कॉफ़ी विद करण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
करण जौहर

कॉफ़ी विद करण एक वार्तालाप कार्यक्रम है जो स्टार वर्ल्ड इंडिया पर प्रदर्शित होता है। यह कार्यक्रम मशहूर चलचित्र निर्माता वह निर्देशक करण जौहर द्वारा मेज़बान किया जाता है। इस कार्यक्रम ने ३ सीज़न पूर्ण किये हैं। फिलहाल इस कार्यक्रम का चौथा सीज़न चल रहा है। इस कार्यक्रम में मेज़बान करण जौहर जाने-माने फिल्म हस्तियों को आमन्त्रित करते हैं और उनके साथ उनकी फिल्मों वह निजी ज़िन्दगी के बारे में चर्चा करते हैं। इस कर्यक्रम का चौथा सीज़न १ दिसम्बर २०१३ को आरम्भ हुआ।

अवलोकन[संपादित करें]

यह कार्यक्रम अपने ताज़े और परिहास युक्त तत्व के कारण युवा दर्शक को आकर्षित करता है। यह फिल्म हस्तियों के खुलासे व उनके सहयोगियों और सहकर्मियों पर विचार के कारण प्रसिद्ध है। इस कार्यक्रम में कई खुलासे व विवाद होते हैं जिसके कारण यह बहुत टी.आर.पी बटोरता है। इस शो का आरंभ २००४ में हुआ और इस शो ने बहुत सफलता प्राप्त की। इस शो का पेहला प्रकरण १९ नवम्बर २००४ को हुआ और इसका पेहला सीज़न २७ मई २००५ को खत्म हुआ। यह शो बीच में थाम दिया गया था क्योंकि करण जौहर को अपनी फिल्म Kabhi Alvida Na Kehna की शूटिंग करनी थी। चार साल के उपरांत और कई पुन: प्रदर्शन के बाद यह शो टीवी पर फिर से ७ नवम्बर २०१० को लौटा। इस शो के तीसरे सीज़न का अंत १७ अप्रैल २०११ को हुआ। इस शो के चौथे सीज़न का प्रथम प्रदर्शन १ दिसम्बर २०१३ को हुआ।

कार्यक्रम के प्रचलित भाग[संपादित करें]

लाई-ओ-मीटर

'लाई-ओ-मीटर' एक ऐसा यंत्र था जिसके द्वारा करण जौहर कार्यक्रम में आए हुए फिल्मी हस्तियों के झूठों को पकड़ लेते थे जो वे कार्यक्रम के दौरान बोलते थे। इस यंत्र का उपयोग केवल पेहले सीज़न में ही हुआ था।

रैपिड फायर

इस भाग में करण जौहर हस्तियों से अनेक सवाल पूछते हैं जिन्के जवाब मेहमानों को जल्द से जल्द देने पड़ते हैं। प्रायः वह ऐसे प्रश्न पुछतें हैं जिनमें मेहमानों को दो या तीन विकल्पों के बीच चुनाव ककरण पड़ता है या प्रश्न के सीधे जवाब देने पड़ते हैं। करण जौहर ज़्यादातर अपने मेहमानों पर बल डालते हैं उन्के दिये गए विकल्पों में से एक का चुनाव ककरण के लिए।

विचारों का प्रदर्शन

कभी कभी कार्यक्रम में एक भाग आता है जो शो में आए हुए मेहमान को दर्शकों की विचार-धारा को उन तक पहुंचाने में मदद करता है। वे या तो आम जनता या बॉलीवुड के अन्य हस्तियों से आ सकती हैं। कुछ एपीसोड्स में यह भाग शो के अन्त में आता है और कुछ में शो के दौरान। कई एपीसोड्स में यह भाग दिखाया ही नहीं गया है।

कॉफ़ी प्रश्नोत्तरी (क्विज़)

