गरान ऍलड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
गरान ऍलड

गरान ऍलड की तस्वीर
कलाकार विक लिंडस्ट्रांड
वर्ष 1970
प्रकार Public work of art
सामग्री कांच
Dimensions 900 cm (350 इंच)
स्थान {{{museum}}}Järnvägstorget, ऊमेओ, स्वीडन

63°49′46″N 20°15′59″E / 63.82944°N 20.26639°E / 63.82944; 20.26639
मालिक ऊमेओ नगरपालिका

गरान ऍलड विक लिंडस्ट्रांड दवारा बनाई एक मूर्ति है जो ऊमेओ शहिर के ऊमेओ सैंट्रल स्टेशन के सामने उपस्थित है। यह 9 मीटर लंबी है और 1970 में इसके उदघाटन समें यह दुनिया की सबसे बड़ी मूर्ति थी।[1]

मूर्ति[संपादित करें]

यह मूर्ति कांच के तीन स्तंभों से बनी है। यह स्तंभ 9 मिलीमीटर पतली 3000 कांच की प्लेटों से बनाए गये हैं। इन प्लेटों के जोड़ने के लिए एपोक्सी गलू की मदद ली गई तांकि यह सख्त से सख्त मौसम में भी बरकार रहें।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Skulptören Vicke Lindstrand". मूल से 25 मई 2012 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 20 मार्च 2011.