गोस्वामी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

गोस्वामी (गुसाईं) एक भारतीय उपनाम हैं।[1] आदि गुरु शंकराचार्य ने ब्राह्मण समाज के लोगों में से धर्म की हानि रोकने के लिये श्रेष्ठ ब्राह्मणों का एक नये सम्प्रदाय की शुरुआत की जिन्हे गुसाईं/गोस्वामी /गोसाईं कहा गया। कुल दस भागों में इन्हे विभाजित किया गया अर्थात इसमें दस तरह की उपजातिया होती है जिनमे गिरि, पुरी, भारथी, वन, अरण्य, पर्वत, सागर, तीर्थ, आश्रम, एवं सरस्वती शामिल है । इन्हें दशनाम गोसाई/गुसाईं/गोस्वामी के रूप मे जाना जाता हैं। इस शीर्षक का मतलब गौ अर्थात पांचो इन्द्रियाँ, स्वामी अर्थात नियंत्रण रखने वाला। इस प्रकार गोस्वामी का अर्थ पांचो इन्द्रियों को वश में रखने वाला होता है। लेकिन बोलचाल की भाषा में गोस्वामी का अर्थ हिन्दुओं के रक्षक व गौरक्षक से भी समझा जाता है।

भारतीय उपजाति "गोस्वामी" के समूह से बना यह समाज सम्पूर्ण भारत में फैला है। गोस्वामी समाज के सर्वाधिक लोग राजस्थान, गुजरात, उत्तराखंड, उड़ीसा, पश्चिम बंगाल , हरियाणा, पंजाब, झारखंड, आसाम एवम बिहार में रहते हैं। नेपाल में दशनाम गुसाईं समाज कुल जनसंख्या के 1%से भी अधिक हैं। ये शिव के उपासक होते हैं। दिन रात शिव की पूजा करते हैं जिसे लोग इन पुजारी को ब्राह्मण समझा जाता है। लेकिन तकनीकी रूप से गोसाईं (गोस्वामी) ब्राह्मणों से अधिक श्रेष्ठ होते हैं।

गोसाईं सम्प्रदाय के साधु प्रायः गेरुआ (भगवा रंग) वस्त्र पहनते, एक भुजवाली लाठी रखते और गले में चौवन, रुद्राक्षों की माला पहनते हैं। इनमें कुछ लोग ललाट पर चन्दन या राख से तीन क्षैतिज रेखाएं बना लेते। तीन रेखाएं शिव के त्रिशूल का प्रतीक होती है, दो रेखाओं के साथ एक बिन्दी ऊपर या नीचे बनाते, जो शिवलिंग का प्रतीक होती है। दसनामी संत 'ॐ नमो नारायण' या 'नमः शिवाय' से शिव की आराधना करते हैं। कुंभ मेले के समय गुसाईं/ गोस्वामी सम्प्रदाय शाही स्नान मे भी भागीदार रहते हैं । इनकी मुख्य काम हिन्दू धर्म का प्रचार प्रसार करना है । सभी जाति एवं समुदाय के लोग हाथ जोड़कर नमस्कार करते हैं। इन्हें बाबाजी, महाराज, गुसाई, स्वामी आदि नामों से पुकारा जाता है ।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "उपनाम की उत्पत्ति". Navbharat Times Reader's Blog (हिन्दी भाषा में). १९ दिसम्बर २०१४. अभिगमन तिथि १० अप्रैल २०२०.सीएस1 रखरखाव: नामालूम भाषा (link)

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]