. ने यह घोषणा की कि वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (W. H. O) के शोध में तथ्य इसके ठीक विपरीत पाए गए हैं तथा इसे छोड़ने के समय मरीज को अत्यंत पीड़ा होती है।[37] 2002 में यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफ.डी.ए.) ने भी इस दवा के विरुद्ध चेतावनी जारी कर दी. साथ ही इंटरनेशनल फेडरशन ऑफ फार्मास्युटिकल मेन्यूफेक्चरर्स (IFPMA) ने ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन पर टीवी विज्ञापनों के माध्यम से दर्शकों एवं मरीजों को धोखा देने का आरोप जड़ दिया.[38] इस बीच सोशल आडिट के प्रमुख चार्ल्स मेडावर ने ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में लिखे अपने एक लेख में कहा, "यह दवा वर्षों से मरीजों के लिए सुरक्षित बताई जा रही है, परन्तु तथ्य यह है कि इसे छोड़ते समय मरीज को अत्यंत पीड़ा होती है और वह इसका आदी हो जाता है। इस बात को जानना डॉक्टरों, मरीजों तथा निवेशकों तीनों के लिए बेहद महत्त्वपूर्ण है।" दस वर्ष की लाइसेंस प्राप्त बिक्री के दौरान पैरोक्ज़ेटीन एक अत्यंत सफल उत्पाद साबित हुई तथा ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के राजस्व का 10 % भाग इसी से आता था। इसीलिए कंपनी इस पर कुछ कहने से बचती रही है, तथा आज भी यह दवा सुरक्षित (मरीज को आदी न करने वाली) कह कर बेची जा रही है।[38]

22 दिसम्बर 2006 को एक अमरीकी अदालत ने हूर्मन बनाम स्मिथक्लाइन बीकम मामले में यह निर्णय सुनाया कि जो व्यक्ति पेक्सिल (आर) अथवा पेक्सिल सीआर (टी.एम.) (पैरोक्ज़ेटीन) बच्चों के लिए प्रयोग करते हैं वे 63. 8 मिलियन डालर के एक कानूनी समझौते के तहत लाभांश के हकदार हैं।[39] इस दवा के विरुद्ध यह केस उपभोक्ता अधिकारों का केस बन गया था। 1992 में एफ.डी.ए. से लाईसेंस प्राप्त करने से अब तक 5000 अमरीकी तथा हजारों अन्य मरीजों ने इस दवा के लिए ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के खिलाफ केस दर्ज किये हैं। अधिकतर लोगों का यह आरोप रहा कि कंपनी ने इसके अभ्यस्त करने वाले लक्षण तथा दुष्प्रभावों का सही ज्ञान उपभोक्ताओं को नहीं दिया.

एक पेक्सिल विरोधी वेबसाइट[40] के अनुसार इस मुहिम में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के खिलाफ अब लाखों लोग शामिल हैं। हालाँकि इस आशय की पहली वेबसाइट 2006 में वेब से हटा ली गयी थी। सुनने में आया था कि उस वेबसाइट के मालिक ने ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन से आर्थिक समझौता कर लिया है। (बाद में मार्च 2007 में सैरोक्ज़ेट सीक्रेट्स[41] नामक एक अन्य वेबसाइट[42] ने खुलासा किया कि www.archive.org पर अभी भी यह वेबपेज उपलब्ध है).

इसी से मिलते जुलते एक केस में जनवरी 2007 में सैरोक्ज़ेट सीक्रेट्स नाम की इस वेबसाइट[43] ने लिखा कि वे सैरोक्ज़ेट नाम की दवा के विरुद्ध केस में लन्दन हाई कोर्ट पहुंचने के निकट हैं। इस दवा में भी छोड़ते समय अत्यंत पीड़ा दायक होने तथा मरीजों को अभ्यस्त करने वाले लक्षण थे। नेशनल लिटिगेशन ग्रुप नामक एक समूह ने हजारों मरीजों के लाभ के लिए ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के विरुद्ध यह मुकदमा लड़ने का बीड़ा उठाया. इसके लिए पहले सरकारी धन उपलब्ध नहीं था परन्तु बाद में वे एक सार्वजनिक हित अपील पैनल में अपील जीत गए और यह धन केस के लिए मिल गया। ह्यू जेम्स के वकीलों ने भी इसकी पुष्टि की. दिक्कत यह थी की पुराने कानून के तहत ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन के विरुद्ध कोई केस बनता ही नहीं था![44]

