कोराँव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(कोरांव से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search
कोरांव तहसील और विधानसभा
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य उत्तर प्रदेश
ज़िला इलाहाबाद
विधायक श्री राजमणी कोल भा ज पा
जनसंख्या 93,783 (2001 के अनुसार )

निर्देशांक: 25°00′N 82°04′E / 25.00°N 82.06°E / 25.00; 82.06

कोराँव (अंग्रेजी:Koraon) इलाहाबाद जिले की आठ तहसीलो में एक का मुख्यालय और क़स्बा है। यह नगर पंचायत और ग्रामीण क्षेत्र मिलकर बना हुआ है। इलाहाबाद से मिर्ज़ापुर मार्ग (लगभग दूरी 47 किलोमीटर) स्थित मेजारोड चौराहे से तथा मेजारोड रेलवे स्टेशन से 32 किलोमीटर दक्षिण में स्थित है।

ब्लॉक[संपादित करें]

कोरांव तहसील स्‍वयं में इसी नाम का ब्लॉक है।

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

जनगणना 2001 के अनुसार कोरांव की जनसंख्या (नगरीय) 12142 तथा ग्रामीण 286982 थी। जिसमे से 53% पुरुष और 47% महिलाएँ सम्मिलित थी।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

यातायात[संपादित करें]

कोरांव रेल एवं सडक से जुडा हुआ है।

रेल[संपादित करें]

कोरांव रेल द्वारा सबसे निकटतम दिल्ली-कलकत्ता मेन लाइन में मेजारोड स्टेशन पड़ता है।

सडक यात्रा[संपादित करें]

कोरांव सडक द्वारा भी अच्छी तरह से जुडा हुआ है। सरकारी और निजी बसें प्रत्येक १० मिनट में इलाहाबाद और मिर्ज़ापुर से यहाँ के लिये उपलब्ध हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग NH76E से जुडा़ है।मिर्ज़ापुर से दूरी 68 किमी या 42 मील जिसको तय करने में लगभग 01:30 मिनट का समय लगता है। इलाहाबाद से 64 किमी या 33 मील जिसको तय करने में 01:15 मिनट का समय लगता है। सड़क मार्ग से यह मिर्ज़ापुर और पड़ोसी तहसील मेजा को जोडता है।

दर्शनीय स्थल[संपादित करें]

1- इस तहसील के अंतर्गत लोगों को देखने के लिए भोगन के प्रसिद्ध हनुमान जी, बघोल के हनुमान जी, कालिकन की माँ काली एवम् पथरताल के हनुमान जी हैं।

2. इस तहसील के अंतर्गत कुछ पहाड़ी क्षेत्र भी जहां जाकर आनन्द प्राप्त किया जा सकता है, जैसे- बड़ोखर ,देवघाट, महुली एवम् तहसील के पश्चिम में कोहड़ार की पहाड़ी इलाका। 3. प्रत्येक वर्ष यहां के कई जगहों पर दशहरे पर क्षेत्रीय मेले का आयोजन होता है जिसमे महुआव में पूस का मेल, कोरांव में दशहरे का मेला एवम् कई गांवों में रामलीला का आयोजन जैसे नथऊपुर"( नवयुवक रामलीला कमेटी नथऊपुर सिकरो# 'संचालक' - रामनरेशओझा)" ,लेंडियारी, बडोखर,भगेसर् में होता है

=3= कोरांव तहसील के महुली बाजार में. काली माता का मंदिर है। यहां लगभग सौ साल से रामलीला का आयोजन होता है। ( माता काली रामलीला कमेटी महुली बाजार #संचालक श्री उमा शंकर पांडेय )और ठीक पहाड़ियों में बाबा रंग नाथ धाम है। यह बहुत ही रमणीक और बहुत ही सुंदर स्थान है। आप सब यहां आकर इस पर्यटन स्थल का लुत्फ उठा सकते हैं और भोले बाबा का दर्शन कर सकते हैं। और निवेदन है कि कोरांव के इतिहास में इसको भी जोड़ा जाए. धन्यवाद .जय श्री राम

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]