कोलगेट पामोलिव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

दुनिया भर में उपभोक्ता उत्पाद के लिये जानी जाती है। घरेलू उपयोग के उत्पादों के उत्पादन ,वितरण की पूरी श्रंखला है। इसका मुख्यालय अमेरिका के न्यू यॉर्क के मिड टाउन मेनहट्टन के पार्क एवेन्यू में स्थित है। १८०६ में एकअंग्रेज प्रवासी साबुन और मोमबत्ती व्यापारी विलियम कोलगेट ने न्यू यार्क के डच स्ट्रीट में विलियम कोलगेट एंड कंपनी की स्थापना की। १८०४ में एक सामान भर की साबुन की बट्टियों का उत्पादन आरम्भ किया। १८३३ में हृदयाघात के कारण विलियम कोलगेट के व्यापर में कमी आई किन्तु १८४० में स्थिति में सुधर आया १८५७ में विलियम कोलगेट की मृत्यु के बाद उसके बेटे सैमुअल कोलगेट ने कोलगेट एंड कंपनी के प्रबंधन के अंतर्गत कर दिया 1872 में उन्होंने शुरू में कश्मीरी गुलदस्ता नामक एक सुगंधित साबुन। 1873 में फर्म शुरू की और पहली बार कोलगेट टूथपेस्ट ने एक खुशबूदार टूथपेस्ट जार में बेचा .

1896 में ,विलियम ने , कंपनी को बेच दिया। पहले टूथपेस्ट की एक ट्यूब में, कोलगेट रिबन डेंटल क्रीम (दंत चिकित्सक वाशिंगटन शेफील्ड द्वारा आविष्कार किया ). यह भी 1896 में, कोलगेट ने मार्टिन इत्तनर को काम पर रखा और उसके निर्देशन में पहली अनुसंधान प्रयोगशाला स्थापित की गयी और अनुसन्धान के द्वारा 1908 में टूथपेस्ट ट्यूबकी बिक्री बड़े पैमाने पर शुरू की।

भारत में लगभग 80 वर्षों से मौजूद ऑरल केयर कंपनी कोलगेट-पामोलिव अब बाबा रामदेव की पतंजलि आयुर्वेद से मुकाबले के लिए एक नया ब्रैंड-सिबाका वेदशक्ति लॉन्च करने जा रही है। हालांकि, कोलगेट-पामोलिव नीम और क्लोव जैसे हर्बल वैरियंट्स की लंबे समय से बिक्री कर रही है, लेकिन यह आयुर्वेदिक सेगमेंट में इसका पहला स्वदेशी ब्रैंड होगा। 16 अरब डॉलर की यह ग्लोबल कंपनी देश में ओरल केयर मार्केट के 50 पर्सेंट से अधिक हिस्से पर कब्जा रखती है।

कोलगेट-पामोलिव की सीनियर वाइस प्रेजिडेंट, बीना थॉमसन ने पिछले सप्ताह एक इन्वेस्टर कॉल में बताया, 'भारत में कंज्यूमर्स नैचरल इन्ग्रीडियेंट्स पर काफी भरोसा करते हैं। हम इस क्वॉर्टर में सिबाका सब-ब्रांड के तहत सिबाका वेदशक्ति के नाम से एक टूथपेस्ट लॉन्च करेंगे। यह टूथपेस्ट नैचरल इन्ग्रीडियेंट्स की खूबियों के साथ होगी और इससे दांतों की समस्याओं को दूर रखने में मदद मिलेगी।'

देश के टूथपेस्ट मार्केट में नैचरल सेगमेंट के लिए पसंद बढ़ रही है और इस सेगमेंट की हिस्सेदारी अब लगभग 14 पर्सेंट पर पहुंच गई है। कोलगेट की भारतीय यूनिट की इस सेगमेंट में अभी तक ज्यादा मौजूदगी नहीं रही। इसने पिछले क्वॉर्टर में ऐक्टिव सॉल्ट नीम प्रॉडक्ट को एक नए रंग-रूप में पेश किया था और सेंसिटिव क्लोव के नाम से एक नया प्रॉडक्ट उतारा था। इन प्रॉडक्ट्स का टूथपेस्ट मार्केट में अब सात पर्सेंट से अधिक का शेयर है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

http://navbharattimes.indiatimes.com/business/business-news/colgate-palmolive-will-introduce-the-new-brand-to-take-on-patanjali/articleshow/53483903.cms