कोविड-19 महामारी के समय मानसिक स्वास्थ्य

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

दुनिया भर में फैले कोविड-19 महामारी ने पूरे जगत में लोगों के मानसिक स्वास्थ्य को काफी प्रभावित किया है।[1] इस बढ़ते वायरस के संक्रमण से बचने के लिए संयुक्त राष्ट्र की अंतर-एजेंसी गठन की स्थायी समिति मानसिक स्वास्थ्य और मनोसामाजिक समर्थन की टीम ने कहा है कि अगर इससे बचना चाहते है तो आपको इस दौरान मानसिक स्वास्थ्य सहायता के मुख्य सिद्धांतों को अपनाना होगा।[2] ये मुख्य सिद्धांत इस कोरोना काल में मानव अधिकारों और समानता को बढ़ावा देते है, अगर लोग आज इन सिद्धांतों को अच्छे ढंग से अपनाते है तो यह सिद्धांत आज इस महामारी संकट से बचने के लिए लोगों की भागीदारी का हिस्सा बनते है और अच्छे भविष्य निर्माण करते है। कोविड-19 की वजह से आज लोगों में दूरियाँ बढ़ती जा रही है, जिस कारण विभिन्न प्रकार की संस्थान चाहे वह कॉलेज हो या फिर फ़ैक्टरी सब कुछ बंद है। इस कारण लोगों की आय का साधन भी खत्म हो चुका है, जो कि दुनिया भर के लोगों के लिए चिंता का विषय बना है इस कारण लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ा है।[3]

कोविड-19 महामारी के दौरान मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों के कारण[संपादित करें]

दुनिया भर में फैले कोविड-19 महामारी ने दुनिया भर के लोगों में बीमारी और सामाजिक दूरियाँ बढ़ने के कारण आज लोगों में डर, तनाव और चिंता पैदा कर दी है। मनोवैज्ञानिकों ने इस महामारी जैसी बीमारी में तनाव को मुख्य कारण बताया है। क्योंकि यह एक संक्रमित बीमारी है इसलिए कोई व्यक्ति इसके बारे में सुनकर तनाव में आ जाता है। कोविड-19 जैसी महामारी के संक्रमण से बचने और अन्य लोगों में इस बीमारी के फैलने, स्वास्थ्य की देखभाल करने और मरने के कारण लोगों के काम और अपनों से सामाजिक दूरियाँ बढ़ गयी है। जिससे व्यक्ति में तनाव की स्थिति बढ़ती जा रही है। यह महामारी एक दूसरे से छूने से फैलती है इसलिए लोग परिवार में किसी व्यक्ति के संक्रमित, उनकी रक्षा, देखभाल करने से डरे हुए है। साथ ही परिवार के बूढ़े और कमजोर व्यक्तियों की देखभाल करने से दूर भाग रहे है। इस कारण लोग इस बीमारी से और भी ज्यादा डर रहे है और अकेलापन तथा अवसाद के शिकार हो रहे है।[2]

इन समस्याओं के अलावा मनोवैज्ञानिकों ने कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण की वजह से अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि इस बीमारी के कारण आज लोगों में अन्य बीमारी के बढ़ने का ख़तरा ज्यादा बढ़ता जा रहा है। जिनका लोगों को अहसास भी नहीं हो पा रहा है। जैसे कि घर में माता-पिता के काम बंद होने कारण और बच्चों के स्कूल बंद होने की वजह से उनके बारे में चिंता करने से स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है।[2]

सीमावर्ती कार्यकर्ता, जैसे डॉक्टर और नर्स और अन्य इसके अतिरिक्त स्वास्थ्यकर्मी कोविड-19 जैसी महामारी के स्वास्थ्य समस्याओं का अनुभव बखूबी कर रहे है, क्योंकि सभी स्वास्थ्य कर्मी कोविड-19 से संक्रमित लोगों के इलाज में लगातार अपना योगदान दे रहे है, और इससे बचने के लिए लोगों में शारीरिक तनाव, सतर्कता के लिए जागरूक कर रहे है। हालांकि इस बीमारी से निपटने के लिए डॉक्टर के पास अभी ज्यादा पर्याप्त साधन नहीं है जिस कारण मरीजों की देखभाल करना काफी मुश्किल है। कोविड-19 जैसी महामारी एक संक्रमण बीमारी है जो एक दूसरे के संपर्क में आने से होती है लेकिन अभी इसके बारे में लोगों को ज्यादा जानकारी नहीं है, वह इससे अनजान है जिस कारण वह अपने अन्य परिवार के लोगों को भी इस बीमारी से ग्रषित कर रहे है और उन्हें तनाव में डाल रहे है।[2][4][5]

