खड़दहा हनुमान मंदिर वाराणसी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
खड़दहा हनुमान मंदिर वाराणसी
Khardaha hanuman mandir.jpg
धर्म संबंधी जानकारी
सम्बद्धताहिंदू धर्म
डिस्ट्रिक्टवाराणसी
देवताHanuman
अवस्थिति जानकारी
अवस्थितिखड़दहा गांव
राज्यउत्तर प्रदेश
देशइंडिया
लुआ त्रुटि Module:Location_map में पंक्ति 502 पर: Unable to find the specified location map definition: "Module:Location map/data/India varanasi" does not exist।
भौगोलिक निर्देशांक25°28′14″N 85°8′11″E / 25.47056°N 85.13639°E / 25.47056; 85.13639निर्देशांक: 25°28′14″N 85°8′11″E / 25.47056°N 85.13639°E / 25.47056; 85.13639
वास्तु विवरण
प्रकारNagri Architecture
वेबसाइट
www.khardahahanumanmandir.org
www.shrikashivishwanath.org

वाराणसी[1] के खड़दहा गांव में श्री हनुमान जी का एक प्राचीन मंदिर स्थित है। जो की अपने आप में बहुत प्रसिद्ध है। खड़दहा हनुमान जी के बारे में कहा जाता है। सच्चे निष्ठां और लगन से इनका पूजा एवं दर्शन करने से सारी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती हैं। प्रत्येक मंगलवार एवं विशेषतः हनुमान जयंती के शुभ पावन पर्व पर यहां भजन संध्या और भंडारे लगाकर आने श्रद्धालुओं को प्रसाद वितरित किया जाता है। और संध्या के समय हनुमान मूर्ति के सामने आरती एवं मन्त्र जाप करके महावीर जी को प्रसन्न किया जाता है।

यातायात[संपादित करें]

ऑटो रिक्शा[2] एवं साइकिल रिक्शा खड़दहा गांव के स्थानीय प्रचलित यातायात साधन हैं। बाहरी क्षेत्रों में नगर-बस सेवा में मिनी-बसें चलती हैं। छोटी नावें और छोटे स्टीमर यातायात के लिए उपलब्ध हैं।

शिक्षा[संपादित करें]

खड़दहा गांव [3] की शिक्षा वाराणसी के उच्चतर माध्यमिक विद्यालय इंडियन सर्टिफिकेट ऑफ सैकेंडरी एजुकेशन (आई.सी.एस.ई), केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सी.बी.एस.ई) या उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यू.पी.बोर्ड) से सहबद्ध हैं।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "वाराणसी का इतिहास". मूल से 1 नवंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 10 जुलाई 2018.
  2. "Khardaha Village in Varanasi".
  3. "About Khardaha village in (English)".

Symbol support vote.svg समर्थन* यह लेख अभिषेक कुमार द्वारा बनाई गई है