गुरु गोबिन्द सिंह भवन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
गुरु गोबिंद सिंह भवन

गुरु गोबिंद सिंह भवन, पंजाबी विश्वविद्यालय पटियाला के परिसर में स्थित एक सुन्दर इमारत है।[1] यह सिक्खो के महान दशम गुरु गोबिन्द सिंह जी की स्मृति को समर्पित है। गुरु गोबिंद सिंह भवन के चार द्वार हैं और यहां सभी धर्मों के अध्ययन से संबंधित साहित्य उपलब्ध है। यह भवन प्रतीकात्मक रूप से दुनिया के पाँच प्रमुख धर्मों के विचारों को व्यक्त करता है। सफेद संगमरमर से बना प्रवेश द्वार मानव हृदय का प्रतीक है जबकि, शीर्ष पर चमकती रोशनी सर्व धर्म समभाव की द्योतक है। यह खूबसूरत भवन पंजाबी विश्वविद्यालय का प्रतीक चिन्ह बन गया है।

भारत में उच्च शिक्षा के इतिहास की साक्षी इस इमारत को 1967 में स्थापित किया गया था। भवन की आधारशिला भारत के तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ॰ जाकिर हुसैन ने रखी थी। इसके पुस्तकालय में सभी धर्मों से संबंधित ३३००० से अधिक पुस्तकों और पत्रिकाओं का विशाल संग्रह है।

विश्वविद्यालय निकट भविष्य में इस इमारत के नवीकरण की योजना बना रहा है।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]