मानसिक स्वास्थ्य स्थितियों की रोकथाम और प्रबंधन[संपादित करें]

विश्व स्वास्थ्य संगठन और रोग नियंत्रण दिशानिर्देशों का केंद्र[संपादित करें]

विश्व स्वास्थ्य संगठन और रोग नियंत्रण केंद्रों ने कोविड-19 महामारी के दौरान मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दों को रोकने के लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं। सारांशित दिशा-निर्देश इस प्रकार हैं:

सामान्य आबादी के लिए[संपादित करें]

  • उनकी राष्ट्रीयता या जातीयता की परवाह किए बिना सभी प्रभावित व्यक्तियों के लिए सहानुभूति रखें।
  • कोविड-19 से प्रभावित व्यक्तियों का वर्णन करते हुए लोगों की पहली भाषा का उपयोग करें।
  • यदि कोई चिंतित हो तो समाचार देखना कम से कम करें। केवल विश्वसनीय स्रोतों से जानकारी लें, अधिमानतः दिन में एक या दो बार।
  • अपने आप को सुरक्षित रखें और दूसरों के लिए सहायक बनें, जैसे कि आपके पड़ोसी।
  • कोविड-19 का अनुभव करने वाले स्थानीय लोगों की सकारात्मक कहानियों को बढ़ाने के अवसर खोजें।
  • जो लोग कोविड-19 से काम कर रहे है जैसे डॉक्टर, पुलिसकर्मी इत्यादि का समर्थन करें।

स्वास्थ्य कर्मियों के लिए[संपादित करें]

  • संकट के समय दबाव महसूस करना सामान्य है। शारीरिक स्वास्थ्य का प्रबंधन जितना महत्वपूर्ण है उतना ही मानसिक स्वास्थ्य का प्रबंधन करना भी।
  • नकल की रणनीतियों का पालन करें, पर्याप्त आराम करें, अच्छा भोजन खाएं, शारीरिक गतिविधि में संलग्न होएं, तंबाकू, शराब या ड्रग्स का उपयोग करने से बचें। पहले से तनावपूर्ण परिस्थितियों में आपके लिए काम कर चुके कोपिंग रणनीतियों का उपयोग करें।
  • यदि कोई परिवार या समुदाय द्वारा बचने का अनुभव कर रहा है, तो डिजिटल तरीकों सहित प्रियजनों के साथ जुड़े रहें।
  • विकलांग लोगों को संदेश साझा करने के लिए समझने योग्य तरीकों का उपयोग करें।
  • कोविड-19 से प्रभावित लोगों को उपलब्ध संसाधनों के साथ जोड़ने का तरीका जानें।

स्वास्थ्य सुविधाओं में टीम लीडर के लिए[संपादित करें]

  • सभी कर्मचारियों को खराब मानसिक स्वास्थ्य से सुरक्षित रखें। अल्पकालिक परिणामों के बजाय दीर्घकालिक व्यावसायिक क्षमता पर ध्यान दें।
  • अच्छी गुणवत्ता के संचार और सटीक अपडेट सुनिश्चित करें।
  • सुनिश्चित करें कि सभी कर्मचारियों को पता है कि मानसिक स्वास्थ्य सहायता कहां और कैसे पहुंचाई जा सकती है।
  • प्रभावितों को मनोवैज्ञानिक प्राथमिक चिकित्सा प्रदान करने के तरीकों पर सभी कर्मचारियों को उजागर करें।
  • स्वास्थ्य सुविधाओं में आपातकालीन मानसिक स्वास्थ्य स्थितियों का प्रबंधन किया जाना चाहिए।
  • स्वास्थ्य देखभाल के सभी स्तरों पर आवश्यक मनोरोग दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करें।

