गार्सा द तासी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

गार्सा द तासी का जन्म फ्रांस में हुआ था। उर्दू -हिन्दी अथवा हिन्दुस्तानी साहित्य का सर्व प्रथम इतिहास ग्रंथ " इस्त्वार द ल लितरेत्यूर ऐंदुई ऐ ऐंदुस्तानी" इन्हीं का लिखा हुआ है। गार्सा द तासी ने भारत के लोकप्रिय उत्सवों का भी विवरण प्रस्तुत किया है। गार्सा द तासी हिन्दुस्तानी साहित्य के महत्त्व को स्वीकार करते हैं तथा उसे किसी अन्य भाषा से हीन नहीं समझते हैं।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. हरदेव बाहरी, हिन्दी साहित्य कोश, भाग २, सम्पादक डा० धीरेन्द्र वर्मा, ज्ञान मण्डल लिमिटेड वाराणसी, द्वितीय संस्करण १९८६, पृष्ठ-१२८