लेकिन फिर भी मेडिसिन्स एंड हेल्थकेयर प्राडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी (MHPRA) ने मार्च 2008 में यह निर्णय सुनाया कि सैरोक्ज़ेट नमक इस दवा के दुष्प्रभावों तथा अन्य हानियों की जानकारी ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन को पहले से ही मरीजों की विस्तार से देनी चाहिए थी।[45] जीएसके पर पुराने नियमों के तहत कार्यवाही नहीं की जा सकती थी।

2008 के बाद से इस दवा के विषय में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने यह स्वीकार किया कि इसके प्रयोग को छोड़ते समय कुछ जटिल समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं।[46]

रिबेना[संपादित करें]

27 मार्च 2007 को ही ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने न्यूजीलैंड की कामर्स कमीशन में फेयर ट्रेड एक्ट के तहत लोगों को गुमराह करने के 15 महाभियोगों में अपना दोष स्वीकार किया। यह अभियोग रिबेना नामक एक लोकप्रिय पेय (ब्लैककरांट फल से निर्मित) से संबंधित थे। कंपनी ने इसे विटामिन सी से समृद्ध कह कर बेचा था। परन्तु ऑकलैंड के पकुरंगा कालेज की दो छात्राओं ऐना देवथासन तथा जेनी सुओ के एक स्कूली प्रोजेक्ट से यह सिद्ध हो गया रिबेना के 100 मिलीलीटर के पैक में न के बराबर विटामिन सी उपलब्ध है। दोनों छात्राओं ने कंपनी से उत्तर माँगा परन्तु ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने कोई सही उत्तर नहीं दिया. तत्पश्चात यह विवाद टीवी पर भी छा गया, जिसके बाद कामर्स कमीशन ने इसे अपने हाथ में ले लिया। कमीशन के परीक्षणों में दोनों छात्राओं का दावा सही सिद्ध हुआ!

हालाँकि कुल अभियोगों की संख्या 88 से घट कर 15 रह गयी, परन्तु मार्च 2002 से मार्च 2006 के बीच हुयी रिबेना की बिक्री के लिए कंपनी को 217,000 डालर चुकाने पड़े. ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने कोर्ट में कहा कि कुछ परीक्षण प्रक्रियाओं की कमियों के कारण यह सब समस्याएं उत्पन्न हुई हैं और अब इन प्रक्रियाओं को बदल दिया गया है। इसके बाद कोर्ट ने कंपनी को एक सही तथ्य बताने वाला विज्ञापन बनाने के लिए कहा. अपने अधिवक्ता एडम रॉस के माध्यम से कंपनी ने यह मान लिया कि रिबेना के 100 मिलीलीटर पैक में 7 मिलीग्राम विटामिन सी नहीं है (यह मात्रा एक आम स्वस्थ व्यक्ति की विटामिन सी की प्रतिदिन की ज़रुरत का लगभग 44 प्रतिशत है). अंततः अपने नए विज्ञापन में कंपनी ने केवल यह दावा किया की ब्लैककरांट में संतरे से 4 गुना अधिक विटामिन सी है। शब्दों के हेर फेर में लिप्त यह दावा भी आधा सच और आधा मिथ्या ही था![47]

अवेंडिया[संपादित करें]

क्लीवलैंड क्लिनिक के हृदयरोग विभाग के प्रमुख स्टीव निसेन ने 14 जून 2007 को न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में एक लेख लिखा. उन्होंने कहा कि अनुसंधान ने यह स्पष्ट कर दिया है कि अवेंडिया नाम से बिकने वाला पदार्थ रोज़िग्लिटाज़ोन, ह्रदय घात का कारण बन सकता है। उसी समय के आसपास न्यू यार्क टाइम्स ने भी निसेन के दवा कंपनियों के कुछ कर्मचारियों के साथ हुए वार्तालाप प्रकाशित किये. इसका कोई परिज्ञान ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन को नहीं था, तथा ओहायो प्रांत में यह प्रकाशन वैधानिक था क्योंकि वहां के कानूनों के मुताबिक दोनों में से एक पार्टी को परिज्ञान होना काफी था। अमरीकी कांग्रेस अब यह जांच कर रही है कि रोज़िग्लिटाज़ोन को लाइसेंस देते समय तथा बाद में क्या-क्या जानकारियाँ उपलब्ध थीं, तथा क्या ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने जानबूझ कर कुछ महत्त्वपूर्ण तथ्य छुपाये थे। फरवरी 2010 में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने रोज़िग्लिटाज़ोन पर एक लेख[48] को छपने से रोकने का पूरा प्रयास किया।[49] वहीँ जुलाई, 2010 में अमरीकी वित्त समिती ने एक पत्र में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन पर यह गंभीर आरोप लगाये कि उसने अवेंडिया के खतरों से लोगों को अवगत नहीं कराया.[50]

