गीतांजली मिश्रा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
गीतांजली मिश्रा
Geetanjali Misra.jpg
गीतांजली मिश्रा AWID 2016 में
व्यवसाय एडवोकेट, लेखक, स्पीकर

गीतांजलि मिश्रा दक्षिण एशिया में कामुकता और महिलाओं के अधिकारों के बारे में वक्ता और लेखक, और लिंग न्याय के लिए एक सार्वजनिक अधिवक्ता हैं। वह सी॰ आर॰ ई॰ ए॰, जो नई दिल्ली में स्थित एक महिला अधिकार एन॰ जी॰ओ॰ है, की कार्यकारी निदेशक हैं और इंटरनेशनल क्रिमिनल कोर्ट की देखरेख करने वाले एक निगरान दल, जेंडर जस्टिस के लिए महिलाओं की पहलें की अध्यक्ष।[1]

हाल ही में जीवन और काम  [संपादित करें]

मिश्रा ने एशिया में सेक्स वर्कर्स के अधिकारों पर कई अकादमिक पेपर लिखे हैं, जिनमें प्रोटेक्टिंग द राईटस ऑफ़ सेक्स वर्कर्स: द इंडियन एक्सपीरीऐंस, हार्वर्ड स्कूल ऑफ़ पब्लिक हेल्थ हेल्थ एंड ह्यूमन राइट्स जर्नल में प्रकाशित किया गया था। [2]

2005 में, उसने कामुकता, लिंग और अधिकार: दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया में सिद्धांत और व्यवहार  की खोज  (सेज़ प्रकाशन) राधिका चंद्रिरमनी के साथ मिल कर लिखी। यह पुस्तक दक्षिण एशिया में कामुकता और अधिकारों से, शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं से  ट्रांससेक्सुअलिटी, एड्स चिंताओं और उपचार, और वकालत को संबोधित है। [3]

वह एसोसिएशन फ़ॉर विमेन राइट्स इन डेवलपमेंट (एड॰ ब्ल्यू॰ आई॰ डी॰) के एक बोर्ड के सदस्य थे, और 2005 में बोर्ड के अध्यक्ष चुने गए थे। [4]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. से एक Cordaid साक्षात्कार[मृत कड़ियाँ]
  2. "JSTOR सार". मूल से 5 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 16 मार्च 2017.
  3. Bookfinder पृष्ठ Archived 2011-06-07 at the Wayback Machine के बारे में काम
  4. से पूर्ण रिपोर्ट Archived 2010-02-18 at the Wayback Machine के AWID अंतरराष्ट्रीय मंच पर महिलाओं के अधिकारों.