यह भाग इस कार्यक्रम के चौथे सीज़न से आरंभ हुआ है। इस भाग में करण जौहर अपने मेहमानों से कई तरह के सवाल पूछते हैं। मेहमानों को एक यंत्र दिया जाता है जिसको बजाकर वे उन प्रश्नों का जवाब दे सकते हैं। जो सबसे पेहले यंत्र को बजाता है उसे जवाब देने का मौका मिलता है, गलत जवाब देने पर प्रश्न दुसरे मेहमान को दे दिया जाता है। जिस फिल्मी हस्ति के सबसे ज़्यादा अंक होते हैं, उसे एक विशिष्ट इनाम मिलता है। यह भाग कॉफ़ी विद ककरण के चौथे सीज़न से आरंभ हुआ है।

विवाद[संपादित करें]

कॉफ़ी विद ककरण पर जाना सारे फिल्म हस्तियों का सपना रेह्ता है, परंतु यह हस्तियाँ किसी न किसी विवाद का हिस्सा ज़रूर बनते हैं। निम्नलिखित कुछ ऐसे विवाद दिये गये हैं जो ना ही विवाद कथन कहने से सुर्खियों में आये हैं परंतु जिनके बारे में वे ऐसे कथन कहते हैं उन्हें भी कुख्याती दिलवाते हैं।


  1. करीना कपूर : जॉन एब्राहम भावशून्य है। करीना कपूर और बिपाशा बासु के शीतयुद्ध की चर्चा उनकी फिल्म Ajnabee से ही हो रही थी। करीना ने इस बात को आगे बढाई और बिपाशा के पूर्व प्रेमी जॉन के बारे में उपर्युक्त कथन कहा। बिपाशा ने करीना को वापस उत्तर दिया और कहा कि करीना के चेहरे पर कुछ ज़्यादा ही भाव है।
  1. शारुख खान : अगर सलमान मुझसे नाराज़ है, तो वह १००% मेरी गलती है। शारुख और सलमान खान के बहुप्रचारित लड़ाई के उपरांत शाह्ररुख ने शो पर यह कहा कि अगर सलमान उससे नाराज़ है तो उसमें शाहरुख की ही गलती है। इस पर सलमान ने यह उत्तर दिया कि अगर शाहरुख सच में शर्मिंदा होते तो उनसे निजी तौर पर माफी मांगते, इस तरह किसी शो पर नहीं।
  1. तुषार कपूर : प्रीती जिंटा बोटोक्स की पर्याय है। यह कथन शो के 'रेपिड फायर' के दौरान कहा गया था और तुषार कपूर ने बिना सोचे यह उत्तर दे दिया जिसके कारण प्रीति नाराज़ तो हुइ और तुषार की माफी ने भी स्तिथी में कोइ सुधार न ला पाई।
  1. करीना कपूर प्रियंका चोपड़ा के बारे में : उसे वह उच्चारण कहां से मिलती है? करीना कपूर के फिल्मी दुनिया में बहुत कम दोस्त हैं। करीना की पुरानी दुश्मन प्रियंका के बारे में बोलना प्रत्याशित था। प्रियंका ने झट से जवाब देते हुए कहा कि "मुझे यह उच्चारण वहीं से मिलती है जहां उसके प्रेमी को मिलती है।"
  1. सलमान खान : मैं एक वर्जिन हूं। सलमान खान की प्लेबॉय छवि से पूरी दुनिया परिचित है, तो जब सलमान ने ऐसा कथन कहा तो सब चौंक गये और सारे देश में इसको लेकर बहुत चर्चा हुइ।

सीज़न्स[संपादित करें]

इस कार्यक्रम का पहला सीज़न बहुत सफल रहा तथा यह वह पहला अंग्रेज़ी कार्यक्रम था जिसे भारत में बहुत उच्च रेटिंग्स मिले थे। जिस एपिसोड में अभिशेक बच्च्न और प्रीती ज़िन्टा आए थे, वह एपिसोड सबसे चर्चित वह प्रसिद्ध अपिसोड बन गया था पहले सीज़न का। दूसरा सीज़न ११ फ़रवरी २००७ में आरंभ हुआ। उसके बाद कॉफ़ी विद ककरण चार साल के अन्तर के बाद STAR World India पर फिर से दर्शाया गया।