कंपनी की नीतियों में बदलाव की घोषणाएं[संपादित करें]

फरवरी 2009 में ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन प्रमुख एंड्र्यू विट्टी ने यह घोषणा की कि कंपनी अत्यंत निर्धन देशों में अपने उत्पादों पर 25 प्रतिशत छूट देगी, साथ ही कुछ विशेष रोगों के पेटंट व सामग्री ज्ञान भी उन देशों के साथ साझा करेगी, एवं अपने लाभ का 20 प्रतिशत हिस्सा वहां की स्वास्थ्य प्रणालियों को सुधारने में व्यय करेगी.[51] इस निर्णय को चिकित्सा क्षेत्र के धर्मार्थ संगठनों से मिश्रित प्रतिक्रियाएं मिली हैं। मेडिसिन सैंस फ्रंटियरेस (Médecins Sans Frontières) जैसी प्रमुख संस्थाओं ने इसका खुले दिल से स्वागत किया, जिसे देख कर अन्य संस्थाएं भी इस कदम के स्वागत को आगे आयीं.[52][53] हालाँकि मेडिसिन सैंस फ्रंटियरेस ने इस बात पर खेद भी जताया कि ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने इस निर्णय में एचाईवी संबंधी पेटेंटों तथा मध्य आय वाले राष्ट्रों को शामिल नहीं किया।[54]इस निर्णय को चिकित्सा क्षेत्र के धर्मार्थ संगठनों से मिश्रित प्रतिक्रियाएं मिली हैं।[55][56] मेडिसिन सैंस फ्रंटियरेस (Médecins Sans Frontières) जैसी प्रमुख संस्थाओं ने इसका खुले दिल से स्वागत किया, जिसे देख कर अन्य संस्थाएं भी इस कदम के स्वागत को आगे आयीं.[57][58] हालाँकि उसने इस बात पर खेद भी जताया कि ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन ने इस निर्णय में एचाईवी संबंधी पेटेंटों तथा मध्य आय वाले राष्ट्रों को शामिल नहीं किया।[59]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • यूनाइटेड किंगडम में औषध उद्योग
  • रेचेर्च एट इंडस्ट्री थेरापयूटिक्स (Recherche et Industrie Thérapeutiques) (आर.आई.टी.)
  • क्वेस्ट डायग्नोस्टिक्स
  • फाइज़र

