खीर भवानी मंदिर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
खीर भवानी मंदिर, कश्मीर

खीर भवानी भवानी देवी का एक नाम है जिनका प्रसिद्ध मंदिर जम्मू व कश्मीर के गान्दरबल ज़िले में तुलमुला गाँव में एक पवित्र पानी के चश्मे के ऊपर स्थित है। यह श्रीनगर से १४ किमी पूर्व में स्थित है। खीर भवानी देवी की पूजा लगभग सभी कश्मीरी हिन्दू, और बहुत से ग़ैर-कश्मीरी हिन्दू भी, करते हैं। पारंपरिक रूप से वसंत ऋतू में इन्हें खीर चढ़ाई जाती थी इसलिए इनका नाम 'खीर भवानी' पड़ा। इन्हें महारज्ञा देवी भी कहा जाता है।[1]

कश्मीरी हिन्दू अक्सर प्रातःकाल में मंत्रोच्चारण करते हुए इनका स्मरण करते हैं: 'नमस्ते शारदा देवी, कश्मीर पुर्वासिनी, प्रार्थये नित्यं विद्या दानं च दे ही मे', यानि 'हे शारदा देवी, कश्मीर में रहने वाली, मैं प्रार्थना करता हूँ कि मुझे विद्या दान कर'।

लोक मान्यता[संपादित करें]

ऐसी मान्यता है कि किसी प्राकृतिक आपदा की भविष्यवाणी के सदृष, आपदा के आने से पहले ही मंदिर के कुण्ड का पानी काला पड़ जाता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Mountains of India: Tourism, Adventure, Pilgrimage, M.S. Kohli, pp. 297, Indus Publishing, 2004, ISBN 978-81-7387-135-1, ... Kheer Bhawani Temple The Goddess Ragnya Devi is symbolised as a sacred spring at Tula Mula village ...