गुरू अमरदास

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सिक्खों के तीसरे गुरू अमरदास ने सिक्ख धर्म को हिन्दू धर्म से पृथक बनाने हेतु कार्य किया। इन्होंने हिन्दूओ से पृथक विवाह पद्धति लवन को सिक्खों के बीच प्रचलित किया।

गुरू अमरदास से सम्राट अकबर गोविंदवाल आकर मिला था और गुरू पुत्री बीबी भानी को कई गाँव भेंट किया था।

गुरू अमरदास ने 22 गद्दियों को स्थापित किया और प्रत्येक गद्दी पर एक महंत नियुक्त किया ।