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Annual Report 2009
  2. "Company Profile for GlaxoSmithKline PLC (GSK)". http://zenobank.com/index.php?symbol=GSK&page=quotesearch. अभिगमन तिथि: 2008-10-03. 
  3. "Global 500 - Pharmaceuticals". Fortune. 20 जुलाई 2009. http://money.cnn.com/magazines/fortune/global500/2009/industries/21/index.html. अभिगमन तिथि: 19 अगस्त 2010. 
  4. "Our company". GlaxoSmithKline plc. http://www.gsk.com/about/company.htm. अभिगमन तिथि: 25 अगस्त 2010. 
  5. जीएसके (GSK) हिस्ट्री
  6. फार्मास्युटिकल गेंट्स ग्लैक्सो इंस स्मिथक्लाइन फाइनली मर्ज डेली टेलीग्राफ, 2000
  7. "GlaxoSmithKline Completes the Purchase of Block Drug for $1.24 Billion". PR Newswire. http://prnwire.com/cgi-bin/stories.pl?ACCT=104&STORY=/www/story/01-16-2001/0001404508&EDATE=. अभिगमन तिथि: 2010-08-01.  प्रेस रिलीज.
  8. "FDA Approves Additional Vaccine for 2009 H1N1 Influenza Virus". U.S. Food and Drug Administration (FDA). November 16, 2009. http://www.fda.gov/NewsEvents/Newsroom/PressAnnouncements/ucm190783.htm. 
  9. जीएसके (GSK) एक्वेरिस लेबोरेटरीज फीनिक्स फॉर $253m इन्फोग्रोक (InfoGrok) से लेख समाचार
  10. "UPDATE 2-Glaxo buys protein-drinks firm Maxinutrition". Reuters. http://www.reuters.com/article/idUSLDE6BC0XO20101213. अभिगमन तिथि: 2010-12-20.  आर्टिकल.
  11. जीएसके (GSK) एनवल रिपोर्ट 2007
  12. "ग्लैंस पर जीएसके (GSK)." ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन. 03 नवम्बर 2009. जीएसके (GSK), वेब. 23 फ़रवरी 2010. <http://www.gsk.com/about/ataglance.htm>.
  13. ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन पिक्स आरटीपी (RTP) फॉर कन्सोडिलिडेटेड यूएस हेडक्वाटर्स
  14. http://www.ft.com/cms/s/0/5327ff12-2aaa-11de-8415-00144feabdc0.html
  15. ग्लोबल एलाइंस टू एलिमिनेट लिम्फेटिक फाइलेरिएसिस
  16. दी शैल टेक्नोलॉजी फॉर डेवलपमेंट एवार्ड वर्ल्डवेयर बिजनेस अवार्ड
  17. यूके कॉपरेट सिटीज़नशिप रैंकिंग्स
  18. वर्किंग मदर
  19. "Secrets of the drug trials". BBC. 2007-01-29. http://news.bbc.co.uk/1/hi/programmes/panorama/6291773.stm. अभिगमन तिथि: 2007-08-15. 
  20. सुसाइड डाटा प्रोम्प्ट कॉल फॉर ब्लैक-बॉक्स रिव्यू
  21. रिलेशनशिप बिटवीन एंटिडप्रजेंट्स एंड सुसाइड अटैम्प्स: एन एनालिसिस ऑफ दी वेटरन्स हैल्थ एडमिनिस्ट्रेशन डाटा सेट्स
  22. ब्लैक बॉक्स वॉर्निंग लिंक्ड टू सुसाइड स्पाईक
  23. Des antidépresseurs en lien avec le suicide: encore?
  24. "Committee staff report to the chairman and ranking member. Committee on Finance United States Senate. The intimidation of Dr John Buse and the diabetes drug Avandia. November 2007." (PDF). United States Congressional committee. Archived from the original on 2007-12-28. http://web.archive.org/web/20071228160046/http://www.senate.gov/~finance/press/Bpress/2007press/prb111507a.pdf. अभिगमन तिथि: 2008-01-22. 
  25. "Speakers at Carolina". http://www.unc.edu/depts/uncspeak/busejohn.html. अभिगमन तिथि: 2008-01-22. 
  26. "About the American Diabetes Association". American Diabetes Association. http://www.diabetes.org/aboutus.jsp?WTLPromo=HEADER_aboutus. 
  27. Clark, Andrew (November 22, 2007). "GSK accused of trying to intimidate critic". London: The Guardian. http://www.guardian.co.uk/business/2007/nov/22/pharmaceuticals.glaxosmithklinebusiness. अभिगमन तिथि: May 3, 2010. 