पहला सीज़न[संपादित करें]

इस कार्यक्रम का पहला सीज़न १९ नवम्बर २००४ को आरंभ हुआ था।

एपीसोड # मेहमान
शारुख खान और काजोल
करीना कपूर और रानी मुखरजी
सैफ अली खान और प्रीती ज़िन्टा
ऐश्वर्या राए और संजय लीला भनसाली
फर्दीन खान और ज़ायद खान
गुरिन्दर चड्डा और फराह खान
अमिताभ बच्चन और अभिशेक बच्चन
गौरी खान और सुज़ैन रौशन
बिपाशा बासु और लारा दत्ता
१० एक्ता कपुर और सुनिता मेनन
११ सुश्मिता सेन और संजय दत्त
१२ ह्रिथिक रौशन और फर्हान अख्तर
१३ सन्नी देयोल ओर बौबी देयोल
१४ शब्बाना आज़मी और शोभा दे
१५ अभिशेक बच्चन और प्रीती ज़िन्टा
१६ कोंकोणा सेन शर्मा और राहुल बोस
१७ प्रियांका चोप्रा और अर्जुन रामपाल
१८ स्म्रिति इरानी और साक्शी तन्वर
१९ विवेक ओबरोए और जोह्न एब्राहम
२० मलाइका अरोरा खान और अम्रिता अरोरा
२१ ऋषि कपुर और नीतु सिंह
२२ ईशा देयोल और शाहिद कपुर
२३ हेमा मालिनी और ज़ीनत अमान
२४ विशेष प्रकरण
२५ शारुख खान और अमिताभ बच्चन

विशेष टिप्पण:

  • एपीसोड ८ के दौरान, गौरी खान और सुज़ैन रौशन के पति शाहरुख खान वह ह्रिथिक रौशन भी शो पर अपना झलक दिखए थे।
  • एपीसोड १२ में ह्रिथिक रौशन और फर्हान अख्तर के मित्र उदय चोप्रा भी बाद में उनका साथ दिये थे।
  • एपीसोड १८ में आए हुए हस्तियाँ - स्म्रिति इरानी और साक्शी तन्वर वह पहले टीवी हस्तियाँ थे जिन्होंने कॉफ़ी विद करण पर प्रदर्शन किया था।

दूसरा सीज़न[संपादित करें]

एपिसोड # मेहमान
शाहरुख खान, काजल और रानी मुखर्जी
ऋतिक रोशन और प्रियंका चोपड़ा
मल्लिका शेरावत और संजय ळीला भंसाली
करीना कपूर और शाहिद कपूर्
सैफ अली खान और सोहा अली खान
मीरा नायर और तबु
संजय दत्त और प्रिया दत्त
विजय माल्या और शोभा दे
कोनकोना सेन शर्मा, कुनाल कपूर और ऋतेष देशमुख
१० हेमा मालिनी और जया बच्चन
११ राकेश रोशन, राकेश मेहरा, कुणाल कोहली और राजु हिरानी
१२ राखी सावंत
१३ बिपाशा बासु और जॉन एब्राहम
१४ ऋषि कपूर, राजीव कपूर और रंधीर कपूर
१५ रिचर्ड गियर
१६ एकता कपूर, राम कपूर, रॉनित रॉय और हितेन तेजवानी
१७ शिल्पा शेटी और शमिता शेटी
१८ प्रीति ज़िंटा और बॉबी देओल
१९ माधुरी दीक्षित
२० अनिल कपूर और अक्षय खन्ना
२१ हिमेश रेशम्मिया
२२ लारा दत्ता और कट्रीना कैफ
२३ जावेद अख्तर और शबाना आज़्मी
२४ फराह खान और शाह्ररुख खान
२५ विशेष पुरस्कार्
२६ कॉफ़ी पुरस्कार्

सन्दर्भ[संपादित करें]