कौण्डभट्ट

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

कौण्डभट्ट, एक प्रसिद्ध वैयाकरण थे। वे भट्टोजिदीक्षित के भतीजे थे। उनके पिता का नाम रंगोजिदीक्षित था। उनका जन्म १७वीं शताब्दी में हुआ था।

कृतियाँ[संपादित करें]

  • न्यायपदार्थदीपिका
  • वैयाकरणभूषण,
  • वैयाकरणभूषणसार, तथा
  • लघुवैयाकरणभूषण

अन्तिम तीनों ग्रन्थ भट्टोजिदीक्षित द्वारा रचित शब्दकौस्तुभ की व्याख्या करते हैं।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]