बच्चों की देखभाल करने वालों के लिए[संपादित करें]

  • बच्चों को अपनी भावनाओं को व्यक्त करने के लिए सकारात्मक तरीके खोजने में मदद करें।
  • जितना हो सके बच्चों को उनके माता-पिता / देखभाल करने वालों से अलग करने से बचें। सुनिश्चित करें कि माता-पिता और देखभाल करने वालों के साथ नियमित संपर्क बनाए रखा जाए।
  • जितना हो सके पारिवारिक दिनचर्या बनाए रखें और बच्चों के लिए आयु-उपयुक्त आकर्षक गतिविधियाँ प्रदान करें।
  • बच्चे माता-पिता से अधिक लगाव की तलाश कर सकते हैं, इस मामले में, कोविड -19 पर उनके साथ आयु-उपयुक्त तरीके से चर्चा करें।

बूढ़े वयस्कों के लिए, अंतर्निहित स्वास्थ्य की स्थिति वाले लोग, और उनकी देखभाल करने वाले[संपादित करें]

  • बूढ़े वयस्क, जो विशेष रूप से अलगाव में हैं या पहले से मौजूद न्यूरोलॉजिकल स्थितियों से पीड़ित हैं या अधिक चिंतित, क्रोधित रहते है उनकी स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों के माध्यम से व्यावहारिक और भावनात्मक सहायता प्रदान करें।
  • कोविड-19 पर सरल तथ्य साझा करें और संक्रमण के जोखिम को कम करने के बारे में स्पष्ट जानकारी दें।
  • वर्तमान में उपयोग की जा रही सभी दवाओं का उपयोग करें।
  • पहले से जान लें कि व्यावहारिक मदद कहां और कैसे प्राप्त करें।
  • अधिक जानकारी प्राप्त करें और घर पर अभ्यास करने के लिए सरल दैनिक अभ्यास करें।
  • जितना हो सके नियमित शेड्यूल रखें और प्रियजनों के संपर्क में रहें।
  • शौक या कार्य में लिप्त होएं जो अन्य पहलुओं पर ध्यान केंद्रित करने में मदद करता है।
  • सामान्य बातचीत करने या ऑनलाइन एक साथ मजेदार गतिविधि करने के लिए डिजिटल या टेलीफोन पर लोगों से जुड़ें।
  • समुदाय में जो सामाजिक दूरी के उपायों का पालन कर रहे है उनकी मदद करें और जरूरतमन्द लोगों तक खाना पहुंचाए।

जो लोग अलगाव में है उनके लिए[संपादित करें]

  • उनके डाट जुड़े रहें और सामाजिक दूरी बनाए रखें।
  • अपनी खुद की जरूरतों और भावनाओं पर ध्यान दें। उन गतिविधियों में संलग्न रहें जो आपको आराम देती हैं।
  • ऐसी अफवाहों को सुनने से बचें जो आपको असहज बनाती हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. CDC (2020-02-11). "Coronavirus Disease 2019 (COVID-19)". Centers for Disease Control and Prevention (अंग्रेज़ी में). मूल से 14 मई 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-05-17.
  2. "Inter-Agency Standing Committee Guidelines on Mental Health and Psychosocial support" (PDF). MH Innovation. मूल से 31 March 2020 को पुरालेखित (PDF). अभिगमन तिथि 28 March 2020.
  3. "OECD". read.oecd-ilibrary.org. मूल से 15 मई 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2020-05-07.
  4. "ICN COVID-19 Update: New guidance on mental health and psychosocial support will help to alleviate effects of stress on hard-pressed staff". ICN - International Council of Nurses (अंग्रेज़ी में). मूल से 28 March 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 March 2020.
  5. "Emergency Responders: Tips for taking care of yourself". emergency.cdc.gov (अंग्रेज़ी में). 10 January 2020. मूल से 27 March 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 March 2020.