  28. "Attorney General Lockyer Announces $14 Million National Settlement with GlaxoSmithKline to Resolve Patent Fraud, Antitrust Allegations". California Attorney General. http://www.ag.ca.gov/newsalerts/release.php?id=1279. 
  29. बीबीसी - "ग्लैक्सो 'वुडनॉट बी ड्राइवेन आउट ऑफ यूके"'. 17 मई 2006
  30. ट्रायल्स ऑफ एप्लाविरोक हेल्टेड इन ट्रीटमेंट-नेटिव पेशेंटस जर्नल वॉच 15 सितम्बर 2005
  31. ग्लैक्सो विल कट एड्स ड्रग प्राइस फॉर पूअर नेशंस केमिकल एंड इंजीनियरिंग न्यूज़. 1 जून 2006
  32. ग्लैक्सो चीफ: आवर ड्रग्स डू नॉट वर्क ऑन मोस्ट पेशेंट्स - दी इंडिपेंडेंट, 8 दिसम्बर 2003
  33. चेप्टर 18, साइड इफेक्ट्स: ए प्रॉस्टिक्यूटर, ए विसिलब्लोअर, एंड ए बेस्टसेलिंग एंटीप्रजेंट्स ऑन ट्रायल, 2008
  34. 13129-2353321,00.html जीएसबी (GSK) लार्जेस्ट टेक्स डिस्प्यूट इन हिस्ट्री फॉर $3.1bn टाइम्स यूके ऑनलाइन 12 सितम्बर 2006
  35. 2012485,00.html गार्जियन अनलिमिटेड फ़रवरी 14, 2007
  36. "Judge: Paxil ads can't say it isn't habit-forming". USA Today. August 20, 2002. http://www.usatoday.com/news/health/2002-08-20-paxil-ads_x.htm. अभिगमन तिथि: May 3, 2010. 
  37. एंटी-डिप्रजेंट एडिक्शन वॉर्निंग बीबीसी समाचार, 11 जून 2001
  38. विदड्रौल फ्रॉम पेरोक्सेटिन कैन बी सेवरर, वॉर्न्स एफडीए - टोंक्स 324 (7332): 260 - बीएमजे
  39. पेडिएट्रिक सेटलमेंट पाक्सिल पेडिएट्रिक सेटलमेंट वेब साइट
  40. पाक्सिल प्रोटेस्ट साइट
  41. सेरोक्स़ट सीक्रेट्स
  42. Paxil Protest
  43. सेरोक्स़ट सीक्रेट्स वेबसाइट
  44. ह्यूग जेम्स सॉलिसिटर सेरोक्स़ट न्यूज़
  45. 'सुसाइड' पिल्स फिर्म स्लेम्ड
  46. पाक्सिल (पेरोक्सेटिन हाइड्रोक्लोराइड) प्रेस्क्रिबिंग इन्फोर्मेशन
  47. जज ऑर्डर्स रिबना टू फेस अप
  48. Nissen SE (April 2010). "The rise and fall of rosiglitazone". Eur. Heart J. 31 (7): 773–6. doi:10.1093/eurheartj/ehq016. PMID 20154334. 
  49. Lüscher TF, Landmesser U, Ruschitzka F (May 2010). "Standing firm--the European Heart Journal, scientific controversies and the industry". Eur. Heart J. 31 (10): 1157–8. doi:10.1093/eurheartj/ehq127. PMID 20418345. Archived from the original on 2010-05-09. http://web.archive.org/web/20100509072248/http://freepdfhosting.com/4f161330ef.pdf. 
  50. Max Baucus; Chuck Grassley (2010-07-12), "Finance Committee Letter to the FDA Regarding Avandia", Finance Committee, http://finance.senate.gov/newsroom/chairman/download/?id=a5c07780-6351-4905-8c63-52e4a7a7a66b, अभिगमन तिथि: 2010-08-24 
  51. ड्रग गेन्ट ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन प्लेज चीप मेडिसिन फॉर वर्ल्ड्स पूअर, द गार्जियन, 2009-02-13
  52. यूनिटेड (UNITAID) स्टेटमेंट ऑन जीएसके (GSK) पेटेंट पूल फॉर नेग्लेक्टेड डिजीज, 2009-02-16
  53. जीएसके (GSK) एक्सेस टू मेडिसिन्स: दी गुड, दी बैड, एंड दी इलूसरी प्रूफ. ब्रूक के. बेकर, स्वास्थ्य जीएपी, 2009-02-15
  54. एमएसएफ रेस्पॉन्स टू जीएसके (GSK) पेटेंट पूल प्रपोज़ल, मेडिसिन्स संस फ्रंटियर्स, 2009-02-16
  55. यूनिटेड (UNITAID) स्टेटमेंट ऑन जीएसके (GSK) पेटेंट पूल फॉर नेग्लेक्टेड डिजीज, 2009-02-16
  56. जीएसके (GSK) एक्सेस टू मेडिसिन्स: दी गुड, दी बैड, एंड दी इलूसरी प्रूफ. ब्रूक के. बेकर, स्वास्थ्य जीएपी, 2009-02-15
  57. यूनिटेड (UNITAID) स्टेटमेंट ऑन जीएसके (GSK) पेटेंट पूल फॉर नेग्लेक्टेड डिजीज, 2009-02-16
  58. जीएसके (GSK) एक्सेस टू मेडिसिन्स: दी गुड, दी बैड, एंड दी इलूसरी प्रूफ. ब्रूक के. बेकर, स्वास्थ्य जीएपी, 2009-02-15
  59. एमएसएफ रेस्पॉन्स टू जीएसके (GSK) पेटेंट पूल प्रपोज़ल, मेडिसिन्स संस फ्रंटियर्स, 2009-02-16

बाह्य कड़ियां[संपादित करें]

साँचा:GlaxoSmithKline साँचा:Pharmaceutical industry in the United Kingdom